अंदरूनी चोट को खत्म कर सकता है आटे, घी और हल्दी का लेप, जानें लगाने का तरीका

Chot lagane par haldee ka upayog: भारतीय घरों में कई ऐसे नुस्खे हैं जो सदियों से दर्द और घाव से राहत पाने के लिए इस्तेमाल किए जा रहे हैं।

Ashu Kumar Das
Written by: Ashu Kumar DasUpdated at: Nov 07, 2022 13:39 IST
अंदरूनी चोट को खत्म कर सकता है आटे, घी और हल्दी का लेप, जानें लगाने का तरीका

Home Remedy For Injuries: आजकल की लाइफस्टाइल में हर इंसान बहुत ज्यादा बिजी है। बिजी लाइफ में कभी राह चलते, घर का कामकाज करते हुए, फिसल जाने पर या गिर जाने पर मोच और चोट आना बहुत ही आम है। हल्की-फुलकी चोट और मोच आने पर लोग अक्सर इसे नजर अंदाज कर देते हैं। कई बार चोट लगने वाली जगह पर उन्हें दर्द का एहसास भी होता है तो वो उसे इग्नोर कर देते हैं। 

लोगों को लगता है कि ये बहुत ही आम बात है, लेकिन कई बार अंदरूनी चोट (Internal Injuries) गंभीर दर्द दे सकती है और आपको शारीरिक और दिमागी पर परेशान कर सकती है। अगर आपको भी किसी तरह की अंदरूनी चोट का एहसास होता है तो आज हम आपको बताने जा रहे हैं इसे ठीक करने का एक घरेलू उपाय (Home Remedies) । इस घरेलू उपाय को करने के लिए आपको किचन में मौजूद बेसिक चीजों की जरूरत पड़ेगी। आइए जानते हैं अंदरूनी चोट से राहत पाने का घरेलू उपाय क्या है इसे कैसे किया जा सकता है।

Flour-Ghee-and-Turmeric-Paste-for-injury-t

अंदरूनी चोट खत्म करने के लिए लगाएं आटा, घी और हल्दी - Chot lagane par haldee ghee aur aate ka upayog 

पैर, घुटने, हाथ, उंगली या बाजुओं में अगर आपको किसी प्रकार की चोट, मोच या अंदरूनी घाव का एहसास हो रहा है तो आप गेहूं के आटे, घी और हल्दी के लेप का इस्तेमाल कर सकते हैं। गेहूं के आटे, हल्दी और घी का लेप घाव और मोच को आंतरिक तौर पर ठीक करता है और आपको कुछ ही वक्त में दर्द से आराम मिल सकता है। आइए जानते हैं कैसे बनाया जाता है घी, आटे और हल्दी का लेप।

इसे भी पढ़ेंः क्या प्रदूषण के कारण बाल ज्यादा झड़ने लगते हैं? जानें एक्सपर्ट की राय

घी, आटे और हल्दी का लेप बनाने का तरीका

सामग्री

गेहूं का आटा - 2 चम्मच

देसी घी - 2 चम्मच

हल्दी - 1/2 चम्मच

पानी - आटा गूथने के लिए

नमक - 1 चुटकी

बनाने का तरीका

सबसे पहले गेहूं के आटे पानी में डालकर हल्का गीला गूथ लीजिए। 

अब गेहूं के आटे की एक छोटी और मोटी रोटी बनाएं सी बेल लें।

इस रोटी को उलटे तवे पर हल्का कच्चा हो तभी तक सकें।

फिर इसे पलटें और आधी कच्ची साइड नमक , घी और हल्दी डालें।

इसे रोल की तरह बना लें और गर्म ही रहने दें।

जब ये हल्का गर्म रहे तो इसे उंगली या जिस हिस्से पर दर्द है उस पर धागे की मदद से बांध लें।

अब इस लेप को रातभर दर्द वाले हिस्से पर लगा रहने दें। 

सुबह उठकर लेप हटाएं और हल्के गुनगुने पानी से नहाएं।

1 से 2 बार में आपको दर्द में फर्क महसूस होने लगेगा।

 इसे भी पढ़ेंः सर्दियों में इम्यूनिटी बूस्ट करने के लिए खाएं ये 5 फूड्स, सेहत को मिलेंगे कई फायदे

घी, आटे और हल्दी का लेप लगाते वक्त सावधानियां - Precautions while applying ghee, flour and turmeric paste

घी, आटे और हल्दी के लेप को हमेशा गर्म करके लगाया जाता है। ध्यान रहे कि इसे उतना ही गर्म करें जितना आप बर्दाश्त कर पाएं। कई बार लोग घी, हल्दी और नमक का लेप ज्यादा गर्म कर लेते हैं, जिसकी वजह से उनकी स्किन जल जाती है। इस लेप का स्किन की ऊपरी सतह पर किसी तरह का साइड इफेक्ट न हो इसके लिए इसे हल्का गर्म करके ही लगाएं।

अगर आपको घी, गेहूं के आटे या हल्दी से किसी तरह की एलर्जी है तो इस लेप का इस्तेमाल बिल्कुल न करें। 

ध्यान रहे कि घी, गेहूं के आटे और हल्दी का लेप अंदरूनी चोट या मोच को ठीक करने का एक घरेलू उपाय है। अगर 2 बार से ज्यादा इसका इस्तेमाल करने के बाद आपको दर्द में किसी तरह का फर्क महसूस नहीं होता है तो अपने फिजिशियन या डॉक्टर से संपर्क करें।

Disclaimer