गर्मियों में बच्चों को न पहनाएं इस तरह के कपड़े, वरना हो सकती हैं समस्याएं

गर्मियों में बच्चों की स्किन पर रैशेज काफी ज्यादा हो जाते हैं। इसकी वजह हैं आपके कपड़े। जानिए कैसे?

 

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraPublished at: Apr 29, 2021Updated at: Apr 29, 2021
गर्मियों में बच्चों को न पहनाएं इस तरह के कपड़े, वरना हो सकती हैं समस्याएं

छोटे बच्चों के लिए गर्मी का मौसम काफी परेशान करने वाला होता है। चिलचिलाती और झुलसती गर्मी के कारण बच्चों के स्वास्थ्य और स्किन से जुड़ी कई समस्याएं होने लगती हैं। ऐसे में गर्मी के सीजन में बच्चों से जुड़ी हर एक छोटी से छोटी बातों का ध्यान रखना जरूरी होता है। गर्मी के सीजन में पसीनों की वजह से स्किन पर काफी ज्यादा रैशेज हो सकते हैं। इसलिए बच्चों को इस सीजन में ऐसे कपड़े न पहनाएं, जो पसीना न सोख पाएं। गर्मी में बच्चों की देखभाल में कमी और सही से न कपड़े पहनाने की वजह से उनको स्किन से जुड़ी परेशानी हो सकती है। चलिए जानते हैं गर्मी के सीजन में बच्चों को किस तरह पहनाएं कपड़े?

शरीर को पूरी तरह ढकें

अगर गर्मियों में आपके बच्चे घर से बाहर जाएं, तो कोशिश करें कि उनका पूरा शरीर ढका रहे। सूर्य की रोशनी से आंखों के बचाव के लिए उन्हें हैट पहनाएं। इससे सिर भी ढका रहेगा। हालांकि, हैट पहनाते वक्त इस बात का ध्यान रखें कि हैट इलास्टिक की पट्टियों वाला न हो। दरअसल, इलास्टिक गर्दन में फंसने से ब्लड सर्कुलेशन प्रभावित हो सकता है।

इसे भी पढ़ें - घर का खाना नहीं खाता है आपका बच्चा? तो इन 5 तरीकों से खिलाएं जिद्दी बच्चों को हेल्दी फूड्स

कॉटन के कपड़े बच्चों के लिए है बेहतर

सूती कपड़े हर किसी के लिए अच्छे माने जाते हैं। चाहे वह बड़े हो या फिर बच्चे। गर्मियों में सूती कपड़े पहनने से स्किन को कई लाभ होते हैं। दरअसल, गर्मियों में पसीना बहुत ही ज्यादा आता है। ऐसे में स्किन पर नमी रहने से रैशेज और घमौरिया होने की परेशानी बढ़ सकती है। इस स्थिति में अगर आप अपने बच्चों को कॉटन के कपड़े पहनाते हैं, तो सूती पसीने को आसानी से सोख लेता है। जिससे स्किन गिला नहीं रहता है। इसके अलावा कॉटन के कपड़े अन्य कपड़ों की तुलना में काफी हल्के और आरामदेय होते हैं, जिससे बच्चे को स्किन से जुड़ी परेशानी कम होती है। 

ज्यादा डायपर न पहनाएं

गर्मियों में अपने छोटे बच्चों को बार-बार डायपर न पहनाएं। जरूरत पड़ने पर ही उन्हें डायपर पहनाएं। अगर आप गर्मियों में बच्चों को ज्यादा समय तक डायपर पहनाकर रखते हैं, तो इससे स्किन पर रैशेज हो सकते हैं। कोशिश करें कि घर में बिना डायपर पहनाए बच्चे को रखें। बाहर अगर ज्यादा समय के लिए जा रहे हैं, तब ही उन्हें डायपर पहनाएं।

इसे भी पढ़ें:- ये 5 संकेत बताते हैं बिगड़ रहा है आपका बच्चा, पैरेंट्स दें ध्यान

टाइट कपड़ों से बच्चों को रखें दूर

गर्मियों में अपने बच्चों को गलती से भी टाइट कपड़े न पहनाएं। अधिक टाइट कपड़े पहनने से बच्चों के स्किन पर रैशेज हो सकते हैं। इस दौरान कोशिश करें कि उन्हें ढीले से ढीला कपड़ा पहनाएं। गर्मियों में फ्रॉक, जम्पसूट, स्कर्ट जैसे कपड़े सबसे बेहतर होते हैं। बच्चों को टाइट कपड़े पहनाने से स्किन पर दबाव पड़ता है, जिससे पसीना आने की संभावना होती है।

सही रंग का करे चुनाव

गर्मियों में बच्चों को कपड़े पहनाते वक्त रंगों का विशेष ध्यान रखें। कई माता-पिता कपड़े गंदे होने के डर से बच्चों को गहरे रंग के कपड़े पहनाते हैं। लेकिन गर्मी के सीजन में ऐसा बिल्कुल नहीं करना चाहिए। गर्मियों में बच्चों को हमेशा हल्के रंग के कपड़े पहनाएं। दरअसल, अगर आप गर्मी में बच्चों को गहरे रंग के कपड़े पहनाते हैं, तो यह रोखनी रोखने का कार्य करते हैं। इससे बच्चों की स्किन जल्दी गर्म हो जाती है। वहीं, हल्का रंग रोशनी को नहीं सोखता है। इससे बच्चों को ठंडक मिलती है। अगर आप अपने बच्चों को हल्के रंग का कपड़ा पहनाते हैं, तो इससे उनको पसीना भी कम आता है।

Read More Articles On Tips For Parents In Hindi

 

Disclaimer