डेट पर जाने से पहले क्या आपको भी होती है एंग्जायटी? जानें डेटिंग एंग्जायटी को कम करने के खास टिप्स

एंग्जायटी हर किसी के लिए अलग हो सकती है। कुछ लोगों को इससे पेट में ऐंठन होती है, तो कुछ की दिल के धड़कने तेज हो जाती हैं।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariUpdated at: Mar 19, 2020 15:18 IST
डेट पर जाने से पहले क्या आपको भी होती है एंग्जायटी? जानें डेटिंग एंग्जायटी को कम करने के खास टिप्स

प्यार किसी के भी जिंदगी का एक खूबसूरत फेज होता है। वहीं जब इसकी शुरुआत हो रही होती है, तो ये दो लोगों के बीच का अजीब पर खूबसूरत लम्हा भी हो सकता है। खासकर जब बात पहली बार मिलने या डेट पर जाने की आती है। डेट पर जाने से पहले, ज्यादातर लोगों के पेट में तितलियों के उड़ने जैसी अजीब से फिलिंग्स महसूस होती है। ये फिलिंग्स लगभग सभी के लिए स्वाभाविक है। पर साइंस की भाषा में इसे डेंटिंग एंग्जायटी (Dating Anxiety) कहा जाता है। ऐसे में आप खुद को उस व्यक्ति के बारे में सोचते हुए पा सकते हैं, जिसने आपको पहली बार मिलने बुलाया और आपको उससे प्यार करते हैं पर जानते नहीं कि आगे क्या होगा। वहीं ये उन लोगों में ज्यादा गंभीर नजर आती है, जो हर बार हिम्मत करके डेट प्लान करते हैं और फिर उसे कैंसिल करते हैं। यह एक वास्तविक समस्या है जो दुनिया भर में कई लोगों को परेशान करती है। आइए विस्तार से जानते हैं इस समस्या के बारे में और कैसे हम इस डेटिंग एंग्जायटी से निजात पा सकते हैं।

insidedatingtips

क्यों होती है डेटिंग से पहले एंग्जायटी?

डेटिंग को लेकर चिंता और जिज्ञासा

अक्सर, अज्ञात लोगों से मिलना और अपरिचित अनुभव का सामना करना उत्सुकता और चिंता दोनों पैदा करती है। जिज्ञासु क्योंकि वे व्यक्तिगत विकास के अवसरों की तलाश करना चाहते हैं, और चिंतित हैं क्योंकि उन्हें लगता है कि वे अपनी भावनाओं को नियंत्रण में नहीं रख पा रहे हैं। इससे उन्हें डर भी लग सकता है।  विशेषज्ञों का कहना है कि यह महत्वपूर्ण है कि लोग इन भावनाओं में से किसी एक पर भी ज्यादा ध्यान केंद्रित न करें। वहीं सभी चीजें अच्छी ही होंगी ऐसी बातों पर ध्यान दें।

इसे भी पढ़ें: इन 3 सीक्रेट टिप्स से जानें कोई लड़की आपके साथ फ्लर्ट कर रही है या नहीं?

मिलने के स्थान को लेकर

यह संभव है कि मिलने का स्थान आपको भी परेशान कर सकता है। अगर आप यह एक ऐसी जगह है जहां आप पहले कभी नहीं आए हैं, तो आप विनम्रता से अपनी डेट प्लेस के बारे में पूछ सकते हैं और स्थल को उस स्थान पर बदल सकते हैं जिससे आप अधिक परिचित हैं। यह कुछ चिंता को दूर कर सकता है। साथ ही साथ आप एक दोस्त को भी साथ ला सकते हैं और एक दूसरी डेट पर जोर दे सकते हैं, अगर यह आपको अधिक आराम का अनुभव कराता है तो।

insidetipsfordating

डेट पर ज्यादा फोकस करना

जितना जरूरी आपके लिए एक खुला दिमाग रखना है, उतना ही जरूरी यह भी है कि आप अपनी डेट पर ज्यादा फोकस न करें। वहीं आप दूसर चीजों पर ध्यान दें। आप उनके बारे में और अधिक जानने के लिए यहां हैं उनकी पसंद और नापसंद, और मजेदार चीजें जो आप दोनों एक साथ आनंद ले सकते हैं उनके बारे में बात करें। जैसा कि पहले उल्लेख किया गया है, याद रखें कि वे समान रूप से घबरा सकते हैं इसलिए ज्यादा से ज्यादा सहज होने की कोशिश करें।

इसे भी पढ़ें: लॉन्ग डिस्टेंस रिलेशनशिप में मुश्किल हो कमिटेड रहना, तो अपनाएं ये 5 खास टिप्स

डेटिंग एंग्जायटी से बचने का तरीका

  • - जीवन के नकारात्मकताओं और पिछले बातों को डेट पर जाने से पहले न सोचें।
  • -पार्टनर को ये समझाने की कोशिश न करें कि उन्हें किसी चीज से डरना क्यों नहीं चाहिए, बल्कि सहज हो और सामने वाले को सहज होने का मौका दें।
  • -यह समझें कि आपका साथी अलग-अलग कारणों से रिश्ते को लेकर चिंतित हो सकता है।
  • -सब कुछ व्यक्तिगत रूप से न लें और अच्छा सोचें।
  • -थोड़ा वक्त लें और शांत रहने की कोशिश करें।
  • -पार्टनर के साथ सीधे बात करें।
  • -सामने वाले की बात पहले पूरी सुनें, उन्हें मौका दें और उन्हें जज न करें।

Read more articles on Dating-Tips in Hindi

Disclaimer