Kids Vayu & Corona: कोरोना को हराना है तो अपने बच्चों को दें 'सुपरहीरो वायु' अवतार, जानें कौन है सुपरहीरो वायु

Kids Vayu & Corona: कोरोना को रोकेगा सुपरहीरो वायु, बनाएं अपने बच्चों को भी कोरोना से लड़ने वाला सुपरहीरो। 

 

Jitendra Gupta
Written by: Jitendra GuptaPublished at: Mar 18, 2020
Kids Vayu & Corona: कोरोना को हराना है तो अपने बच्चों को दें 'सुपरहीरो वायु' अवतार, जानें कौन है सुपरहीरो वायु

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने देश में कोरोनावायरस को फैलने से रोकने के मकसद से एक कॉमिक बुक रिलीज की है, जिसमें लोगों को कोरोना के बारे में जुड़ी जानकारियां दी गई हैं। इस कॉमिक में बच्चों को कोरोनावायरस से लड़के लिए सुपरहीरो बनने के लिए प्रेरित किया गया है। 'किड्स, वायु एंड कोरोनावायरस' नाम की इस कॉमिक बुक में वायु नाम के सुपरहीरो को दर्शाया गया है, जो जन स्वास्थ्य और पर्यावरण के लिए काम करता है। वहीं कॉमिक में कोरोना को विलेन दिखाया गया है, जो कि एक बहुत तेजी से फैलता वायरस है और उसे कंट्रोल किए जाने की जरूरत है।

कौन है 'सुपरहीरो वायु' 

गरदनी और टाइ पहने सुपरहीरो वायु एक ऐसा लड़का है, जो हिमालय में रहता है। अपनी तलवार के साथ वायु कोरोनावायरस से लड़ता है और इस वायरस को हराने के मकसद से बच्चों को स्वच्छता के बारे में शिक्षित करता है। इस कॉमिक में वायु कोरोना को फैलाने से बचने के लिए बच्चों को हाथ धोने, दूरी बनाएं रखने और हाथ जोड़कर पारंपरिक रूप से नमस्कार करने के बारे में बताता हुआ दिखाई दे रहा है।

superhero

चंडीगढ़ और पंजाब के छात्रों ने बनाई है कॉमिक

चंडीगढ़ के स्कूलों और पंजाब यूनिवर्सिटी के छात्रों ने मिलकर नेशनल सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल और विश्व स्वास्थ्य संगठन के समर्थन से ये कॉमिक बनाई है। यह कॉमिक कोरोना वायरस को लेकर बच्चों को जागरूक बनाने और संक्रमण की रोकथाम के लिए तैयार की गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक ट्वीट में इस कॉमिक बुक किड्स, वायु और कोरोना : कौन लड़ाई जीतता है? के बारे में भी जानकारी दी है। साथ ही ये भी बताया है कि इस कॉमिक से कोविड-19 की जानकारी बच्चों को आसान तरीके से मिलेगी। स्वास्थ्य मंत्रालय ने इस कॉमिक्स का विभिन्न भारतीय भाषाओं में भी अनुवाद करने की योजना बनाई है और जल्द ही इसे अन्य भाषाओं जैसे हिंदी और पंजाबी में भी जारी किया जाएगा।

superherovayu

इसे भी पढ़ेंः साइंस ने माना सैनिटाइजर के बजाए साबुन का इस्तेमाल है कोरोना से बचाव का सबसे सही तरीका, जानें क्यों

22 पेज की कॉमिक है Kids Vayu & Corona

Kids Vayu & Corona कॉमिक बुक में पृष्ठों की संख्या 22 है, जिसमें पहले से लेकर अंतिम पेज तक कार्टून चित्र के माध्यम से कोरोना की रोकथाम के बारे में कहानी को बताया गया है। इस कॉमिक के माध्यम से बच्चों में कोरोना वायरस के डर को दूर करने की भी जानकारी दी गई है। इसके साथ ही कॉमिक में कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के उपायों के बारे में भी बताया गया है। इसके अलावा संक्रमण से बचाव के लिए कौन-कौन सी सावधानियां बरती जाएं इसके बारे में  भी जानकारी मुहैया कराई गई है।

superhero

9वीं से 12वीं कक्षा के बच्चों को किया जा रहा जागरूक

स्वास्थ्य मंत्रालय की इस पहल के बाद सीबीएसई ने नौवीं से 12वीं तक के बच्चों को कोरोनावायरस से जागरूक बनाने के लिए सभी जरूरी दिशा-निर्देश जारी किए हैं। इस कॉमिक के अंत में बुक को तैयार करने वालों प्रोफेसर और सहयोगियों के नाम भी दिए गए हैं।

देश-दुनिया में कोरोना की दहशत 

भारत में पैर पसारते कोरोना की दहशत बच्चों से लेकर बुजुर्गों में है। देश में अब तक कोरोना के 130 मामलों की पुष्टि हो चुकी है और 3 लोग अब तक इस वायरस की चपेट में आने के बाद अपनी जान गंवा चुके हैं।  कोरोना के बढ़ते प्रकोप के कारण कई राज्यों में स्कूल व कॉलेजों को बंद कर दिया गया है और लोगों से पर्याप्त सावधानी बरतने को कहा गया है। इसके साथ ही राज्य सरकार के आदेशों के बाद स्कूलों में अवकाश घोषित कर दिए गए हैं और परीक्षाएं भी स्थगित कर दी गई हैं। वहीं सीबीएसई ने स्कूलों के प्रधानाचार्यों को कॉमिक बुक प्रत्येक स्कूली बच्चे तक पहुंचाने का आदेश दिया है।

इसे भी पढ़ेंः कोरोना से मिलते-जुलते हैं निमोनिया के लक्षण पहचानने में न करें भूल, इन जांच से पता लगाएं कोरोना है या निमोनिया

कोराना वायरस के लक्षण

पीड़ित को सांस लेने में काफी दिक्कत होना।

गले में दर्द रहना।

जुकाम।

खांसी।

सिर दर्द।

नाक बहना, कफ और बुखार ।

Read More Articles On Coronavirus In Hindi

Disclaimer