अपने पार्टनर के सामने झूठ कबूलने के दौरान इन बातों का जरूर रखें ख्याल, रिश्तों में नहीं आएगी दरार

अगर आप भी अपने पार्टनर के सामने झूठ कबूल जा रहे हैं तो इन बातों का जरूर रखें ख्याल, आपके रिश्तों में नहीं आएगी दरार। 

 

Vishal Singh
डेटिंग टिप्सWritten by: Vishal SinghPublished at: Mar 22, 2020Updated at: Mar 22, 2020
अपने पार्टनर के सामने झूठ कबूलने के दौरान इन बातों का जरूर रखें ख्याल, रिश्तों में नहीं आएगी दरार

एक बेहतर रिलेशनशिप को चलाने के लिए कई चीजों का ख्याल रखना बहुत ही जरूरी होता है। कई बार पार्टनर्स के बीच में ऐसी स्थिति भी आ जाती है जब उन्हें अपने साथी से झूठ भी बोलना पड़ जाता है जिससे की उनके रिश्ते में किसी भी तरह की कोई दरार न आए। ऐसा आपने भी कई बार देखा होगा कि लोग अपने पार्टनर को नराज न करने के लिए छोटे-मोटे झूठ बोल ही देते हैं लेकिन समय आने पर उन्हें बता भी देते हैं। पार्टनर को अपने झूठ कबूलने के बाद जरूरी नहीं कि आपका साथी इससे नराज न हो। हो सकता है वो आपसे नराज भी हो जाए या गुस्सा करें। 

पार्टनर को पूरा प्यार देना और उनकी केयर करने के अलावा रिलेशन में कई और चीजें भी होती है जिनका किरदार बहुत ही जरूरी और अहम होता है। इसलिए लोग अपने रिश्तों में कटास न आने के कारण कुछ झूठ बोल देते हैं। लेकिन पार्टनर को इस बारे में पता चलने के बाद नराजगी आती है या फिर प्यार ये पार्टनर पर निर्भर करता है। आप अपने आप पार्टनर से झूठ कबूलने से पहले कुछ चीजों को जरूर अपने ध्यान में रखें जिससे की आपका पार्टनर ज्यादा नराज न हो। आइए जानते हैं कि आप किन चीजों को ध्यान में रखकर पार्टनर को नराज होने से रोक सकते हैं। 

ईमानदारी से झूठ को स्वीकार करें

अगर आप अपने किसी के साथ रिश्ते में हैं तो जरूरी नहीं कि चीजें बिलकुल सही चलें, कई बार कुछ गलतियों के कारण रिश्तों में लड़ाई-झगड़े भी होते हैं और हो सकता है आपका कोई झूठ भी सामने आ जाए। भले ही आपने वो झूठ रिश्तों को बेहतर बनाने के लिए ही कहा हो। कभी भी यह अनुमान नहीं लगाया जाना चाहिए कि आपका साथी आपको समझ नहीं रहा है। यदि आप अपने झूठ को स्वीकार करते हुए सच्चे और ईमानदार हैं, तो हो सकता है कि आपका साथी आपको कम से कम समझने की कोशिश जरूर करेगा। 

जब आपने अपने साथी को सैकड़ों झूठ बोले हों, तो कोई ऐसा व्यक्ति, जिस पर हमेशा आपका भरोसा रहा हो, उनकी ओर से प्रतिक्रिया हो सकती है। वे नाराज हो सकते हैं और आपसे लड़ भी सकते हैं। उस समय आप अपने पार्टनर को शांत कर उन्हें समझाने की कोशिश करें। 

इसे भी पढ़ें: डेट पर जाने से पहले क्या आपको भी होती है एंग्जायटी? जानें डेटिंग एंग्जायटी को कम करने के खास टिप्स 

अपने झूठ के लिए किसी दूसरे को न बनाएं दोषी

अक्सर लोग अपने झूठ को लेकर किसी दूसरे का सहारा लेते हैं और अपने झूठ को उनके सिर रख देते हैं। अपने झूठ के लिए किसी और को दोष देना बहुत आसान और स्वाभाविक है। स्थितियों आदि को आपके झूठ के लिए दोषी ठहराया जा सकता है। यदि आपके पास ऐसा करने के लिए आपके कारण थे, तो भी इसे दूसरों पर डालना अच्छा नहीं है। यदि आप झूठ बोलने की हिम्मत करते हैं, तो आपको उन्हें कबूलने की भी हिम्मत होनी चाहिए। जिससे की आपका पार्टनर आप पर फिर से भरोसा कर सके। 

इसे भी पढ़ें: काम का तनाव खराब कर सकता है आपकी लव-लाइफ, ये 4 टिप्स करेंगे आपकी मदद

भोरास दिलाएं

आप या फिर कोई भी जब झूठ बोलता है या गलती करता है, तो वह अक्सर इसके दुख से बचने के लिए खुद को पीड़ित करने के लिए मजबूर करता है। खुद को पीड़ित करना एक बहुत आसान काम है और आपका साथी आपको अपने झूठ के लिए क्षमा भी कर सकता है। लेकिन यह आपके रिश्ते के लिए सही तरीका नहीं है। खुद को पीड़ित करने के बजाय, अपने झूठ को स्वीकार करें,  अपना समय लें और अपने रिश्ते में भरोसा पैदा करने की कोशिश करें। 

Read more articles on Dating-Tips in Hindi

Disclaimer