Tips To Cope With Divorce Trauma: तलाक के बाद ट्रॉमा से निकलने में मदद करेंगे ये 5 तरीके

अगर आप या आपका कोई दोस्‍त तलाक होने के ट्रॉमा से गुजर रहा है, तो यहां इससे निपटने के लिए कुछ टिप्‍स हैं।

Sheetal Bisht
Written by: Sheetal BishtPublished at: Nov 17, 2020Updated at: Nov 17, 2020
Tips To Cope With Divorce Trauma: तलाक के बाद ट्रॉमा से निकलने में मदद करेंगे ये 5 तरीके

शादी एक व्‍यक्ति के जीवन के अहम फैसलों में से एक है, जो दो लोंगों की जिंदगी को बदल सकता है। यदि आप इस शादी को प्‍यार, ईमानदारी और समझदारी के साथ निभाते हैं, तो यह रिश्‍ता खुब फलता-फूलता है। लेकिन वहीं अगर इस रिश्‍ते को दो लोगों में से कोई एक भी निभाने में असफल रहता है, तो बात तलाक तक पहुंच सकती है। देखा जाए, तो आजकल तलाश की घटनाएं काफी आम होती जा रही हैं। ऐसा किसी के साथ भी हो सकता है। जब दो लोगों को एक साथ, एक रिश्‍ते में रहना मुश्किल लगने लगता है, तो वह अलग होने का फैसला ले लेते हैं। एक असफल शादी या तलाक एक व्यक्ति को शारीरिक और मानसिक रूप से प्रभावित करता है। ऐसे में बहुत से लोग तलाक होने के बाद ट्रॉमा से गुजरते हैं, जिससे निकलने कई बार किसी को कई महीने लग सकते हैं। ऐसे में तलाक के ट्रॉमा से कैसे निकलें, आइए यहां इससे निपटने के कुछ तरीके दिए गए हैं।

after divorce

तलाक के ट्रॉमा से कैसे निपटें?

यहां हम आपको तलाक के बाद के ट्रॉमा से निकलने या उबरने के कुछ तरीके बता रहे हैं। इन तरीकों से किसी व्‍यक्ति को तलाक के बाद होने वाले तनाव को कम करने में भी मदद मिलेगी।

इसे भी पढ़ें: पति-पत्‍नी की अनबन और तलाक होने पर इन 4 तरीकों से रखें बच्‍चों का ख्‍याल ताकि न हो उनका भविष्य खराब

खुश रहने के तरीके ढ़ूंढें

हम सभी जानते हैं कि तलाक लेना या देना कोई छोटी बात नहीं है। हालाँकि तलाक आपकी शारीरिक और मानसिक सेहत दोनों को प्रभावित कर सकता है। यह आपके लिए काफी बड़ा दुख हो सकता है, लेकिन ऐसा भी नहीं है, कि आप इससे निकल नहीं सकते। यदि आपका तलाक हुआ है, तो आप खुद को इस ट्रॉमा से निकालने के लिए खुश रहने के तरीके ढ़ूंढें। आप ऐसे लोगों से बातचीत करें, जिनसे बातचीत करके आपको खुशी मिले। इसके अलावा, सकारात्‍मक सोचें और सकारात्‍मक बोलने और सोचने वाले लोगों के साथ समय बिताएं। तलाक का मतलब यह नहीं है कि आप खुद को बाहरी दुनिया से अलग कर लें।

पास्‍ट को भूलने की कोशिश करें

आप हमेशा कोशिश करें कि आप अपने पास्‍ट के बारे में सोचने या उसे कुरेदने के बजाय, चीजों को भूल जाएं। वह सब कुछ जिस पर आपको पछतावा है, उससे आगे निकलें और खुद को या अपने पास्‍ट को ना कोंसें। ऐसा इसलिए क्‍योंकि यह चीजें आप जितना अधिक सोचेंगे, यह आपको उतनी ही परेशान करेंगी। इतना ही नहीं, ऐसा करने से यह आपको ट्रॉमा में डालने के लिए जिम्‍मेदार हो सकता है।

इसे भी पढ़ें: तलाकशुदा को डेट करने से पहले जरूर पूछें ये 5 बातें, बाद में नहीं होंगे झगड़े

दोस्‍तों और परिवार के साथ बाहर जाएं

आप जितना ज्‍यादा समय अकेले रहेंगे, आप उतना अधिक परेशान होते रहेंगे। इसलिए आप कोशिश करें कि अपने परिवार और दोस्‍तों के साथ समय बिताएं और बाहर घूमने जाएं। आपका ऐसा करने से आप पुरानी बुरी यादों और चीजों को भुला पाएंगे। इसके अलावा, यह आपके मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य को भी बढ़ावा देगा। आपको तलाक के बाद के ट्रॉमा से निकलने में जितनी मदद आपके दोस्‍त या परिवार के लोग कर सकते हैं, उतना कोई और नहीं कर सकता है। इसके अलावा, आप कोशिश करें कि तलाक के बारे बात करने से बचें।  

forget your past

पालतू जानवर रखें

कहते हैं घर में पालतू जानवर आपके परिवार के सदस्‍य जैसा ही होता है। यदि आपका तलाक हुआ है और आप अकेले रहते हैं, तो इस स्थिति में पालतू जानवर रखना बहुत अच्‍छा विचार है। ऐसा इसलिए क्‍योंकि यह आपको व्‍यस्त रखता है और आपके तनाव को कम करने में मदद करता है। इसलिए आप तलाक के बाद के ट्रॉमा को कम करने के लिए पालतू जानवर के साथ ज्‍यादा से ज्‍यादा समय बिता सकते हैं।

नकारात्मक सलाह से दूर रहें

आप अपने तलाक के बाद अपने बच्चों की सुरक्षा के लिए एक आउट-ऑफ-कोर्ट कस्‍टडी के लिए प्रयास करें। यह न केवल आप दोनों के बीच नफरत और तनाव को कम करेगा, बल्कि बच्चों के बेहतर भविष्य को भी सुनिश्चित करेगा। इसके अलावा, आप कोशिश करें कि आप हमेशा नकारात्‍मक बातों या सलाह से बचने की कोशिश करें।

इस तरह तलाक लेना कोई आसान काम नहीं और ना ही मुसीबत से मुक्त होना है। इसके लिए आपको शारीरिक और मानसिक रूप से भी मजबूत बनना पड़ता है। ऐसा इसलिए क्‍योंकि तलाक की प्रक्रिया का दोनों ही लोगों के मानसिक स्वास्थ्य पर बुरा असर हो सकता है।

Read More Article On Marriage Tips In Hindi  

Disclaimer