होली के रंगों से बच्चों की स्किन, बालों और आंखों को सुरक्षित रखने के लिए अपनाएं ये 6 टिप्स

खुशियों से भरे होली के त्यौहार में अपने बच्चे को सुरक्षित रखना बहुत ही जरूरी है। आइए जानते हैं ऐसे टिप्स, जिससे आप अपने बच्चों को रख सकते हैं सुरक्षित

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraPublished at: Mar 27, 2021Updated at: Mar 14, 2022
होली के रंगों से बच्चों की स्किन, बालों और आंखों को सुरक्षित रखने के लिए अपनाएं ये 6 टिप्स

होली का त्यौहार खुशियों और रंगों से भरा होता है। गर्मियों के दिनों में होने वाला यह त्यौहार लोगों के मन में खुशियां भर देता है। इस साल होली 18 मार्च को मनाई जा रही है। इस अवसर पर हम सभी के घरों में मीठे और नमकीन पकवान तैयार किए जाते हैं। साथ ही लोगों के गालों पर लगा रंग चारों को खुशियां बिखेरता है। यह एक ऐसा त्यौहार है, जिसमें बच्चे खूब मस्ती रखते हैं और मस्ती करने के लिए वे अपना प्रोग्राम पहले से सेट करके रखते हैं। बच्चों को रंगों से खेलना काफी ज्यादा पसंद आता है। लेकिन कभी-कभी ये रंग बच्चों को नुकसान पहुंचा सकते हैं। इसलिए बच्चों को रंगों से सुरक्षित रखना बहुत ही जरूरी हैै। अगर आपके आंखों में रंग चला जाए, तो इससे आंखों में जलन और दर्द की शिकायत हो सकती है। साथ ही कुछ बच्चों को कलर से एलर्जी भी होती है। ऐसे में उनकी स्किन, बाल और आंखों का ख्याल रखने के लिए आपको उन्हें पहले से ही इन रंगों से सुरक्षित रखना होगा। आइए जानते हैं कुछ ऐसे टिप्स जिनसे आप बच्चों को होली के रंगों से रख सकते हैं सुरक्षित

1. बच्चों को फुल कपड़े पहनाएं

बच्चों को होली के रंगों से मना करने के बजाय उनका ख्याल रखें। होली खेलने के लिए तैयार करते वक्त उन्हें फुल बाजू के कपड़े पहनाएं। इस दौरान कोशिश करें कि उनका शरीर अधिक से अधिक कपड़ों से ढका रहे। इससे केमिकल्स के रंगों से उनके स्किन पर ज्यादा असर नहीं होगा। इसके अलावा सनबर्न की समस्या से भी दूर रहेंगे। इसके अलावा होली के दिन बच्चों को कॉटन का कपड़ा पहनाएं, क्योंकि कॉटन का कपड़ा हल्का होता है और उन्हें इससे अच्छा महसूस होगा।

2. स्किन और बालों पर लगाएं तेल

होली के रंग से बच्चों की स्किन और बालों को सुरक्षित रखने के लिए तेल सबसे बेस्ट ऑप्शन हो सकता है। बच्चों को होली खेलने से पहले पूरे शरीर में तेल लगाएं। इस दौरान बालों में काफी ज्यादा तेल लगाएं। स्किन और बालों पर तेल लगाने से होली के रंग शरीर और बालों पर चिपकेंगे नहीं। साथ ही इससे उनके स्किन से कलर जल्दी छूट भी जाएंगे। आप उन्हें नारियल, ऑलिव ऑयल या फिर सरसों का तेल लगा सकती हैं। यह तेल उनकी उंगलियों, पैरों, गले और बालों में अच्छी तरह लगाएं।

ध्यान रहे कि उनके पैरों के पंजों पर भी आपको तेल लगाना है। इसके अलावा कान के पीछे, गर्दन के पीछे भी तेल लगाना ना भूलें। तेल से उनके पूरे शरीर की अच्छे से मालिश करें। यह उनके लिए काफी फायदेमंद हो सकता है। साथ ही होली के रंगों से उन्हें किसी तरह की परेशानी नहीं होगी। तेल लगाने से बच्चों के बाल और स्किन सुरक्षित रह सकेंगे।

इसे भी पढ़ें - सेहत की थाली: होली में मालपुआ और खीर कहीं बढ़ा न दे आपका वजन, खाने से पहले जानें इनकी न्यूट्रिशनल वैल्यू

3. होली खेलने के लिए दें हर्बल रंग

कोशिश करें कि बच्चों को होली खेलने के लिए हर्बल रंग ही दें। भले यह रंग थोड़े महंगे हो सकते हैं, लेकिन बच्चों को इससे किसी तरह का कोई नुकसान नहीं होता है। उन्हें हर्बल रंग से होली खेलने के लिए कहें और बताएं कि इससे उनकी स्किन खराब नहीं होगी। ऐसा करने से वे दूसरों के कलर का इस्तेमाल नहीं करेंगे। क्योंकि हो सकता है कि आप भले ही उन्हें हर्बल रंग दें, लेकिन वे अन्य बच्चों के दिए रंग भी लगा सकते हैं। इसलिए हर्बल रंग देने के साथ-साथ उनके फायदों के बारे में बताएं। ताकि वे हर्बल रंग ही इस्तेमाल करें।

4. आंखों को सुरक्षित रखने के लिए पहनाएं काला चश्मा

बड़ों की तुलना में बच्चों की आंखें काफी ज्यादा सेंसिटिव होती हैं। आंखों में केमिकलयुक्त रंग चले जाने पर उन्हें आंखों में इरिटेशन या फिर दर्द की शिकायत हो सकती है। इसलिए कोशिश करें कि होली खेलने के दौरान उन्हें काला चश्मा पहनाएं और कहें कि इसे वे उतारें ना। इससे उनकी आंखे केमिकलयुक्त रंग से सुरक्षित रहेंगी। 

इसे भी पढ़ें - होली पर कर रहे हैं घर की सफाई, तो इन 6 तरीकों से रखें अपने स्किन का ख्याल

5. बंडाना से ढकें बच्चों का सिर

धूप और रंग से बचने के लिए उनके सिर पर बंडाना बांधे। ध्यान रहे कि बच्चों का बंडाना अच्छे फैब्रिक का हो। साथ ही इसे उन्हें किसी तरह की समस्या ना हो। कोशिश करें कि उनके सिर को ढकने के लिए कॉटन का बंडाना ही यूज करें।

6. रंग छु़ड़ाने के लिए गुनगुने पानी का करें इस्तेमाल 

होली खेलने के बाद बच्चों के बाल और स्किन से रंग छुड़ाने के लिए गुनगुने पानी का इस्तेमाल करें। नहाने के दौरान गुनगुने पानी में थोड़ा सा नींबू मिलाएं और इससे बच्चे को नहलाें। गुनगुने पानी में नींबू के इस्तेमाल से उनकी नाजुक स्किन से रंग के दाग जल्दी छूट जाएंगे। लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि उनके शरीर पर आपको नींबू रगड़ना नहीं है। इसके अलावा शरीर से रंग छुड़ाने के लिए आप हर्बल तरीकों को फॉलो कर सकती हैं। चेहरे से रंग हटाने के लिए आप मुल्तानी मिट्टी, दही और बेसन का लेप लगाएं। रंग छुड़ाने के बाद उनके बालों और स्किन पर नारियल तेल लगाना ना भूलें। इससे उनकी स्किन सॉफ्ट बनी रहेगी।



Disclaimer