Expert

सर्दी में ब्लोअर या आग के सामने देर तक बैठने से हो रही है सांस की समस्या? जानें इसे दूर करने के उपाय

सर्दियों में ठंड से बचने के लिए अक्सर लोग अंगीठी की मदद लेते हैं। लेकिन अंगीठी के धुएं से लोगों को सांस लेने में दिक्कत महसूस होती है।

Garima Garg
Written by: Garima GargPublished at: Jan 27, 2022Updated at: Jan 27, 2022
सर्दी में ब्लोअर या आग के सामने देर तक बैठने से हो रही है सांस की समस्या? जानें इसे दूर करने के उपाय

अकसर ठंड से बचने के लिए लोग आग जलाकर उसके सामने बैठ जाते हैं, जिससे आग की तपन शरीर को गर्म रख सके। लेकिन आग के कारण उठने वाला धुआं न केवल आंखों को प्रभावित कर सकता है बल्कि व्यक्ति को सांस लेने में भी दिक्कत हो सकती है। ऐसे में कुछ घरेलू उपाय लोगों के बेहद काम आ सकते हैं। कुछ घरेलू उपायों की मदद से लोग सांस की समस्या से राहत पा सकते हैं। आज का हमारा लेख इसी विषय पर है। आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से बताएंगे कि ठंड से बचने के लिए अंगीठी के धुएं के कारण यदि सांस में दिक्कत महसूस हो तो कौन से घरेलू उपाय आपके काम आ सकते हैं। इसके लिए हमने आयुर्वेद संजीवनी हर्बल क्लिनिक शकरपुर, लक्ष्मी नगर के आयुर्वेदाचार्य डॉ एम मुफिक (Ayurvedacharya Dr. M Mufik) से भी बात की है। पढ़ते हैं आगे...

1 - अदरक का रस है मददगार

अदरक के रस के इस्तेमाल से सांस की समस्या को दूर किया जा सकता है। ऐसे में आप नियमित रूप से अदरक की चाय का सेवन कर सकते हैं या अदरक के रस को शहद के साथ ले सकते हैं। बता दें कि अदरक के अंदर एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण मौजूद होते हैं जो न केवल फेफड़ों को तंदुरुस्त बनाए रख सकते हैं बल्कि सांस की समस्या से भी राहत पहुंचा सकते हैं। आप चाहें तो अदरक के रस को पानी में मिलाकर भी ले सकते हैं।

2 - भाप लेनी है जरूरी

व्यक्ति भाप ले कर भी सांस की समस्या को दूर कर सकता है। दरअसल सांस की समस्या फेफड़ों में आई सूजन के कारण हो सकती है। ऐसे में एक कटोरे में पानी को गर्म करें और अगर आप चाहें तो उस पानी में अदरक की कली को भी डाल सकते हैं अब एक मोटे कपड़े से खुद को ढक कर भाप लें। ध्यान रखें कि भाप बाहर न जाने पाए। ऐसे में अब लंबी लंबी सांस लेकर आप सांस संबंधित समस्या को दूर कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें- माथे की फुंसी को ठीक करने के लिए अपनाएं ये 5 घरेलू उपाय

3 - ब्लैक कॉफी है फायदेमंद

ब्लैक कॉफी के सेवन से भी सांस लेने में दिक्कत की समस्या को दूर किया जा सकता है। बता दें कि ब्लैक कॉफी के अंदर कैफ़ीन मौजूद होता है जो न केवल सांस से संबंधित प्रणाली को मजबूत बना सकती है बल्कि शरीर के अंदर जाने वाली हवा की क्रिया को भी सुधारने में उपयोगी है। ऐसे में आप ब्लैक कॉफी का सेवन करें। इसके सेवन से न केवल सांस लेने में दिक्कत की समस्या से राहत मिल सकती है बल्कि अस्थमा से जुड़े लक्षण भी कम हो सकते हैं।

4 - सौंफ का सेवन

यदि आग के धुएं से सांस लेने में दिक्कत महसूस हो रही है तो सौंफ आपके बेहद काम आ सकता है। बता दें कि सौंफ के अंदर एंटीबैक्टीरियल और एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण मौजूद होते हैं। जो ना केवल सांस से संबंधित समस्याओं को दूर करने में उपयोगी है बल्कि सौंफ के अंदर पाए जाने वाला आयरन खून की कमी से भी राहत दिला सकता है। ऐसे में आप गर्म पानी में सौंफ को डालें और 5-10 मिनट के लिए ढककर रख दें। अब बने मिश्रण को छानकर उसका सेवन करें। इससे अलग सौंफ को भूनकर भी उसका सेवन कर सकते हैं। ऐसा करने से संबंधित समस्याओं से राहत मिल सकते हैं।

5 - चुकंदर का सेवन

चुकंदर के उपयोग से भी सांस की समस्या को दूर किया जा सकता है। ऐसे में आप नियमित रूप से चुकंदर या चुकंदर के जूस का सेवन करें। बता दें कि चुकंदर के अंदर फाइबर, कैल्शियम, पोटेशियम, आयरन और जरूरी विटामिंस मौजूद होते हैं जो ना केवल सांस से संबंधित समस्या को दूर करने में उपयोगी है बल्कि खून की कमी से भी राहत दिला सकते हैं। ऐसे में आप नियमित रूप से चुकंदर का सेवन करें। आप चाहे तो चुकंदर को छिलके सहित गैस पर भुनें और फिर उन्हें ठंडा कर कर नमक और मिर्च के साथ खाएं। ऐसा करने से भी सांस से संबंधित समस्या को दूर किया जा सकता है।

इसे भी पढ़ें- सिर दर्द से जल्द राहत के लिए लगाएं निलगिरी और जायफल से बना ये खास तेल, जानें बनाने का तरीका और अन्य फायदे

6 - ब्रीदिंग एक्सरसाइज है जरूरी

सांस से संबंधित समस्या को दूर करने में ब्रीदिंग एक्सरसाइज आपके बेहद काम आ सकती है। बता दें कि व्यक्ति नियमित रूप से अनुलोम विलोम प्राणायाम करें। इससे न केवल श्वसन प्रणाली मजबूत हो सकती है बल्कि सांस से संबंधित समस्याओं से राहत मिल सकती है। ऐसे में आप सुबह उठकर अनुलोम विलोम प्राणायाम करें। इसके लिए आप सबसे पहले जमीन पर योगा मैट बिछाएं और उस पर बैठ जाए और अब सबसे पहले दाएं नाक के छेद से सांस भरें और कुछ समय सांस को रोक कर बाएं छेद से निकाल दें। इसी प्रकार आप बाएं नाक के छेद से सांस भर कर थोड़े समय रोक कर दाएं नाक के छेद से निकाल दें। इस प्रक्रिया से सांस की समस्या से राहत मिल सकती है।

7 - तुलसी है मददगार

तुलसी के सेवन से भी सांस से संबंधित समस्याओं को दूर किया जा सकता है। बता दें कि तुलसी के अंदर में एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं जो न केवल शरीर को कई समस्याओं से दूर रख सकते हैं बल्कि अस्थमा के लक्षणों को भी कम करने में उपयोगी साबित हो सकते हैं। ऐसे में आप तुलसी की चाय के रूप में तुलसी का सेवन करें या चाहे तो तुलसी के रस में शहद को मिलाकर बने मिश्रण का सेवन कर सकते हैं। अगर आप जल्दी आराम पाना चाहते हैं तो तुलसी के रस में अदरक के रस को मिलाकर उसका सेवन करें। आप इस मिश्रण में शहद को भी मिला सकते हैं। ऐसा करने से जल्द आराम मिलेगा।

नोट - ऊपर बताए गए बिंदुओं से पता चलता है कि यदि अंगीठी के धुएं से सांस लेने में दिक्कत महसूस होती है तो कुछ घरेलू उपाय आपके बेहद काम आ सकते हैं। लेकिन यदि आपको सांस से संबंधित कोई अन्य समस्या है तो इन घरेलू उपायों का इस्तेमाल करने से पहले एक बार एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें।

इस लेख में फोटोज़ Freepik से ली गई हैं।

Disclaimer