हैजा (कालरा) के लिए 5 घरेलू नुस्खे

हैजा एक संक्रामक बीमारी है। इसमें बीमारी की वजह से मरीज के शरीर में पानी की कमी होने लगती है। इससे बचाव के लिए आप घरेलू उपचार का सहारा ले सकते हैं।

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraPublished at: Jul 07, 2021Updated at: Jul 07, 2021
हैजा (कालरा) के लिए 5 घरेलू नुस्खे

हैजा एक संक्रामण रोग है। यह बीमारी अधिकतर दूषित पानी पीने की वजह से होता है। हैजा से ग्रसित लोगों को दस्त, उल्टी और शरीर में पानी की कमी होने लगती है। अगर इस समस्या का सही समय पर इलाज न कराया गया, तो यह गंभीर रूप धारण कर सकती है। इस बारे में दिल्ली के मनीपाल हॉस्पिटल के डॉक्टर कुणाल दास कहते हैं कि हैजा एक एक्यूट डायरिया संक्रमण रोग है, जो विब्रिजो कोलेर नामक बैक्टीरिया की वजह (What is Cholera) से होता है। हैजा का अगर सही समय पर इलाज नहीं कराया गया, तो शरीर में पानी की कमी होने लगती है, जो व्यक्ति के मौत का कारण बनती है।

हैजा के लक्षण (Symptoms of Cholera)

  • पतले दस्त होना।
  • उल्टी होना।
  • शरीर ठंडा पड़ना।
  • कम ब्लड प्रेशर।
  • पेशाब न आना या कम आना।
  • प्यास ज्यादा लगना।
  • गला और मुंह सूखना।
  • मांसपेशियों में ऐंठन
  • दिल की धड़कनों का तेज होना।

इत्यादि लक्षण आपको हैजा होने पर दिख सकते हैं। डॉक्टरी सलाह और दवाइयों के साथ-साथ घरेलू उपचार से भी हैजा की परेशानियों को कम किया जा सकता है। चलिए जानते हैं इस बारे में-

इसे भी पढ़ें - टैटू या इसके दाग हटाने के लिए बड़े काम के हैं ये 5 घरेलू उपाय

हैजा का घरेलू उपचार (Home Remedies for Cholera)

1. अदरक से करें हैजा का घरेलू उपाय

हैजा रोगियों को पेट में दर्द, पेट में ऐंठन और डायरिया जैसी परेशानी होती है। इन परेशानियों को कम करने के लिए अदरक आपके लिए लाभकारी हो सकता है। इसके लिए अदरक का एक छोटा सा टुकड़ा लें। अब इसे अच्छी तरह पीस लें, इसके बाद इसमें 1 चम्मच शहद मिक्स करें। अब इस मिश्रण को पिएं। इससे आपकी पाचन क्रिया हेल्दी हो सकती है। 

2. खीरे की पत्तियां और नारियल पानी

खीरे की पत्तियां और नारियल पानी से आप हैजा का उपचार कर सकते हैं। इसके लिए खीरे की पत्तियां लें। अब इन पत्तियों को पीस लें और इसमें नारियल पानी मिलाएं। लेकिन ध्यान रखें कि दोनों को बराबर मात्रा में मिलाएं। अब इस जूस को दिन में दो बार पिएं। इससे हैजा की परेशानियों को कम किया जा सकता है। साथ ही इससे शरीर में पानी की कमी को पूरा किया जा सकता है।

3. छाछ से करें हैजा का उपचार

हैजा के मरीजों के लिए छाछ का सेवन करना हेल्दी माना जाता है। इसके लिए एक गिलास छाछ लें। इसमें 1 चम्मच जीरा पाउडर मिक्स करें। अब इसमें अपने स्वादानुसार सेंधा नमक मिक्स करें। इस छाछ का सेवन करने से पेट की गर्मी को शांति मिलती है। उल्टी और दस्त से ग्रसित लोगों के लिए छाछ का सेवन करना अच्छा माना जाता है।

इसे भी पढ़ें - टेलबोन (गुदा की हड्डी) में दर्द का कारण, लक्षण और घरेलू उपाय

4. प्याज से करें हैजा का उपचार

हैजा की परेशानियों को कम करने के लिए प्याज आपके लिए काफी फायदेमंद हो सकता है। इसके लिए आधी प्याज और 9 से 10 काली मिर्च लें। अब इन दोनों को मिक्स करेक इसका पेस्ट तैयार कर लें। मिश्रण को तीन हिस्सों में बांट लें। अब इन हिस्सों को पूरे दिन में तीन बार सेवन करें। प्याज में एंटीबैक्टीरियल गुण पाया जाता है। साथ ही इसमें एंटीबायोटिक्स और एंटीसेप्टिक गुण पाए जाते हैं, जो हैजा की परेशानियों को दूर करता है। प्याज के सेवन से मुंह सूखने और बैचेनी जैसी परेशानियों को कम किया जा सकता है। 

5. लौंग से करें हैजा का घरेलू उपचार

लौंग के सेवन से हैजा का इलाज किया जा सकता है। इससे पेट से जुड़ी परेशानियों को कम कर सकते हैं। इसके लिए 5 से 6 कप पानी लें। इसमें 10 से 15 लौंग डालकर पानी को उबालें। जब पानी अच्छे से उबल जाए, तो इसे ठंडा करने के लिए रख दें। अब इस मिश्रण को दो से तीन बार पूरे दिन में पिएं। इससे आंत में मौजूद बैक्टीरिया और पैरासाइट्स खत्म हो सकते हैं। साथ ही डायरिया से जुड़ी पेशानी कम हो सकती है।

इन घरेलू उपायों से आप हैजा की परेशानियों को कम कर सकते हैं। लेकिन ध्यान रखें कि हैजा होने पर तुरंत डॉक्टरी सलाह लें और डॉक्टर्स द्वारा दी गई दवाइयों का सेवन समय पर करें। साथ ही खूब पानी पिएं। ताकि आपके शरीर में पानी की कमी न हो।

Read More Article On Home Remedies In Hindi 

Disclaimer