मोच का दर्द दूर करने में मदद करते हैं दूध और फिटकरी, जानें प्रयोग का तरीका

Milk and Alum Remove Sprain Pain: फिटकरी में एंटी-बैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं, जो मोच के दर्द से रिकवरी करने में मदद करते हैं।

Ashu Kumar Das
Written by: Ashu Kumar DasUpdated at: Jan 20, 2023 17:59 IST
मोच का दर्द दूर करने में मदद करते हैं दूध और फिटकरी, जानें प्रयोग का तरीका

Milk and Alum Remove Sprain Pain: सर्दियों के मौसम और कई बार चलते-चलते पैर मुड़ जाने की वजह से पैर में मोच आ जाती है। पैर में मोच आने की वजह से इंसान को असहनीय दर्द का सामना करना पड़ता है। मोच के दर्द की वजह से न सिर्फ दिमाग काम करना बंद कर देता है बल्कि कई बार समझ नहीं आता है कि क्या किया जाए। पैरों की मोच को ठीक करने के लिए कुछ लोग दवाएं लेते हैं, कुछ एक्स रे करवाते हैं और मेडिकल ट्रीटमेंट का सहारा लेते हैं। पैरों की मोच ज्यादा गहरी हो तो मेडिकल ट्रीटमेंट का सहारा लिया जाए तो ठीक है, लेकिन अगर मोच छोटी मोटी हो तो इसे घरेलू नुस्खों से ठीक किया जा सकता है। आज हम आपको पैरों की मोच ठीक करने के लिए आप दूध और फिटकरी (Doodh or Fitkari se Moch ka dard) का इस्तेमाल कर सकते हैं। आइए जानते हैं कैसेः

दूध और फिटकरी दूर करते हैं मोच का दर्द

पैरों में मोच आने पर दर्द ज्यादा हो तो एक गिलास दूध को गर्म कर लें। इस दूध में थोड़ी सी फिटकरी को पीसकर अच्छे से मिला लें। दर्द से राहत पाने के लिए आप दूध और फिटकरी को पी सकते हैं। दूध में कैल्शियम, प्रोटीन जैसे पोषक तत्व जब फिटकरी केसर्दियों के मौसम और कई बार चलते-चलते पैर मुड़ जाने की वजह से पैर में मोच आ जाती है। पैर में मोच आने की वजह से इंसान को असहनीय दर्द का सामना करना पड़ता है। मोच के दर्द की वजह से न सिर्फ दिमाग काम करना बंद कर देता है बल्कि कई बार समझ नहीं आता है कि क्या किया जाए। पैरों की मोच को ठीक करने के लिए कुछ लोग दवाएं लेते हैं, कुछ एक्स रे करवाते हैं और मेडिकल ट्रीटमेंट का सहारा लेते हैं। पैरों की मोच ज्यादा गहरी हो तो मेडिकल ट्रीटमेंट का सहारा लिया जाए तो ठीक है, लेकिन अगर मोच छोटी मोटी हो तो इसे घरेलू नुस्खों से ठीक किया जा सकता है। आज हम आपको पैरों की मोच ठीक करने के लिए आप दूध और फिटकरी (Doodh or Fitkari se Moch ka dard) का इस्तेमाल कर सकते हैं। आइए जानते हैं कैसेः

इसे भी पढ़ेंः सर्दियों में अक्सर रहती है कब्ज की समस्या? इन घरेलू उपायों से पाएं छुटकारा

दूध और फिटकरी दूर करते हैं मोच का दर्द

पैरों में मोच आने पर दर्द ज्यादा हो तो एक गिलास दूध को गर्म कर लें। इस दूध में थोड़ी सी फिटकरी को पीसकर अच्छे से मिला लें। दर्द से राहत पाने के लिए आप दूध और फिटकरी को पी सकते हैं। दूध में कैल्शियम, प्रोटीन जैसे पोषक तत्व जब फिटकरी के एंटी-बैक्टीरियल गुणों से मिलते हैं तो दर्द से राहत दिलाने में मदद करते हैं। फिटकरी के एंटी-बैक्टीरियल गुण चोट को जल्दी भरने में भी मदद करते हैं। 

How to Relieve Sprain Pain with Milk and slum know Benefits in hindi

इसके अलावा आप दूध और फिटकरी का एक गाढ़ा सा घोल तैयार करके उसमें रूई को भिगोकर मोच वाले हिस्से पर सेंक लगाएं। आप चाहें तो दूध और फिटकरी के मिश्रण को रूमाल में भिगोकर मोच के दर्द पर 10 से 15 मिनट तक लगाकर रख सकते हैं। 

इसे भी पढ़ेंः सर्दियों में क्यों होती है बार-बार फूड क्रेविंग, जानें इसके नुकसान

दूध और फिटकरी के अन्य फायदे

पसीने की बदबू रोकने में मददगार

सर्दियों के मौसम में शरीर में पसीने की वजह से बदबू आना बहुत ही आम बात है। पसीने की बदबू से राहत दिलाने में भी दूध और फिटकरी काफी लाभदायक मानी जाती है। पसीने की बदबू खत्म करने के लिए नहाने के पानी में थोड़ा सा दूध और फिटकरी को थोड़ा सा मिला लें। दूध और फिटकरी से मिला पानी में नहाने से  पसीने की बदबू से राहत मिलती है। 

ब्लड क्लॉटिंग रोकने में मददगार

चोट लगने और ऊंचाई की वजह से कई बार ब्लड क्लॉटिंग की समस्या हो जाती है। ब्लड क्लॉटिंग शरीर के किसी हिस्से में खून के जमने की स्थिति है। इसके लिए एक गिलास गुनगुने दूध के साथ आधा छोटा चम्मच फिटकरी पाउडर का सेवन कर सकते हैं। दूध और फिटकरी का सेवन करने से ब्लड क्लॉटिंग की समस्या खत्म हो सकती है।

Pic Credit: Freepik.com

 
Disclaimer