गर्भावस्था में बुखार आने पर महिलाएं अपनाएं ये 10 घरेलू उपाय, मिलेगी राहत

home remedies to cure fever: गर्भावस्था में बुखार आने पर आप कुछ घरेलू उपायों को आजमा सकते हैं। इसके लिए काढ़ा पीना काफी लाभकारी है।

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: Jan 18, 2022Updated at: Jan 18, 2022
गर्भावस्था में बुखार आने पर महिलाएं अपनाएं ये 10 घरेलू उपाय, मिलेगी राहत

fever during pregnancy: प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं में कई तरह के शारीरिक और मानसिक बदलाव देखने को मिलते हैं। इसके साथ ही उन्हें कई परेशानियों का भी सामना करना पड़ता है। प्रेनगेंसी में शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर पड़ जाती है, साथ ही महिलाओं को बुखार से भी जूझना पड़ता है। गर्भावस्था में बुखार आना महिलाओं और शिशु को नुकसान पहुंचा सकता है। इसलिए प्रेगनेंसी के दौरार बुखार आने को बिल्कुल भी नजरअंदाज न करें। बुखार से छुटकारा पाने के लिए आप कुछ घरेलू उपायों को आजमा सकते हैं। प्रेगनेंसी में बुखार आने के कारण और घरेलू उपाय-

प्रेगनेंसी में बुखार आने के कारण (fever causes during pregnancy)

प्रेगनेंसी में महिलाओं की रोग प्रतिरोधक क्षमता पहले की तुलना में कम हो जाती है। इसकी वजह से महिलाएं किसी भी संक्रमण, ठंड और बुखार की चपेट (pregnancy me bukhar) में जल्दी आ जाती हैं। प्रेगनेंसी में बुखार आने के कई अन्य कारण भी हो सकते हैं। जैसे-

  • सर्दी-जुकाम के साथ ही महिलाओं को बुखार भी हो सकता है। संक्रमण की वजह से महिलाओं को बुखार हो सकता है।
  • प्रेगनेंसी में बुखार आने का कारण फ्लू भी हो सकता है। फ्लू में महिलाओं को शरीर में दर्द, बुखार जैसे लक्षण महसूस हो सकते हैं। 
  • गर्भावस्था में मूत्र पथ संक्रमण की वजह से भी बुखार हो सकता है।
  • गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल वायरस भी बुखार का कारण हो सकता है। इस वायरस के शरीर में प्रवेश होने पर उल्टी, दस्त और बुखार जैसे लक्षण देखने को मिलते हैं।

प्रेगनेंसी में बुखार ठीक करने के लिए घरेलू उपाय (home remedies to cure fever during pregnancy)

प्रेगनेंसी में बुखार आने पर आपको डॉक्टर की राय जरूर लेनी चाहिए। लेकिन अगर आप चाहें तो कुछ घरेलू उपायों को भी आजमा सकते हैं। इससे आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत बनेगी। आप एकदम स्वस्थ रहेंगी।

1. सूप के फायदे (soup for fever and cold)

प्रेगनेंसी में संक्रमण, वायरस और फ्लू से बचने के लिए आप सूप (fever during pregnancy in hindi) भी पी सकते हैं। सर्दियों में सूप पीना काफी फायदेमंद होता है। इसके लिए आप टमाटर का सूप, चिकन सूप, वेजिटेबल सूप पी सकते हैं। इसके अलावा ब्रोकली सूप भी लाभकारी होता है। सूप पीने से शरीर की इम्यूनिटी भी तेज होती है।

2. सिरका वाले पानी से नहाएं 

गर्भावस्था या प्रेगनेंसी में बुखार आने पर आप सिरका वाले पानी से नहा सकते हैं। इसके लिए गुनगुने पानी में सिरका मिलाएं। इस पानी से नहाने से आपको बुखार में काफी आराम मिलेगा। 

3. काढ़ा (kadha for cough in hindi)

सर्दियों में इम्यूनिटी को मजबूत बनाने के लिए अकसर काढ़ा पीने की सलाह दी जाती है। प्रेगनेंसी में बुखार आने पर भी काढ़ा पीना फायदेमंद होता है। इसके लिए आप अदरक, दालचीनी, लौंग, काली मिर्च आदि का काढ़ा बनाकर पी सकते हैं। इसके अलावा तुलसी-अदरक की चाय पीना भी लाभकारी होता है। इसे काढ़े से बलगम भी निकल जाता है

4. आराम करें (rest in pregnancy) 

प्रेगनेंसी में आराम करना भी बहुत जरूरी होता है। गर्भावस्था में बुखार से राहत पाने के लिए आपको पर्याप्त आराम करना चाहिए। आराम करने से तनाव दूर होता है, मानसिक स्वास्थ्य बेहतर रहता है। बैलेंस डाइट और खुद को गर्म रखकर कुछ ही दिनों में आपका बुखार उतर जाएगा।

इसे भी पढ़ें - दूध में डालकर पिएं अंजीर, बादाम और मुनक्का, दूर होंगी आपकी ये 7 समस्याएं

5. बैलेंस डाइट (balance diet)

स्वस्थ रहने के लिए संतुलित डाइट लेना बहुत जरूरी होता है। हेल्दी रहने के लिए आपकी डाइट में विटामिंस, मिनरल्स, प्रोटीन और फाइबर सारी चीजें होनी चाहिए। इसके लिए आप अपनी डाइट में फल, सब्जियां और दाल सभी शामिल करें। इसके अलावा अपनी डाइट में दूध, घी आदि भी शामिल करें।

6. खूब पानी पिएं 

हाइड्रेट रहने से आप कई बीमारियों से अपना बचाव कर सकते हैं। गर्भावस्था में बुखार से राहत पाने के लिए भी हाइड्रेट रहना जरूरी होता है। इसके लिए दिन में 8-10 गिलास पानी जरूर पिएं। हाइड्रेट रहने के लिए आप नारियल पानी, फ्रूट्स जूस भी पी सकते हैं।

इसे भी पढ़ें - बादाम और किशमिश एक साथ खाने से सेहत को मिलते हैं ये 9 फायदे, जानें इनके सेवन का सही समय और तरीका

7. तुलसी के पत्ते

शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने और बुखार को ठीक करने के लिए आप तुलसी के पत्तों का उपयोग कर सकते हैं। इसके लिए एक गिलास पानी में 5-8 तुलसी की पत्तियां डालें और इसे उबलने दें। फिर इसे छानें और पी लें। दिन में 1-2 बार इस पानी को पीने से आपको काफी आराम मिलेगा। तुलसी के पत्तों में एंटी बैक्टीरियल गुण होते हैं, जो संक्रमण से भी बचाते हैं।

8. भाप लेना

सर्दी-जुकाम और बुखार से राहत पाने के लिए आप भाप भी ले सकती हैं। भाप लेने से गले में जमा कफ आसानी से निकल जाता है। अगर आपको खांसी या सर्दी की वजह से बुखार आया होगा, तो भाप लेने से काफी आराम मिलेगा। इसके लिए आप स्टीमर का उपयोग कर सकते हैं। आप चाहें तो एक बर्तन में पानी गर्म करें और भाप लें। भाप लेना फायदेमंद होता है।

9. सरसों के बीज (Mustard seeds)

सरसों के बीज का पानी पीकर भी आप बुखार में आराम पा सकते हैं। इसके लिए आप एक गिलास पानी गर्म करें। इसमें सरसों के बीज 5 मिनट के लिए डाल दें। इसके बाद इसे छान लें और पी जाएं।

10. माथे पर ठंडी पट्टी रखें 

प्रेगनेंसी में बुखार से राहत पाने के लिए गर्भवती महिलाएं माथे पर ठंडी पट्टी भी रख सकती हैं। इसके लिए ठंडे पानी में एक सूती कपड़ा भिगोएं, इसे अच्छी तरह से निचोड़ लें। अब इस पट्टी को माथे पर रखें और बदलते रहें।

प्रेगनेंसी में बुखार से ऐसे बचें (how to prevent fever in pregnancy)

प्रेगनेंसी में अकसर ही महिलाएं सर्दी-खांसी, जुकाम और बुखार से परेशान रहती हैं। लेकिन अगर आप कुछ उपायों को फॉलो करेंगी, तो बुखार से बच पाएंगी।

  • गर्भावस्था में बुखार से बचाव के लिए डॉक्टर की सलाह पर फ्लू के टीके लगवाएं।
  • हाथों को एकदम साफ रखें। खाना खाने से पहले हाथों को साबुन से जरूर धोएं।
  • बीमार लोगों से दूरी बनाकर रखें। गर्भावस्था में बीमार लोगों से दूर रहना चाहिए। ताकि वे उनके संक्रमण से बच सकें।
  • घर और उसके आस-पास साफ-सफाई का पूरा ध्यान रखें। 
  • इसके बाद भी अगर आपको बुखार महसूस हो तो डॉक्टर से संपर्क करें। 

प्रेगनेंसी में बुखार को ठीक करने के लिए ये घरेलू उपाय संपूर्ण इलाज नहीं है। इसलिए अगर कुछ दिनों तक बुखार ठीक न हो, तो डॉक्टर की राय जरूर लें। डॉक्टर की सलाह पर आप बुखार को ठीक करने के लिए दवाइयों का भी सेवन कर सकते हैं।

(main image source: babycentre.co.uk)

Disclaimer