Doctor Verified

डायबिटीज में पनीर खाना चाहिए या नहीं? एक्सपर्ट से जानें इसके फायदे, नुकसान और सावधानियां

डायबिटीज के मरीज बिना किसी फ्रिक के पनीर का सेवन कर सकते हैं। लेकिन इसके सेवन को लेकर आपको ये सावधानियां जरूर बरतें। 

Dipti Kumari
Written by: Dipti KumariPublished at: May 06, 2022Updated at: May 07, 2022
डायबिटीज में पनीर खाना चाहिए या नहीं? एक्सपर्ट से जानें इसके फायदे, नुकसान और सावधानियां

अपने शरीर को स्वस्थ रखने के लिए सही भोजन पर्याप्त मात्रा में लेना बहुत जरूरी है। यह नियम डायबिटीज के रोगियों के लिए और महत्वपूर्ण हो जाता है कि आप जिस भी चीज का सेवन करें। उसके बारे में अपने एक्सपर्ट से सही सलाह जरूर लें। पनीर के बारे में आमतौर पर यह धारणा होती है कि डायबिटीज के मरीजों को पनीर का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि इससे शुगर लेवल बढ़ने की आंशका होती है लेकिन हम आपको बताते दें कि आप डायबिटीज की समस्या में भी पनीर का सेवन कर सकते हैं। शाकाहारी लोगों के लिए यह काफी फायदेमंद होता है। इसका सेवन आप कई तरह से कर सकते हैं। हालांकि आपको इस दौरान कुछ सावधानियां भी बरतनी चाहिए। इसके बारे में हमने विस्तार से बात की डाइट क्लीनिक और डॉक्टर हब क्लीनिक की डायटीशियन अर्चना बत्रा से।  

क्या डायबिटीज के मरीज पनीर खा सकते हैं?

आप पनीर को अपनी डाइट में बिना किसी फ्रिक के शामिल कर सकते हैं। यह एक स्वास्थयवर्धक आहार है और रक्त में शुगर के स्तर को भी नहीं बढ़ाता है। पनीर एक डेयरी उत्पाद है, जिसमें प्रोटीन, वसा, कैल्शियम और कई प्रकार के खनिज पाए जाते हैं। ये पोषक तत्व स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद और डायबिटीज के रोगियों के लिए भी लाभकारी हो सकते हैं। यह टाइप 2 डायबिटीज के मरीजों के लिए भी अच्छा होता है। इसे शाम के स्नैक्स में भी शामिल किया जा सकता है। दरअसल शरीर में पनीर का पाचन धीरे-धीरे होता है। इसलिए पाचन तंत्र पर इसका गलत प्रभाव नहीं पड़ता है बल्कि धीमी गति से पाचन के कारण रक्त में शुगर का स्तर नहीं बढ़ता है और यह डायबिटीज के जोखिमों को कम कर सकता है। नियमित तौर पर संतुलित मात्रा में पनीर का सेवन करने से यह वजन घटाने और डाइट के लिए काफी अच्छा होता है। इसके अलावा आप चाहे तो अपने शुगर लेवल की जांच के बाद पनीर का सेवन करें और इसके बाद फिर से शुगर लेवल की जांच करें। इससे आपको पनीर खाने के पहले और बाद का अंतर समझ आ जाएगा और आप यह आसानी से तय कर पाएंगे कि आपको पनीर अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए। 

paneer-diabetic

Image Credit- Freepik

पनीर का ग्लाइसेमिक इंडेक्स क्या है?

ग्लाइसेमिक इंडेक्स किसी खाद्य पदार्थ में मौजूद शुगर की मात्रा को बता सकता है। पनीर का ग्लाइसेमिक इंडेक्स काफी कम होता है। पनीर में पाए जाने वाला कार्बोहाइड्रेट भी काफी फायदेमंद होता है। डायबिटीज के रोगियों को 100 ग्राम से अधिक पनीर का सेवन नहीं करना चाहिए। साथ ही आपको रोजाना भी इसके सेवन का प्रयास नहीं करना चाहिए। इससे आपकी समस्याएं बढ़ सकती हैं। मात्रा को कम रखना ही सुरक्षित होता है। पनीर का सेवन आपको हफ्ते में केवल दो बार करना चाहिए। 

इसे भी पढे़ं- 100 ग्राम पनीर रखेगा पूरे दिन एनर्जेटिक और वजन भी होगा कम, जानें घर पर पनीर बनाने का तरीका

paneer-diabetic

Image Credit- Freepik

सावधानियां

1. पनीर को पकाते वक्त भी आपको काफी सावधानी बरतनी चाहिए ताकि आपके लिए ये फायदेमंद हो। इसे पकाते वक्त अधिक तेल या मसाले का इस्तेमाल न करें। बल्कि पनीर नैचुरली सॉफ्ट होती है, तो आप आसानी से इसकी साधारण डिश बना सकते हैं। 

2. अगर पनीर का सेवन करने के बाद आपको कोई परेशानी होती है, तो इसका सेवन तुरंत बंद कर दें। कई लोगों को इससे एलर्जी और अन्य स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं हो सकती है। 

3. इसके अलावा लैक्टोज इंटॉलरेंस वाले लोगों के लिए भी पनीर काफी लाभकारी हो सकता है। 

4. बेहतर होगा कि आप बाजार में मिलने वाले पनीर की तुलना में घर पर ही पनीर बना सकते हैं। ये स्वास्थ्य के लिए काफी लाभदायक हो सकता है। 

Main Image Credit- Freepik

Disclaimer