तुलसी बीज पानी में भिगोकर खाने से शरीर को मिलते हैं 4 गजब के फायदे, लेकिन ये 3 समस्याओं वाले लोग सेवन से बचें

तुलसी के बीजों का सेवन करते वक्त हमें सावधानी भी बरतने की जरूरत होती है क्योंकि इनका अधिक सेवन आपके लिए हानिकारक भी हो सकता है।

Jitendra Gupta
Written by: Jitendra GuptaPublished at: Mar 11, 2020Updated at: Mar 11, 2020
तुलसी बीज पानी में भिगोकर खाने से शरीर को मिलते हैं 4 गजब के फायदे, लेकिन ये 3 समस्याओं वाले लोग सेवन से बचें

क्या आपने सब्जा के बारे में सुना है? अगर नहीं तो इसे आम भाषा में तुलसी के बीज कहते हैं। तुलसी का नाम आते ही हमारे दिमाग में सबसे पहला ख्याल इससे होने वाले फायदों के बारे में आता है। शायद आप नहीं जानते होंगे कि ये छोटे से आकार के बीज पोषक तत्वों का भंडार होते हैं। इतना ही नहीं ये कई स्वास्थ्य समस्याओं के लिए एक प्रभावी प्राकृतिक नुस्खा भी हैं। अगर संक्षेप में कहा जाए तो सब्जा यानी की तुलसी के बीज कई स्वास्थ्य गुणों का भंडार है। तुलसी के पौधे का हमारी परंपराओं में एक विशेष महत्व रहा है और इसे हर घर में लगाया भी जाता है। तुलसी के बीज दूसरों से बिल्कुल अलग होते हैं और इनके बेहद फायदे हैं। प्रोटीन, फैट और कार्ब से युक्त ये काले और छोटे सब्जा बीज में अच्छी क्वालिटी का ढेर सारा फाइबर भी होता है।

tulsiseeds

तुलसी के बीज न केवल डायबिटीज के लिए बल्कि हमारी स्किन के लिए भी बेहद अच्छे होते हैं। हालांकि इनका सेवन करते वक्त हमें सावधानी भी बरतने की जरूरत होती है। इन्हें चबाना मुश्किल होता है इसलिए इन्हें  कच्चा खाने के बजाए रात में पानी में भिगोकर रखना चाहिए और सुबह खाना चाहिए। तुलसी के बीजों का सेवन इतना आसान है कि आप इन्हें 15 मिनट के लिए गर्म पानी में डाल दीजिए और उसके बाद ये सेवन के लिए बिल्कुल तैयार हैं। इस लेख में हम आपको तुलसी के बीजों को पानी में भिगोकर खाने के कुछ ऐसे फायदों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्हें सुनकर आप चौंक जाएंगे।

सब्जा (तुलसी) बीजों से शरीर को मिलने वाले फायदे

शरीर की गर्मी को कम करते हैं तुलसी के बीज

पानी में भिगोकर तुलसी के बीजों का सेवन शरीर को गर्मी को दूर करने का सबसे अच्छा तरीका है। तुलसी के बीजों में प्राकृतिक रूप से ठंडा करने के उच्च गुण होते हैं और ये पानी में अच्छे तरह से मिल भी जाते हैं। तुलसी के बीजों का सेवन आप नारियल दूध, शरबत और मिल्कशेक में भी कर सकते हैं।

डायिबटीज में फायदेमंद तुलसी के बीज

सबजा बीज टाइप 2 डायबिटीज के लिए बेहद प्रभावी माने जाते हैं। चूंकि ये बीज आपके मेटाबॉलिज्म को धीमा कर देते हैं और कार्बोहाइड्रेट को ग्लूकोज में बदलने में मदद करते हैं। आपको बस करना ये है कि एक गिलास दूध में कुछ भीगे हुए बीज मिलाएं और नाश्ते में स्वादिष्ट, स्वास्थ्यवर्धक पेय के रूप में सेवन करें। नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ द्वारा किए गए एक प्रयोग से पता चला कि जब टाइप 2 डायबिटीज से पीड़ित लोगों ने एक महीने तक अपने भोजन के बाद पानी में 10 ग्राम सब्जा बीज डालकर सेवन किया तो उनके भोजन के बाद ब्लड शुगर में 17% की गिरावट देखी गई। सब्जा के बीज एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं, जो डायबिटीज को नियंत्रित करने में मदद करते हैं और आपकी त्वचा के लिए भी अच्छे होते हैं। तुलसी के बीजों को चबाना मुश्किल होता है, इसलिए इन्हें कच्चा न लें। उपभोग करने से पहले उन्हें पानी में भिगोना सबसे अच्छा है, जो उन्हें अधिक जिलेटिनस बनाता है। स्वास्थ्य लाभ प्राप्त करने के लिए हर दिन कम से कम दो चम्मच तुलसी के बीज लेने की सलाह दी जाती है।

इसे भी पढ़ेंः 40 पार पुरुष-महिलाएं इन 5 तरीकों से पूरी करें कैल्शियम की कमी, हड्डी होगी मजबूत

tulsiseeds benefits

वजन कम करने में फायदेमंद तुलसी बीज का पानी

क्योंकि इन बीजों में डायटरी फाइबर की मात्रा बहुत ज्यादा होती है इसलिए ये किसी भी व्यक्ति को ज्यादा देर तक संतुष्ट और पेट भरा रखने में मदद करते हैं। ये शरीर के लिए प्राकृतिक डिटॉक्स का भी काम करते हैं और आंतों को साफ कर पेट के स्वास्थ्य को दुरुस्त बनाने में मदद करते हैं। सोने से पहले एक गिलास दूध में कुछ सब्जा बीज डालकर पीएं। ऐसा करने से पाचन में मदद मिलेगी और आपका पेट भी साफ रहेगा। दरअसल सब्जा में पेक्टिन नाम का घुलनशील फाइबर होता है, जो पेट को खाली होने में वक्त लगाने में मदद करता है। ये कुछ हार्मोन का स्तर बढ़ा देता है, जिसके कारण आपका पेट भरा रहता है और आपको भूख को शांत करने में मदद मिलती है। यह पूरी प्रक्रिया वजन कम करने से भी जुड़ी हुई है।

मुंह का स्वास्थ्य दुरुस्त रखता है तुलसी बीज का पानी

अगर आपको बार-बार मुंह के छालों की शिकायत रहती है तो आपको सब्जा बीजों को अपनी डाइट का हिस्सा बनाना चाहिए। इसके एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-फंगल, एंटी-वायरल गुण इसे एक प्रभावकारी माउथ फ्रेशनर बनाने का काम करते हैं। ये बीज मुंह की दुर्गंध, सड़न और प्लाक जैसी दंत समस्याओं से भी सुरक्षा देने में मदद करते हैं।

जैसा कि ये प्रकृति का नियम है कि जरूरत से ज्यादा किसी भी चीज का सेवन हानिकारक होता है ठीक ऐसा ही कुछ तुलसी के बीजों के साथ भी है। अगर आप जरूरत से ज्यादा बीजों का सेवन करते हैं तो ये ब्लड प्रेशर को लो कर सकते हैं, हाइपोग्लाइसिमा का कारण बन सकते हैं और पुरुषों की प्रजनन क्षमता को भी प्रभावित कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ेंः 20 से 30 साल के लोगों में विटामिन डी की कमी बन सकती है जल्दी मौत का कारण, जानें कैसे दूर करें कमी

न्यूट्रिशिनिस्ट जॉबिन रेड्डी का कहना है कि लोगों को रोजाना एक चम्मच से ज्यादा सब्जा बीजों का सेवन  नहीं करना चाहिए। क्योंकि जब भी हम गलत मात्रा यानी की जरूरत से ज्यादा मात्रा में इन बीजों का सेवन करते हैं तो इसके कुछ साइड-इफेक्ट सामने आते हैं। मैंने कई लोगों को सब्जा सीड के दुष्प्रभावों का सामना करते देखा है। इन बीजों का जरूरत से ज्यादा सेवन दस्त, उल्टी, मतली, मुंहासों, पेट संबंधी परेशानियों और कम भूख लगना जैसी कई समस्याओं का कारण बनता है। इतना ही नहीं कुछ लोगों में लो ब्लड शुगर की भी समस्या हो जाती है।

कुछ स्थितियां ऐसी हैं, जिसमें सब्जा बीजों का सेवन नहीं करना चाहिए

  • गर्भवती महिलाओं और बच्चों को सब्जा बीजों का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि ये शरीर में एस्ट्रोजन लेवल को कम करने का काम करते हैं। 
  • तुलसी का तेल और अर्क खून का थक्का बनने की प्रक्रिया को धीमा कर देता है इसलिए अगर आपको घाव लगा है या हाल ही में सर्जरी हुई है तो इसका सेवन न करें। 
  • सर्जरी से दो सप्ताह पहले तक सब्जा बीजों का सेवन करने से बचें। 

हमेशा सब्जा का सेवन करने से पहले डॉक्टर से सलाह लें क्योंकि सब्जा की मात्रा हर व्यक्ति में अलग-अलग हो सकती है।

Read More Articles On Miscellaneous In Hindi 

Disclaimer