Low Carb Diet : वजन घटाने वाली लो-कार्ब डाइट के पड़ सकते स्‍वास्‍थ्‍य पर ये 5 दुष्‍प्रभाव, रहें सावधान

वजन घटाने को लेकर कई डाइट प्रचलन में हैं, जिनमें से एक लो-कार्ब डाइट भी है। आइए यहां हम आपको इसके दुष्‍प्रभाव बताते हैं। 

Sheetal Bisht
Written by: Sheetal BishtUpdated at: Jan 22, 2020 12:15 IST
Low Carb Diet : वजन घटाने वाली लो-कार्ब डाइट के पड़ सकते स्‍वास्‍थ्‍य पर ये 5 दुष्‍प्रभाव, रहें सावधान

हमारे शरीर के लिए सभी पोषक तत्‍व बेहद जरूरी होते हैं। ऐसे ही कार्बोहाइड्रेट्स कार्बोहाइड्रेट हमारे शरीर के लिए आवश्यक पोषक तत्‍व है। आजकल कई तरह के डाइट प्‍लान को लोग आजमा रहे हैं, जिसमें लो कार्ब डाइट भी शामिल है। हालांकि एक्‍सट्रा कार्ब्स काटना स्वस्थ माना जाता है और कार्ब की खपत को कम करने से शरीर के साथ-साथ स्वास्थ्य पर सकारात्मक प्रभाव पड़ते हैं। एक लो-कार्ब को डाइट वजन घटाने के साथ-साथ फैट बर्न के लिए जाना जाता है, लेकिन यह लो-कार्ब डाइट इतनी भी सुरक्षित नहीं है। इसलिए हमेशा डाइट के प्रति सावधान रहना जरूरी है। 

Low Carb Diet

हालांकि लो-कार्ब डाइट के कई फायदे होते हैं, लेकिन अपने खाने से कार्ब्‍स को पूरी तरह काट या कम कर देना सही नहीं है। क्योंकि यह आपके शरीर पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकता है। तेजी से लोकप्रिय हो रही लो-कार्ब डाइट के कुछ साइड इफेक्ट्स भी है। शरीर को सक्रिय रहने और चलने फिरने के लिए कुछ हेल्‍दी कार्ब्स की आवश्यकता होती है और ऐसे में जब हम अपनी डाइट से इसे कम कर देते हैं, तो स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकता है। इसलिए अगर आपको फिट रह कर वजन घटाने का प्रयास करना है, तो अपनी डाइट के प्रति सावधानियां बरते और गलतियों से बचें। आइए यहां हम आपको लो-कार्ब डाइट के कुछ दुष्प्रभाव आपको यहां बताते हैं। 

1. थकान और कमजोरी महसूस होना 

स्वस्थ कार्ब्स आपके शरीर के लिए ईंधन और ऊर्जा का मुख्य स्रोत होता है। ऐसे में यदि आप अपनी डाइट से कार्ब्‍स को कम या काट देते हैं, तो आपके शरीर को र्प्‍याप्‍त ऊर्जा पैदा नहीं हो पाती। जिसकी वजह‍ से यह आपको थका हुआ और कमजोर महसूस करवा सकता है। इसके अलावा लो-कार्ब आपको सिरदर्द भी दे सकता है और यह सबसे बड़ा संकेत है कि आपके कार्बोहाइड्रेट का सेवन बहुत कम हो गया है।

Headache

2. पाचन में गड़बड़ी 

क्‍योंकि कार्ब्‍स डाइट का एक जरूरी हिस्‍सा है, इसलिए यह हमारे पाचन तंत्र को स्‍वस्‍थ रखता है। लेकिन जब आप लो-कार्ब डाइट पर स्विच करते हैं, तो आप कार्ब्‍स से भरपूर खाद्य पदार्थों के सेवन को बंद कर कार्ब्‍स को कम कर देते हैं, जो कि आपकी पाचन संबंधी समस्‍याओं का कारण बनता है। इससे आपको पाचन से जुड़ी गड़बड़ी, मल त्‍यागने में परेशानी और कब्‍ज जैसी समस्‍याओं से गुजरना पड़ता है।  

इसे भी पढें: बड़े काम की है छोटे तरबूज जैसे दिखने वाली कचरी, जानें इसके अद्भुत

3. बिंज ईटिंग

कार्बोहाइड्रेट आपके पेट को भरने और शरीर को एनर्जी लेवल को बनाए रखने में मदद करता है और आपको तृप्‍त महसूस करवाता है। लेकिन जब आप कार्ब्‍स को कम कर देते हैं, तो यह आपको बार-बार भूख महसूस कराता है और जिसकी वहज बिंज ईटिंग या अधिक खाने लगते हैं। जिससे कि इसका असर आपकी वजन घटाने के प्रयासो को प्रभावित करता है।

Low carb diet Side Effects

4. स्‍वभाव में चिड़चिड़ापन या चिंता  

लो-कार्ब डाइट आपको भूखा बनाती है, जिसकी वजह से आप चिड़चिड़ेपन के शिकार हो सकते हैं। लो-कार्ब डाइट आपके मिजाज को बिगाड़ सकती है और यह चिंता व मूड स्विंग जैसी स्थितियों को जन्म दे सकता है। यही कारण है कि अपने लो-कार्ब डाइट के प्रति हमेशा सावधान रहना जरूरी है कि आप कार्ब्‍स की कटौती बहूत अधिक कम न कर दें। 

इसे भी पढें: वजन घटाने और सेहत के साथ समझौता नहीं करने देगा ओट्स उपमा, जानें इसकी आसान रेसेपी

5.ब्‍लड शुगर पर असर 

लो- कार्बोहाइड्रेट का और हाई फैट का सेवन आपके शरीर को इंसुलिन के प्रति प्रतिक्रिया करने के तरीके को गड़बड़ कर सकता है और यह हमारे शरीर और स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकता है। जैसा कि आप जानते हैं कि इंसुलिन ब्‍लड शुगर के स्‍तर को विनियमित करने में मदद करता है। ऐसे में लो-कार्ब डाइट डायबिटीज जैसी स्थिति को भी जन्म दे सकती है।  

Read More Article On Healthy Diet In Hindi 

Disclaimer