बाजार से खरीदने के बजाय घर पर बनाएं हेल्दी मक्खन, जानें होममेड मक्खन की रेसिपी और सेहत को मिलने वाले 5 फायदे

बाजार के प्रिजर्वेटिव्स वाले मक्खन का सेवन करने से बेहतर है कि होममेड मक्खन का सेवन करें। यहां जानें मक्खन के फायदे और रेसिपी के बारे में।

Kunal Mishra
Written by: Kunal MishraPublished at: Mar 23, 2021Updated at: Mar 23, 2021
बाजार से खरीदने के बजाय घर पर बनाएं हेल्दी मक्खन, जानें होममेड मक्खन की रेसिपी और सेहत को मिलने वाले 5 फायदे

खाने के शौकीन लोग ऐसी ही मक्खन के दीवाने नहीं होते हैं। मक्खन के गुणों को जानने के बाद आप भी इन्हीं शौकीनों की श्रेणी में शामिल हो जाएंगे। पंजाबी घरों में तो सुबह की शुरूआत मक्खन से ही होती है। पराठे हों या ब्रेड मक्खन के बिना खाने का जायका अधूरा सा लगता है। वहीं बहुत से ऐसे लोग भी हैं जो मक्खन को कोलेस्ट्रोल (Cholestrol) और मोटापा (Fat) बढ़ाने का कारण मानकर उससे तौबा करते हैं। लेकिन ऐसा नहीं है समुचित मात्रा में मक्खन का सेवन आपको केवल स्वास्थ्य लाभ ही देंगे। अगर आप होममेड मक्खन (Homemade Butter) का सेवन कर रहे हैं तो यह आपके फायदों को दुगना कर सकता है। मक्खन दूध, दही और मलाई का ही मिश्रण है। यह पूरी तरह से प्राकृतिक है। लो डाइट (Low Diet) और कैलरी (Calorie) बढ़ने के चलते कई लोग इसके स्वाद और फायदों से वंचित रह जाते हैं। मक्खन में विटामिन डी (Vitamin D), के2, विटामिन ए के साथ-साथ कैल्शियम (Calcium) और मिनिरल्स (Minerals) की भी भरपूर मात्रा पाई जाती है। हड्डियों को मजबूती देने के साथ ही यह आपके दिल की सेहत का भी ख्याल रखता है साथ ही कैंसर (Cancer) जैसी गंभीर बीमारी से भी बचाव करता है। मक्खन का सेवन आपकी वात और पित्त जैसी समस्याओं को भी संतुलित करता है। लेकिन इसके भरपूर फायदों का लाभ आप तभी उठा पाएंगे जब आप घर पर बने मक्खन का सेवन करेंगे। बाजार के मक्खनों में प्रिजर्वेटिव्स (Preservatives) का मिश्रण होता है जो आपकी सेहत के लिए अच्छा नहीं है। तो क्यों न घर के बने शुद्ध मक्खन को ही खाया जाए। आइये जानते हैं होममेड मक्खन के फायदे और इसे बनाने की विधि के बारे में। 

होममेड मक्खन के फायदे

वात पित्त को करे संतुलित 

वात और पित्त एक तरह से शरीर को उर्जा देने का कार्य करते हैं। वात और पित्त आपकी कमर के उपर और नीचे के हिस्से में मौजूद रहकर आपकी शरीर को नियंत्रित (Controls your Body) करते हैं। इनका असंतुलित होना आपको क्रोनिक बीमारियों (Chronic Diseases) के घेरे में लाकर खड़ा कर सकता है। वहीं मक्खन मे कुछ ऐसे खास तत्व मौजूद होते हैं जो इन दोनों के संतुलन को सामान्य रखने में आपकी मदद करता है। 

इसे भी पढ़ें - मक्खन, घी या तेल कौन है आपकी सेहत के लिए वरदान? जानें कितनी चम्मच का सेवन आपके स्वास्थ्य को नहीं पहुंचाता नुकस

इम्यूनिटी और वीर्य की गुणवत्ता बढाए (Increases Immunity and Quality of Sperm)

होममेड सफेद मक्खन (Homemade White Butter) मे फॉसफोरस, विटामिन और मैग्नीशियम (Magnesium) के साथ कुछ खास पोषक तत्वों की मौजूदगी आपके इम्यून सिस्टम (Immune System) को मजबूती प्रदान करती है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट्स गुण (Antioxidants) पाए जाते हैं इसलिए इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए एक्सपर्ट्स द्वारा भी सफेद मक्खन खाने की सलाह दी जाती है। वहीं वीर्य की गुणवत्ता (Quality of Sperm) बढ़ाने के लिए भी इसका इस्तेमाल किया जाता है। कैल्शियम वीर्य को गाढ़ा करने के लिए अधिक लाभकारी होता है और मक्खन में अच्छी मात्रा में कैल्शियम पाया जाता है। सीमित मात्रा में मक्खन के सेवन से आपके शुक्राणुओं में भी बढ़त होती है। 

बवासीर से छुटकारा दिलाए (Get rid of Piles)

आयुर्वेद के अनुसार मक्खन में चिकनाई होती है और बवासीर (Piles) और कब्ज (Constipation) में रोगी को तैलीय पदार्थों का सेवन मना होता है। इसलिए मक्खन का प्रयोग करने से आपकी बवासीर में आने वाले खून से निजात मिल सकती है। माना जाता है कि मक्खन में नागकेसर, खड़ी शुगर और तिल आदि डालने से आपकी खूनी बवासीर का भी अस्थाई इलाज हो सकता है। हालांकि दही, छांछ और सूखे अंजीर आदि भी इस समस्या में राहत दिलाता है। 

इसे भी पढ़ें- Mahua Health Benefits: महुआ खाने से डायबिटीज, गठिया और बवासीर से मिलेगा छुटकारा, जानें इसके 6 स्वास्थ्य लाभ

कैंसर को रोकने मे प्रभावी  (Effective in Preventing Cancer)

सुनने में भले ही थोड़ा अजीब लगे कि मक्खन जैसी चीज कैंसर से कैसे लड़ सकती है। लेकिन मक्खन में कॉजगेजेट लिनोलिक एसिड (Conjugated Linoleic Acid) मौजूद होता है जो कैंसर को रोकने में काफी मददगार होता है। यह एसिड कुछ अन्य़ बड़ी बीमारियों को रोकने में भी कारगर है। ऐसे में फेंटा हुआ मक्खन आपके लिए बहुत मददगार साबित हो सकता है। इसलिए भी समुचित मात्रा में मक्खन खाने की सलाह दी जाती है। 

butter

दिल को रखे स्वस्थ (Keep Heart Healthy)

मक्खन आपके दिल का भी साथी है। इसमें मौजूद ओमेगा-3 फैटी एसिड (Omega 3 Fatty Acid) और ओमेगा-6 फैटी एसिड (Omega 6 Fatty Acid) आपके कोलेस्ट्रोल की मात्रा में कमी लाता है। मक्खन में मौजूद आयोडीन (Iodine), सिलेनियम और लीथियम आपको कई प्रकार के हृदय विकारों से बचाता है। समुचित मात्रा मे मक्खन खाना आपके दिल को बिलकुल दुरुस्त रखता है। इसका सेवन आपकी धमनियों में जमा होने वाले खराब कोलेस्ट्रोल को भी कम करता है, जिससे आप स्ट्रोक (Stroke) जैसी बीमारियों से आसानी से बच सकते हैं। 

butter recipe

यहां जानें घर पर मक्खन तैयार करने की रेसिपी 

पहले के समय में मक्खन बनाने की विधि थोड़ी अलग हुआ करती थी। पहले लोग ज्यादातर गाय और भैंस के दूध से ही मक्खन बनाया करते थे। लेकिन शहरों में आज के समय मे गाय और भैंस का दूध मिलना थोड़ा मुश्किल है। इसलिए मक्खन बनाने के लिए लोग फुल क्रीम मिल्क का इस्तेमाल करते हैं। हालांकि इससे बना मक्खन भी आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है।

  • मक्खन बनाने के लिए आप कुछ दिनो तक दूध गरम करकर मलाई को निकालें और फ्रिज में स्टोर करें। 
  • पर्याप्त मात्रा मे मलाई हो जाने पर मलाई को कम से कम 5 घंटे तक फ्रिज से बाहर निकाल दें और सामान्य तापमान में आने का इंतजार करें। 
  • अब मलाई को मिक्सर ग्राइंडर में डालकर कुछ देर तक पीस लें। इसमें मलाई की मात्रा के अनुसार पानी डालें, जिससे मलाई पीसने मे दिक्कत न हो। गर्मी में ठंडा पानी और ठंड में गुनगुना पानी डालें। 
  • मलाई से निकले मठ्ठे को उपर की सतह पर आने के बाद इसे पीसना बंद करें। 
  • मक्खन को किसी बर्तन में निकालकर उसमें बचे मठ्ठे को हाथ से निकालकर मक्खन में ही निचोड़ दें। 
  • लीजिए आपका होममेड मक्खन बनकर तैयार है। 

मक्खन खाना निश्चित रूप से स्वास्थ्य के लिए लाभकारी है। लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि आप समुचित मात्रा में मक्खन का सेवन कर रहे हैं। इस लेख में दी गई रेसिपी का इस्तेमाल करकर आप आसानी से मक्खन बना सकते हैं। 

Read more Articles on Miscellaneus In Hindi

Disclaimer