खाना खाने के बाद बढ़ने वाले ब्लड शुगर को ऐसे कंट्रोल करें डायबिटीज के मरीज

डायबिटीज के मरीजों में खाना खाने के बाद तुरंत ब्लड शुगर बढ़ना आम है। बढ़ा हुआ ब्लड शुगर अंगों को नुकसान पहुंचा सकता है और जानलेवा हो सकता है। खाने के बाद ब्लड शुगर न बढ़े, इसके लिए खान-पान से जुड़ी इन टिप्स का ध्यान रखें। जानें डायिबटीज में शुगर क

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Jun 10, 2019Updated at: Jun 10, 2019
खाना खाने के बाद बढ़ने वाले ब्लड शुगर को ऐसे कंट्रोल करें डायबिटीज के मरीज

डायबिटीज के मरीजों में खाना खाने के बाद ब्लड शुगर बढ़ना सामान्य है। टाइप-2 डायबिटीज के मरीजों को ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल रखने के लिए अपने खान-पान का विशेष ध्यान रखना पड़ता है। सही खानपान के साथ सही एक्सरसाइज और दवाओं के माध्यम से ही डायबिटीज के दौरान बढ़ने वाले ब्लड शुगर को कंट्रोल किया जा सकता है। मरीज का ब्लड शुगर बढ़ने पर उसे कई तरह के खतरे बढ़ जाते हैं।

खाना खाने के बाद तुरंत के लिए ब्लड शुगर बढ़ता है मगर दवाओं आदि के माध्यम से इसे कंट्रोल करना बहुत जरूरी है। खून में शुगर बढ़ने पर अंगों को नुकसान पहुंच सकता है और कुछ अंग डैमेज भी हो सकते हैं, जो कि एक जानलेवा स्थिति है। अगर 3 दिनों तक लगातार आपका ब्लड शुगर 180mg/dL या इससे ज्यादा हो, तो आपको अपनी जीवनशैली में तुरंत बदलाव करने की जरूरत है।

हेल्दी कार्बोहाइड्रेट्स लें

सभी खाद्य पदार्थों में कार्बोहाइड्रेट्स (कार्ब्स), प्रोटीन और फैट पाया जाता है। आपके ब्लड शुगर को सबसे ज्यादा कार्ब्स बढ़ाते हैं। इसका कारण यह है कि कार्ब्स बहुत जल्दी टूटकर ग्लूकोज में बदल जाते हैं। अगर आप ज्यादा कार्बोहाइड्रेट वाले आहार खा रहे हैं या गलत कार्बोहाइड्रेट वाले आहार खा रहे हैं, तो आपका ब्लड शुगर बढ़ना तय है।

इसलिए जरूरी है कि आप कॉम्पलेक्स कार्ब्स वाले आहार खाएं, जिन्हें टूटने में थोड़ा समय लगता है जैसे- साबुत फल और कच्ची सब्जियां, मोटे अनाज, बीन्स और दाल आदि। ये आहार प्राकृतिक होते हैं और इनमें फाइबर भी भरपूर होता है, इसलिए ये अचानक से आपका ब्लड शुगर नहीं बढ़ाते हैं।

इसे भी पढ़ें:- लाइफस्टाइल में करें ये 3 बदलाव, दूर हो जाएगा टाइप-2 डायबिटीज का खतरा

प्रोटीन और फैट का रखें संतुलन

कार्बोहाइड्रेट को कंट्रोल करने के साथ-साथ आपको यह भी ध्यान रखना है कि आपके शरीर को पर्याप्त प्रोटीन और फैट मिलता रहे। इसलिए आपको बैलेंस्ड डाइट अपनानी चाहिए। इसके लिए-

  • आपके खाने की प्लेट में सबसे ज्यादा मात्रा कम स्टार्च वाली सब्जियां जैसे- पालक, गाजर, टमाटर और हरे पत्ते वाले आहार आदि होने चाहिए।
  • एक चौथाई प्लेट मोटे अनाज से बने और स्टार्च वाले फूड्स खा सकते हैं जैसे- होल ग्रेन नूडल्स, चावल और आलू
  • एक चौथाई प्लेट में प्रोटीन वाले आहार जैसे- दालें, टोफू, चिकन, मछली आदि खा सकते हैं।
  • इसके अलावा रोजाना 250 mL लो फैट दूध पिएं और ताजे फल या आधा कप फ्रूट सलाद खाएं।

नाश्ते में लें ज्यादा प्रोटीन और फाइबर

ऐसा माना जाता है कि प्रोटीन वाले आहारों को खाने का सबसे सही समय सुबह ब्रेकफास्ट का समय होता है। लाइट फैट वाले चीज़ और एग व्हाइट (अंडे का सफेद भाग) प्रोटीन का अच्छा स्रोत होते हैं। इसके अलावा आपको ज्यादा से ज्यादा फाइबर खाना चाहिए। फाइबर एक खास तरह के कार्बोहाइड्रेट्स होते हैं, जो शरीर में जाकर आसानी से टूटते नहीं हैं, इसलिए शुगर लेवल नहीं बढ़ाते हैं। आपको रोजाना 20-35 ग्राम फाइबर का सेवन करना चाहिए। फाइबर के लिए छिलके सहित कच्चे फल और सब्जियां खाएं और मोटे अनाज खाएं।

इसे भी पढ़ें:- सोनम कपूर भी हैं डायबिटीज का शिकार, जानें ब्लड शुगर कंट्रोल करके कैसे रह सकते हैं आप स्वस्थ

डायबिटीज को कंट्रोल करने के लिए अन्य टिप्स

  • स्नैक्स में नट्स खाएं। नट्स में काजू, बादाम, पिस्ता आदि का सेवन कर सकते हैं।
  • बाजार में मिलने वाले शुगर फ्री उत्पादों को सावधानी से चुनें। कई बार आपका प्रोडक्टस शुगर फ्री हो सकता है, मगर उसमें कार्बोहाइड्रेट की मात्रा भरपूर होती है, जिससे वो शुगर को बढ़ा सकता है।
  • ज्यादा से ज्यादा पानी पिएं।
  • शराब और धूम्रपान का सेवन बिल्कुल न करें।
Read More Articles On Diabetes in Hindi




Disclaimer