आपकी आंखों की रोशनी और अच्छी नींद में फायदेमंद है खजूर के पेड़ का अंदरूनी भाग, जानें अन्य फायदे

भारत में हार्ट ऑफ पाम को खजूर के पेड़ का अंदरूनी भाग के रूप में जानते हैं, जिसे शाकाहारी लोगों का मांस भी कहा जाता है।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Jan 31, 2020Updated at: Jan 31, 2020
आपकी आंखों की रोशनी और अच्छी नींद में फायदेमंद है खजूर के पेड़ का अंदरूनी भाग, जानें अन्य फायदे

खजूर के पेड़ों के अंदरूनी भाग से हार्ट ऑफ पाम (Heart Of Palm) भी कहा जाता है।  इसमें एक कुरकुरा स्वाद होता है और इसका उपयोग सलाद बनाने के लिए किया जाता है। इसमें कई तरह के स्वास्थ्य लाभ होते हैं। यह अत्यधिक पौष्टिक और आहार फाइबर का एक महत्वपूर्ण स्रोत है। जब खजूर के नए पेड़ को काटा जाता है, तो इसके सफेद आंतरिक कोर को लोग खाने में इस्तेमाल करते हैं। जबकि आमतौर पर इसे सलाद में सबसे अधिक जोड़ा जाता है। इस लोग शाकाहारी मांस के रूप में भी उपयोग किया जा सकता है। इसमें सफेद सा कुछ होता है, जो हल्का सा क्रंची लगता है। हालांकि इसे पकोड़ा बनाकर खाना एक अच्छा आइडिया हो सकता है। आइए जानते हैं इसके फायदों के बारे में।

inside_pakodaheartofpalm

यह अनोखी वेजी कई लाभकारी खनिजों और एंटीऑक्सिडेंट्स के गुणों से भरी हुई है। इनके पोषक तत्वों की बात करें, तो इसमें फैट कम होता हैृ। साथ ही इसमें पोटेशियम, आयरन, तांबा और फास्फोरस जैसे कई खनिज प्रदान भी पाए जाते हैं। 3.5-औंस (100-ग्राम) कच्चे  हार्ट ऑफ पाम में शामिल हैं:

  • कैलोरी: 36
  • प्रोटीन: 4 ग्राम
  • वसा: 1 ग्राम से कम
  • कार्ब्स: 4 ग्राम
  • फाइबर: 4 ग्राम
  • पोटेशियम: दैनिक मूल्य (डीवी) का 38%
  • फास्फोरस: डीवी का 20%
  • कॉपर: डीवी का 70%
  • जिंक: डीवी का 36%

अपने काफी कम कार्ब और फैट के स्तर के कारण, इस वेजी में बहुत कम कैलोरी होती है। इसके अतिरिक्त, यह लोहे, कैल्शियम, मैग्नीशियम और फोलेट सहित कई अन्य पोषक तत्वों की छोटी मात्रा प्रदान करता है। 

inside_saladofpalm

इसे भी पढ़ें : प्रोटीन और कैल्शियम से भरपूर होते हैं ये 3 तरह के मिल्क चीज़, जानें किसमें कितना है न्यूट्रीशन

हार्ट ऑफ पाम के फायदे

  • -हार्ट ऑफ पाम विटामिन K और A से भरपूर होता है, जो स्वस्थ सिर और बालों के लिए आवश्यक है।
  • -इसमें बीटा कैरोटीन की एक एक अच्छा मात्रा होती है, जो दृष्टि में सुधार करने में मदद करता है। 
  • -यह विटामिन बी 6 का एक अच्छा स्रोत भी है, जो नींद के चक्र को विनियमित करने में मदद करता है।
  • - साथ ही साथ हीमोग्लोबिन के उत्पादन में भी शरीर की मदद करता है।
  • -वजन घटाना के लिए ये काफी फायदेमंद है क्योंकि इसमें कैलोरी की मात्रा कम होती है।  
  • -ये फैट रहित होता है, जिसमें लगभग 1 ग्राम प्रोटीन होता है। 

इस पौष्टिक तत्व को चुनना और भंडारण करना

इस चुनते हुए ध्यान रखें कि यह बेदाग और नम हो। उन्हें अपने पकवान में शामिल करने से पहले उन्हें कच्चा बनाने के लिए फ्राई कर लें। आप इसे रेफ्रिजरेटर में दो सप्ताह के लिए स्टोर कर सकते हैं। यह सलाद, बर्गर और सैंडविच के लिए एक बढ़िया विकल्प है।

inside_heartofpalmbenefits

Buy Online: Freshos Palm Heart, 800g, Price:₹ 549.00 FREE Delivery

इसे भी पढ़ें : डॉक्टर स्वाति बाथवाल से जानें प्रोटीन से जुड़े सभी मिथ

कैसे खाया जाता है हार्ट ऑफ पाम ?

हार्ट ऑफ पाम आमतौर पर डिब्बाबंद होता है, हालांकि लोग इसे ताजा खाना ही पसंद करते हैं। अगर आप इसे किसी विशेष बाजार या अपने स्थानीय किराना स्टोर पर नहीं पा सकते हैं, तो इसके लिए ऑनलाइन खरीदारी करें। यह आमतौर पर सलाद में शामिल होता है, हालांकि इसे कई अन्य व्यंजनों में जोड़ा जा सकता है, जैसे कि डिप्स, हलचल-फ्राइज़, और केविच - एक दक्षिण अमेरिकी व्यंजन जो समुद्री भोजन से बना है।

वहीं आप इससे ग्रील्ड सैंडविच भी बना सकते हैं। शाकाहारी लोग अक्सर इसे मांस या समुद्री भोजन के विकल्प के रूप में देखते हैं, क्योंकि यह एक समान बनावट प्रदान करता है। इसे खाने में आप इन तरीकों से शोमिल कर सकते हैं-

  • -सलाद बनाएं।
  • -बर्गर और सैंडविच में इस्तेमाल करें।
  • -मछली की तरह उसी के मसाले में आप इस भून कर खा सकते हैं।
  • -पकोड़े बना सकते हैं। 

कीटो डाइट (Keto Diet) फॉलो करने वाले के लिए अच्छा ऑप्शन

इसकी कम कार्ब सामग्री को ध्यान में रखते हुए ये कीटो डाइट फॉलो करने वाले लोगों के लिए भी एक बेहतर उपाय है। यह कम कार्ब, उच्च वसा वाला उतनी ही ऊर्जा देता है जितना कि कीटो डाइट की बाकी चीजें। इस सब्जी की एक सामान्य 2-औंस (60-ग्राम) की सेवा लगभग 2 ग्राम कार्ब्स प्रदान करती है। कीटो आहार के रूप में आम तौर पर प्रति दिन 50 ग्राम तक कार्ब सेवन को प्रतिबंधित करता है, ये आपको दैनिक रूप से कार्ब का 4% ही देता है।

Read more articles on Healthy-Diet in Hindi

Disclaimer