Expert

हाइपोथायरायडिज्म में क्या खाना चाहिए? जानें 6 जरूरी पोषक तत्व और इनके स्रोत

Nutrients For Hypothyroidism: हाइपोथायरायडिज्म में कुछ पोषक तत्वों का सेवन थायराइड फंक्शन को बेहतर बनाने और इसके लक्षणों को कम करने में मदद कर सकता है

Vineet Kumar
Written by: Vineet KumarPublished at: Mar 25, 2022Updated at: Mar 25, 2022
हाइपोथायरायडिज्म में क्या खाना चाहिए? जानें 6 जरूरी पोषक तत्व और इनके स्रोत

हाइपोथायरायडिज्म (Hypothyroidism) एक गंभीर स्थिति है। इस स्थिति में शरीर पर्याप्त थायराइड हार्मोन नहीं बनाता है। आपकी थायराइड ग्रंथि (Thyroid Gland) शरीर में कुछ जरूरी हार्मोन्स के उत्पादन के लिए जिम्मेदार होती है, लेकिन हाइपोथायरायडिज्म की स्थिति में आपकी थायराइड ग्रंथि हार्मोन्स का पर्याप्त उत्पादन नहीं करती है। अगर इसे अनुपचारित छोड़ दिया जाता है तो यह गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं जैसे मोटापा, जोड़ों का दर्द, बांझपन और हृदय रोग को जन्म दे सकती है। 

जब हाइपोथायरायडिज्म के उपचार की बात आती है तो थायराइड ग्रंथि के कामकाज को बनाए रखने, हार्मोन के विकास,  कोशिकाओं की मरम्मत और मेटाबॉलिज्म को नियंत्रित रखने के लिए कुछ पोषक तत्वों का सेवन बहुत जरूरी है। अब सवाल यह है कि वे कौन से पोषक तत्व हैं जो हाइपोथायरायडिज्म में जरूरी हैं (Important Nutrients  For Hypothyroidism Hindi) और उन्हें कैसे प्राप्त किया जा सकता है? इस लेख में हम होम्योपैथिक चिकित्सक और लाइफकेयर होम्योपैथिक क्लीनिक की फाउंडर डॉ. कुशा  (Dr. Kusha) से जानेंगे हाइपोथायरायडिज्म में जरूरी पोषक तत्व और उनके खाद्य स्रोतों (Important Nutrients  For Hypothyroidism And Food Sources In Hindi) के बारे में, जिससे कि आप उन्हें डाइट में आसानी से शामिल कर सकें।

हाइपोथायरायडिज्म में जरूरी हैं ये 6 पोषक तत्व (Important Nutrients  For Hypothyroidism And Food Sources In Hindi)

डॉ. कुशा के अनुसार वैसे तो थायराइड के कामकाज को बनाए रखने और उसे स्वस्थ रखने के लिए कई पोषक तत्व महत्वपूर्ण हैं (Important Nutrients  For Hypothyroidism)। लेकिन यहां हम 6 मुख्य पोषक तत्व और उनके खाद्य स्रोतों के बारे में जानेंगे।

1. आयोडीन (Iodine)

आयोडीन एक आवश्यक मिनरल है जो थायराइड हार्मोन बनाने के लिए आवश्यक है। आयोडीन कई फूड्स में भरपूर (Iodine Rich Foods In Hindi) मात्रा में मौजूद होता है जैसे:

  • अंडे
  • दूध
  • आयोडीन नमक
  • दही और पनीर
  • सूखा आलूबुखारा
  • समुद्री भोजन जैसे मछली

2. सेलेनियम (Selenium)

सेलेनियम थायराइड हार्मोन को "सक्रिय" करने में मदद करता है ताकि शरीर द्वारा उनका उपयोग किया जा सके। यह कई फूड्स में मौजूद होता है (Selenium Rich Foods In Hindi) जैसे:

  • नट्स
  • सूरजमुखी के बीज
  • अंडे
  • फलियां
  • ऑट्स
  • मशरूम

3. जिंक (Zinc)

सेलेनियम की तरह, जिंक या जस्ता भी शरीर की थायराइड हार्मोन को "सक्रिय" करने में मदद करता है। जिंक के खाद्य स्रोतों (Zinc Food Source In Hindi) में शामिल हैं:

  • कद्दू के बीज
  • तिल के बीज
  • मूंगफली
  • काजू
  • दूध और दही

4. प्रोटीन (Protein)

ज्यादा प्रोटीन और सैचुरेटेड फैटी एसिड वाले फूड्स खाने से थायराइड फंक्शन बेहतर होता है। हाइपोथायरायडिज्म के लिए प्रोटीन रिच फूड्स (Protein Rich Foods In Hindi) में शामिल हैं:

  • अंडे
  • दूध
  • मछली

5. ओमेगा 3 फैटी एसिड्स (Omega-3 Fatty Acid)

ओमेगा-3 थायराइड फंक्शन का समर्थन करने में मदद कर सकता है। अध्ययनों से पता चला है कि ओमेगा-3 सूजन को कम कर सकता है जिसे थायराइड फंक्शन बेहतर होता है। ओमेगा-3 रिच फूड्स (Omega-3 Fatty Acid Rich Foods In Hindi) में शामिल हैं:

  • अलसी का बीज
  • चिया के बीज
  • बादाम और अखरोट

6. फाइबर (Fibre)

फाइबर हाइपोथायरायडिज्म डाइट का एक आवश्यक पोषक तत्व है क्योंकि हाई फाइबर वाले फूड्स कब्ज में सुधार करते हैं और विशेष रूप से हाइपोथायरायडिज्म के रोगियों में पाचन को बेहतर बनाने में सहायता करते हैं। फाइबर से भरपूर कई खाद्य पदार्थ (Fibre Rich Foods In Hindi) हैं जैसे:

  • जौ
  • जई
  • सूखा आलूबुखारा
  • क्विनोआ
  • हरी सब्जियां

इसे भी पढें: वात, पित्त और कफ दोष (त्रिदोष) को संतुलित करता है आंवले का अचार, एक्सपर्ट से जानें कई अन्य फायदे

हाइपोथायरायडिज्म से पीड़ित लोग अपने आहार में इन खाद्य पदार्थों को शामिल करें। सही पोषक तत्व खाने और उचित उपचार लेने से आपके लक्षणों को कम करने में मदद मिल सकती है। साथ ही थायराइड फंक्शन में सुधार होता है। थायराइड के अनुकूल आहार का फॉलो करने से आपके लक्षणों को कम किया जा सकता है और आपको अपना वजन भी प्रबंधित करने में मदद मिल सकती है।

All Image Source: Freepik.com

Disclaimer