टेनिस बॉल की मदद से पाएं साइटिका के कारण होने वाले कमर और पैर के दर्द में आराम, जानें कैसे

साइटिका के कारण कमर से लेकर पैर के तलवों तक के हिस्से में दर्द हो सकता है। इस दर्द से राहत दिलाने में आपकी मदद कर सकती है टेनिस बॉल (गेंद)।

Monika Agarwal
घरेलू नुस्‍खWritten by: Monika AgarwalPublished at: May 16, 2021
टेनिस बॉल की मदद से पाएं साइटिका के कारण होने वाले कमर और पैर के दर्द में आराम, जानें कैसे

साइटिका का दर्द साइटिका नर्व पर दबाव के कारण होता है। यह दर्द आपके लोअर बैक से शुरू होता है और आपके पैरों तक जाता है। इसके लक्षणों में पैर में दर्द, बैठना या खड़ा होना बिल्कुल असंभव लगना आदि शामिल है। आपको पैरों में सुन्नपन, कमजोरी और झनझनाहट महसूस हो सकती है। लक्षण या तो एकदम से आते है या कुछ समय बाद महसूस होने शुरू होते हैं। साइटिका दबी हुई नस का एक लक्षण होता है। जो आपके कमर के निचले वाले भाग की बहुत सी स्पाइनल नर्व को प्रभावित करता है। किसी क्षति से प्रभावित हुई डिस्क भी आपके इस दर्द का एक कारण हो सकती है या डिस्क और लिगामेंट की समस्या।

यदि आप ओवरवेट हैं, उससे भी आपकी रीढ़ की हड्डी पर अत्यधिक भार पड़ने से दर्द महसूस हो सकता है। यदि शुगर रोगी है तो भी नर्वस सिस्टम को जल्दी क्षति पहुंचती है, या फिर ओस्टियोआर्थराइटिस है तो आप की रीढ़ की हड्डी के जल्दी क्षतिग्रस्त होने की संभावना बढ़ जाती है। इससे भी कमर में दर्द या साइटिका दर्द होता है। यही नहीं यदि आप एक अनहेल्दी लाइफस्टाइल जी रहे हैं या स्मोकिंग करते हैं तो भी आप साइटिका या कमर दर्द के शिकार हो सकते हैं। साथ ही अगर आप स्पाइनल स्टेनोसिस से पीड़ित है तो आपको स्पाइनल कैनाल में एक संकीर्णता महसूस हो सकती है जो कि आपकी रीढ़ की नसों पर भी प्रेशर डालती है।

nerve pain back

टेनिस बॉल थेरेपी (Tennis Ball Therapy)

अगर आप खुद को इस साइटिका पेन (Sciatica pain)  और तकलीफ से राहत दिलाना चाहते हैं तो आप एक टेनिस बॉल लीजिए और किसी ऐसी जगह चुनें जहां आप यह निम्न तकनीक कर पाएं। इसके लिए अच्छा होगा यदि आप एक खुला क्षेत्र या जगह का चुनाव करें। यह तकनीक आपकी कमर दर्द को कम करने में काफी असरदार है। सबसे पहले जमीन पर लेट जाइए और फिर टेनिस बाल को अपनी ग्लूटल मांसपेशी के नीचे रखें जहां आप दर्द का अनुभव कर रही हैं।

इसे भी पढ़ें: साइटिका के दर्द में आराम दिलाएंगे ये 5 योगासन, जानें इनके फायदे और करने का तरीका

अब इसी पैर को ऊपर उठा लें। ताकि आपका दूसरा पैर, कमर और बांह आपको जमीन पर सहारा प्रदान कर सकें। अब धीरे धीरे अपनी मांसपेशियों को इस टेनिस बॉल पर फिसलाएं अर्थात् आपको बॉल के आगे पीछे होना है। अगर आपको दर्द होता है तो आप कुछ समय के लिए रुक जाइए और फिर शुरू करें। अगर अब भी आपको दर्द हो रहा है तो बॉल पर ज्यादा प्रेशर अप्लाई न करें और अगर फिर भी दर्द होता है तो इसे और अधिक न करें।

tennis ball pain relieve

सोयस मसल मसाज (Psoas Release)

इससे अन्य एक्सरसाइज एक सेल्फ मसाज है। सोयस मसल आपकी जांघों और हिप्स को सहारा देती है। इसलिए यह गतिविधि आपके पेट की मसाज करने के साथ साथ आपके कमर दर्द को भी कम करेगी। इसमें अपने घुटनों के बल नीचे जमीन पर बैठ जाइए और टेनिस बॉल को अपने सामने रखिए। अपने आप को धीरे धीरे नीचे की ओर लाइए। अपने वजन को बॉल पर डालें और अपनी बाजुओं द्वारा खुद को ऊपर की ओर ले जाएं। अब पीछे और आगे दिशा में रोल करें। इसी अवस्था में 20 सेकंड तक रहें।

टेनिस बॉल के बिना स्ट्रेचेस करें (Stretches without a ball)

बिना टेनिस बॉल के भी आप कुछ स्ट्रेचिंग के जरिए अपने दर्द को कम कर सकते हैं। ऐसा करने के लिए पहले जमीन पर बैठिये। फिर अपने दाएं घुटने को मोड़ें और अपने हाथ को सीधे अपने घुटने के नीचे रखें। अब अपने पैर पर प्रेशर लगाइए जोकि आपकी लोअर बैक मसल्स को स्ट्रेच करेगा। इस अवस्था में 10 सैकंड रहें और फिर ऐसा ही दूसरे पैर के साथ भी करें। आप कमर के बल सीधा लेट कर भी इस एक्सरसाइज को कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: पीठ, कमर या पैरों में लगातार दर्द हो सकता है साइटिका के लक्षण? जानें कारण और उपचार

अगर आप हर रोज थोड़ी थोड़ी देर टेनिस बॉल थेरेपी लेंगे और उसके बाद कुछ समय के लिए स्ट्रेचिंग करेंगे तो निश्चित ही आपका यह कमर का दर्द कम होने लगेगा और आपको राहत मिलने लगेगी। अगर आपको दर्द होता है या यह एक्सरसाइज नहीं हो पा रही हैं तो आपको एक्सरसाइज बंद कर पहले अपने डॉक्टर से राय लेनी चाहिए। नहीं तो जो आप करना चाहती हैं उसका उल्टा भी हो सकता है। हो सकता है आपको कोई और स्थिति भी साथ में हो जिस कारण यह एक्सरसाइज आप पर काम न करें और आपको आराम देने की बजाए और अधिक दर्द दें। इसलिए आपको यह एक्सरसाइज करने से पहले एक बार डॉक्टर से जरूर बात करनी चाहिए।

Read More Articles on Home Remedies in Hindi

Disclaimer