क्या बार-बार हो रही है यूटीआई की परेशानी? सेलिब्रिटी न्यूट्रिशनिस्ट रुजुता दिवेकर से जानें इससे बचाव के उपाय

यूटीआई की परेशानी इन दिनों काफी आम हो चुकी है। इस परेशानी से बचाव के लिए सेलिब्रिटी न्यूट्रिशनिस्ट रुजुता दिवेकर ने कुछ टिप्स शेयर किए हैं। 

 

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraPublished at: May 09, 2022Updated at: May 09, 2022
क्या बार-बार हो रही है यूटीआई की परेशानी? सेलिब्रिटी न्यूट्रिशनिस्ट रुजुता दिवेकर से जानें इससे बचाव के उपाय

महिलाओं में यूरिन इंफेक्शन की परेशानी होना काफी आम है। हमारे देश में लाखों महिलाएं इस तरह की परेशानी से जूझ रही हैं। यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन एक ऐसी समस्या है, जो मूत्र पथ को प्रभावित करती है। यह परेशानी बॉवल में मौजूद बैक्टीरिया की वजह से बनती हैं। हालांकि, कुछ स्थितियों में फंगस, और वायरस की वजह से भी यह परेशानी हो सकती है। यूरिन इंफेक्शन होने पर  खुजली, बुखार, ऐंठन जैसी परेशानी का अनुभव होता है। इस परेशानी से बचने के लिए एक्सपर्ट एंटीबायोटिक्स दवाएं खाने की सलाह देते हैं। साथ ही कुछ घरेलू उपायों से भी आप इस परेशानी को दूर कर सकते हैं। इस परेशानी से जूझ रही महिलाओं के लिए हाल ही में सेलिब्रिटी न्यूट्रिशनिस्ट रुजुता दिवेकर ने कुछ आसान से घरेलू उपाय बताएं हैं। इन घरेलू उपायों के माध्यम से यूटीआई से बचाव में मदद मिल सकती है। आइए जानते हैं यूटीआई से निपटने के लिए रुजुता दिवेकर द्वारा बताए गए नुस्खे क्या हैँ?

न्यूट्रिशनिस्ट द्वारा दी गई कुछ जरूरी सलाह

सेलिब्रिटी न्यूट्रीनिस्ट रुजुता दिवेकर का कहना है कि यूटीआई की समस्या होने पर यूरिन पास करने में काफी दिक्कत होती है। कई महिलाओं को यूरिन पास करने के दौरान काफई ज्यादा दवाब भी देना पड़ता है। अगर आप भी ऐसा करती हैं, तो यह गलत है। रुजुता का कहना है कि कभी भी यूरिन पास करते समय ज्यादा प्रेशर नहीं देना चाहिए। इसे सामान्य रूप से बाहर आने दें।

इसे भी पढ़ें - रुजुता दिवेकर से जानें अच्छी सेहत के 7 संकेत, अपनी लाइफस्टाइल में करें इन्हें शामिल

इसके अलावा न्यूट्रिनिस्ट का कहना है कि यूरिन को कभी भी रोक कर न रखें। अगर आप ऐसा करते हैं, तो इसकी वजह से मूत्रमार्ग क्षेत्र के आसपास बहुत अधिक नमी हो जाती है, जिसकी वजह से बैक्टीरिया पनप सकते हैं। साथ ही संक्रमण फैलने की संभावना भी अधिक बढ़ जाती है।

यूटीआई की परेशानियों से बचने के लिए अपनाएं ये उपाय

अधिक से अधिक पानी पिएं

न्यूट्रिनिस्ट का कहना है कि अगर आपको बार-बार यूटीआई की परेशानी हो रही है, तो इसका कारण डिहाइड्रेशन हो सकता है। डिहाइड्रेशन की परेशानी से बचने के लिए अधिक से अधिक पानी का सेवन करेँ। विशेषज्ञों के अनुसार पानी की कमी के कारण यूरिनरी ट्रैक्ट में जलन और खुजली होती है। यह स्थिति काफी गंभीर है। इसलिए इस समस्या से पीड़ित महिलाओं को दिन में कम से कम 8-10 गिलास पानी पीना चाहिए। 

नीरा या ताड़ का जूस पिएं

सेलिब्रिटी न्यूट्रीनिस्ट रुजुता दिवेकर का कहना है कि संक्रमण से राहत पाने के लिए हमारे पास कई तरह के उपाय हैं, लेकिन नीरा या ताड़ का जूस सेहत के लिए काफी अच्छा और बेहतर विकल्प है। इस जूस का सेवन करने से दर्द और जलन से काफी हद तक राहत पा सकते हैं। साथ ही यूरिन पास करने के दौरान आपको ज्यादा दबाव देने की जरूरत नहीं होती है।

नारियल पानी/नींबू पानी/गन्ने का जूस पिएं

यदि आप यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन से जल्द से जल्द छुटकारा पाना चाहते हैं, तो कोशिश करें कि मौसम के हिसाब से ड्रिंक्स पिएं। गर्मियों में आप नारियल पानी, नींबू पानी और गन्ने का रस अधिक पी सकते हैं। ये सभी ड्रिंक्स यूरिनरी ट्रैक्ट से अपशिष्ट पदार्थों को बाहर निकालने में आपकी मदद कर सकते हैं। 

पिएं कोकम और आंवले के जूस 

न्यूट्रिशनिस्ट रुजुता दिवेकर के अनुसार, यूटीआई से पीड़ित व्यक्ति को कोकम, आंवला, बेल, बरश या रोडोडेंड्रोन (Rhododendron) के जूस का सेवन करना चाहिए। ये ड्रिंक्स कई महत्वपूर्ण पोषण तत्वों से भरपूर होते हैं। इसमें कई तरह के विटामिंस, खनिज, इलेक्ट्रोलाइट्स और एंटीऑक्सिडेंट पाए जाते हैं। लेकिन ध्यान रहे कि यूटीआई की स्थिति में इन पेय पदार्थों का सेवन दिन में ही करें। 

हेल्दी फूड्स का करें सेवन

कुलथी की दाल कई तरह की बीमारियों से बचाव करने में हमारी मदद कर सकते हैं। साथ ही यह यूरिनरी ट्रैक्ट इन्फेक्शन का इलाज और बचाव करने में बहुत ही उपयोगी दाल हो सकती है। यूटीआई की समस्या होने पर सौंफ का काढ़ा बनाकर पीने से से भी आपको लाभ मिल सकता है। 

इसे भी पढ़ें - महिलाओं में पेशाब रुकने का क्या कारण है? डॉक्टर से जानें इसका इलाज और बचाव

इसके अलावा न्यूट्रिशनिस्ट्स के मुताबिक, यदि आप यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन से जूझ रहे हैं, तो प्रोसेस्ड और जंक फूड्स का सेवन करने से बचें। नियमित रूप से एक्सरसाइज करें। एक्सरसाइज के तुरंत बाद नहाने से बचें। रोजाना करीब 7 से 8 घंटे की नींद लें।

यूटीआई की परेशानी से बचने के लिए आप अपनी जीवनशैली में इस तरह के छोटे-मोटे बदलाव कर सकते हैं। इन बदलावों से यूरिन इंफेक्शन की परेशानी से बचने के साथ-साथ कई अन्य तरह की परेशानियों से भी बचा जा सकता है। 

Disclaimer