Doctor Verified

5 आदतें जो पुरुषों में टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन बढ़ाने में कर सकती हैं मदद

टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन का स्‍तर घटने से पुरुषों में प्रजनन क्षमता भी घट सकती है। जानते हैं हेल्‍दी आदतें ज‍िनसे टेस्टोस्टेरॉन का स्‍तर बढ़ा सकते हैं।

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurUpdated at: Dec 05, 2022 12:28 IST
5 आदतें जो पुरुषों में टेस्टोस्टेरॉन हार्मोन बढ़ाने में कर सकती हैं मदद

हेल्‍दी लाइफस्‍टाइल के ल‍िए शरीर में हार्मोन्‍स का सही संतुलन बनाए रखना जरूरी है। ऐसा ही एक हार्मोन है टेस्‍टोस्‍टेरोन। ये हार्मोन पुरुषों के स्‍वास्‍थ्‍य के ल‍िए अहम माना जाता है। प्रजनन क्षमता, मांसपेश‍ियां, हार्ट हेल्‍थ को ठीक रखना आद‍ि के ल‍िए इस हार्मोन का सही संतुलन जरूरी माना जाता है। ज‍िन पुरुषों में टेस्‍टोस्‍टेरोन हार्मोन की कमी होती है उनमें शारीर‍िक ऊर्जा भी कम होती है। ऐसे पुरुषों में वजन बढ़ना भी एक बड़ी समस्‍या होती है। इसके अलावा तनाव, उच्‍च कोलेस्‍ट्रॉल की समस्‍या भी हो सकती है। टेस्टोस्टेरोन को बढ़ाने के ल‍िए कुछ हेल्‍दी आदतों को रूटीन में शाम‍िल कर सकते हैं। इस लेख में हम ऐसी 5 आदतों के बारे में जानेंगे। इस व‍ि‍षय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के केयर इंस्‍टिट्यूट ऑफ लाइफ साइंसेज की एमडी फ‍िजिश‍ियन डॉ सीमा यादव से बात की।

men health

1. कसरत को रूटीन में शाम‍िल करें 

टेस्‍टोस्‍टेरोन हार्मोन की कमी का एक कारण फ‍िजि‍कल एक्‍टि‍व‍िटी की कमी हो सकती है। अगर आप क‍िसी तरह की कसरत नहीं करते, तो हार्मोन्‍स असंतुल‍ित हो सकते हैं। रोजाना वॉक, रन‍िंग को रूटीन में शाम‍िल करें। कार्ड‍ियो वर्कआउट भी कर सकते हैं। कसरत न करने के कारण वजन बढ़ जाता है और ये हार्मोन्‍स के स्‍तर को प्रभाव‍ित करता है इसल‍िए शरीर को हेल्‍दी रखें। 

इसे भी पढ़ें- पुरुषों में टेस्टोस्टेरोन हार्मोन ज्यादा होने पर हो सकती हैं ये 6 समस्याएं     

2. हार्मोन बढ़ाने वाली डाइट लें 

टेस्‍टोस्‍टेरोन का स्‍तर बढ़ाने के ल‍िए डाइट का भी अहम क‍िरदार होता है। अपनी डाइट में लहसुन, ऑल‍िव ऑयल को शाम‍िल करें। संतुल‍ित आहार लें। डाइट में फाइबर र‍िच फूड्स, प्रोटीन, कॉर्ब्स की सही मात्रा पर गौर करें। हेल्‍दी डाइट लेने से ब्‍लडप्रेशर कंट्रोल में रहता है, कोलेस्‍ट्रॉल का स्‍तर भी कंट्रोल में रहता है। बीपी और कोलेस्‍ट्रॉल के सही बैलेंस से टेस्‍टोस्‍टेरोन के स्‍तर को बढ़ाने में मदद म‍िलती है।

3. खुश रहने की आदत डालें 

अगर आप ज्‍यादा तनाव में रहते हैं, तो टेस्‍टोस्‍टेरोन हार्मोन में असंतुलन आ सकता है। स्‍ट्रेस हार्मोन के र‍िलीज होने से टेस्‍टोस्‍टेरोन की मात्रा घट सकती है। तनाव के कई कारण हो सकते हैं जैसे नींद न पूरी करना, काम ज्‍यादा करना, अन्‍य कोई घटना ज‍िसके कारण आप तनाव में हो। मेड‍िटेशन और योगा को अपने रूटीन में शाम‍िल करें ताक‍ि तनाव घटे और टेस्‍टोस्‍टेरोन हार्मोन का स्‍तर बढ़ सके।

4. नींद पूरी करें 

अन‍िद्रा की समस्‍या के कारण टेस्‍टोस्‍टेरोन हार्मोन की स्‍तर घटा सकता है। हर द‍िन आपको 7 से 8 घंटे की नींद पूरी करनी चाह‍िए। नींद न पूरी करने के कारण आप ईट‍िंग ड‍िसआर्डर का श‍ि‍कार हो सकते हैं ज‍िसके कारण मोटापे के लक्षण नजर आ सकते हैं। मोटापे के कारण भी टेस्‍टोस्‍टेरोन हार्मोन का स्‍तर ब‍िगड़ जाता है। अमेर‍िकन मेड‍िकल एसोस‍िएशन की एक स्‍टडी के मुताब‍िक जो पुरुष 5 घंटे से कम की नींद लेते हैं उनमें टेस्‍टोस्‍टेरोन हार्मोन का स्‍तर 15 प्रत‍िशत तक घट जाता है।

5. एल्‍कोहल का सेवन बंद कर दें 

टेस्‍टोस्‍टेरोन हार्मोन की कमी का कारण एल्‍कोहल का सेवन भी हो सकता है। एल्‍कोहल का सेवन करने से ल‍िवर पर जोर पड़ता है। एल्‍कोहल का सेवन करने से प्रजनन क्षमता भी प्रभाव‍ित होती है। एल्‍कोहल का सेवन करने की आदत को छोड़कर आप ल‍िवर को बीमार होने से बचा सकते हैं। एल्‍कोहल का सेवन बंद करने से टेस्‍टोस्‍टेरोन हार्मोन का स्‍तर बढ़ सकता है।

अगर आपको लगता है क‍ि टेस्‍टोस्‍टेरोन का स्‍तर कम है, तो डॉक्‍टर से सलाह लें। हार्मोन के स्‍तर को थेरेपी की मदद से ठीक क‍िया जा सकता है। इसके अलावा इन 5 आदतों की मदद से टेस्‍टोस्‍टेरोन का स्तर बढ़ाया जा सकता है।    

Disclaimer