Easy Diabetes Friendly Breakfast Ideas : सुबह नाश्ते में खाएं लहसुन दिनभर कंट्रोल रहेगा आपका ब्लड शुगर, जानें कैसा हो आपका नाश्ता

नाश्ता दिन का सबसे जरूरी हिस्सा है और यह डायबिटीज के लिए वास्तव में बेहद जरूरी है। हेल्दी लो ग्लाइसेमिक नाश्ता खाने से ब्लड शुगर लेवल पर एक सकरात्मक प्रभाव पड़ता है और शरीर में पूरे दिन इंसुलिन संवेदनशीलता बरकरार रहती है।

Jitendra Gupta
Written by: Jitendra GuptaPublished at: Sep 18, 2019Updated at: Sep 19, 2019
Easy Diabetes Friendly Breakfast Ideas :  सुबह नाश्ते में खाएं लहसुन दिनभर कंट्रोल रहेगा आपका ब्लड शुगर, जानें कैसा हो आपका नाश्ता

जब आपका पैंक्रियाज पर्याप्त इंसुलिन पैदा करने में सक्षम नहीं रहता या फिर आपके सेल इसका प्रतिरोध करते हैं तो हमारे शरीर में ब्लड शुगर स्तर बढ़ जाता है। इस स्थिति को टाइप-2 डायबिटीज कहते हैं। नेशनल सेंटर फॉर कॉम्पलीमेंट्री एंड इंटीग्रेटिव हेल्थ में प्रस्तुत किए गए एक शोध के मुताबिक, लहसुन खाने से ब्लड शुगर लेवल कम रखने में मदद मिलती है। डायबिटीज ही नहीं लहसुन में कई केमिकल गुण होते हैं, जो कई दिक्कतों से लड़ने में मदद करते हैं। लेकिन एलीसन, एलिल प्रोपल डिसल्फाइड और एस-एलिल सिस्टीन सल्फ़ॉक्साइड जैसे गुण लिवर में इंसुलिन की निष्क्रियता को रोककर ब्लड शुगर के स्तर को कम करने में मदद करते हैं, जिससे शरीर में इंसुलिन अधिक मात्रा में उपलब्ध हो सके। बढ़ा हुआ ब्लड शुगर लेवर सिरदर्द, थकान, वजन कम होने और धुंधला दिखाई देने का कारण बन सकता है। लहसुन डायबिटीज के कारण होने वाली कई समस्याओं से भी लड़ने में मदद करता है। यह संक्रमण को दूर करने, बैड कोलेस्ट्रोल लेवल को कम करने और रक्त प्रवाह को बेहतर बनाने में मदद करता है।

डायबिटीज के मरीजों के लिए नाश्ता जरूरी

नाश्ता दिन का सबसे जरूरी हिस्सा है और यह डायबिटीज के लिए वास्तव में बेहद जरूरी है। हेल्दी लो ग्लाइसेमिक नाश्ता खाने से ब्लड शुगर लेवल पर एक सकरात्मक प्रभाव पड़ता है और शरीर में पूरे दिन इंसुलिन संवेदनशीलता बरकरार रहती है। इंसुलिन के अलावा फूड ही एक मात्र कारक है, जो आपके ब्लड शुगर लेवल को बढ़ा सकता है। आपको यह सुनिश्चित करने की जरूरत है कि आप रात भर कुछ न खाने के बाद अपने अगले दिन की शुरुआत एक हेल्दी व पोषक तत्वों से भरी मील के साथ करें। अपने नाश्ते के विकल्प को चुनने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप हर फूड का ग्लाइसेमिक इंडेक्स चेक करें। लहसुन में ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है। एगर आपको डायबिटीज नहीं भी है तो सभी को एक हेल्दी नाश्ता को जरूर करना चाहिए।

अपने नाश्ते में कुछ यूं शामिल करें लहसुन, रहेंगे स्वस्थ

अंडा भुर्जी के साथ लहसुन

कोई व्यक्ति सुबह कई तरीकों से अंडे खा सकता है। लेकिन डायबिटीज के मरीजों को इसमें लहसुन जरूर मिलाना चाहिए। अगर आपको अंडा भुर्जी, ऑमलेट, या फिर हाफ फ्राई खाना पसंद है तो आप इसमें आधा चम्मच लहसुन का पेस्ट मिलाएं और थोड़ी देर तक पकाएं। इसके अलावा आप इसमें लहसुन की हरी पत्तियां भी मिला सकते हैं या फिर हाफ फ्राई के ऊपर छिड़क सकते हैं। ऐसा करने से आपके स्वास्थ्य को कई लाभ मिलेंगे। इतना ही लहसुन अंडों के रंग, और उसके स्वाद को भी बढ़ा देता है।

इसे भी पढ़ेंः 9 महीने तक हल्दी का सेवन डायबिटीज के खतरे को कर देता है बेहद कम, जानें इसके अन्य फायदे

ओट्स और लहसुन

बिना मिठास वाले ओट्स डायबिटीज से पीड़ित मरीजों के लिए एक स्वस्थ नाश्ता है। यह दिन भर शुगर लेवल को बनाए रखता है। अगर आप बिना मिठास वाले इन ओट्स में लहसुन को मिला देते हैं तो यह इसके फायदे को बढ़ा देगा। ओट्स खुद भी ब्लड शुगर को कंट्रोल करने का काम करते हैं। ज्यादा मात्रा में लहसुन खाने से पहले अपने डॉक्टर से बात करें। हालांकि खाने के साथ इसे खाने से कोई दुष्प्रभाव तो नहीं होता लेकिन यह कुछ दवाओं के साथ रिएक्शन जरूर पैदा कर सकता है।

फलों के साथ बादाम

आप उन फलों का सेवन कर सकते हैं जिनमें शुगर की मात्रा कम पाई जाती है। वे आपको दिन के लिए आवश्यक पोषक तत्व प्रदान करेंगे। बादाम का सेवन आपको अतिरिक्त मैग्नीशियम प्रदान करेगा, जो कि मधुमेह रोगियों के लिए अपने  ब्लड शुगर के स्तर को नियंत्रित करने के लिए आवश्यक है। आप अपने नाश्ते में 6-8 बादाम खा सकते हैं।

इसे भी पढ़ेंः 48 ग्राम डार्क चॉकलेट खाकर कम करें टाइप 2 डायबिटीज का खतरा, जानें कैसे फायदेमंद है चॉकलेट

साबुत अनाज सीरियल

आप एक सामान्य नाश्ते का विकल्प जैसे कि सीरियल अपनी डायबिटीज डाइट में शामिल कर सकते हैं। ऐसे सीरियल को तलाशें, जो फाइबर से समृद्ध हो। आप इसमें स्ट्रॉबेरी, आड़ू और ब्लैकबेरी जैसे कुछ कम शुगर वाले फल और दूध भी मिला सकते हैं। हालांकि इस बात का ध्यान रखें कि रिफाइनड ग्रेन का चुनाव न करें क्योंकि ऐसा करने से इनमें मौजूद फाइबर की गुणवत्ता कम हो जाती है।

Read More Articles On Diabetes In Hindi

Disclaimer