प्रेगनेंसी में करें ये 4 एक्सरसाइज, नॉर्मल डिलीवरी में मिलेगी मदद

प्रेगनेंसी हर महिला के जीवन का सबसे मुश्किल दौर होता है। इस दौरान बहुत एहतियात बरतने की सलाह दी जाती है।

Ashu Kumar Das
Written by: Ashu Kumar DasPublished at: Jun 23, 2022Updated at: Jun 23, 2022
प्रेगनेंसी में करें ये 4 एक्सरसाइज, नॉर्मल डिलीवरी में मिलेगी मदद

Exercises for Normal Delivery:  ज्यादातर लड़कियों का सपना होता है कि वो एक बार मां जरूर बनें। मां शब्द सुनने में जितना खूबसूरत है एक महिला के लिए ये सफर उतना ही मुश्किल होता है। प्रेगनेंसी के दौरान शारीरिक और मानसिक तौर पर कई तरह के बदलाव होते हैं। शुरुआत के 4 से 5 महीने का वक्त तो ठीक तरीके से कट जाता है, लेकिन आखिरी के कुछ महीने मुश्किल होते हैं। इस दौरान अक्सर महिलाओं को इस बात की चिंता सताती है कि आखिरकार डिलीवरी नॉर्मल होगी या फिर उन्हें सिजेरियन के दर्द से गुजरना पड़ेगा। अगर आप प्रेगनेंट हैं और आपके मन में भी कुछ इसी तरह के सवाल आ रहे हैं तो आज आपको बताने जा रहे हैं कुछ एक्सरसाइज के बारे में। इन एक्सरसाइज को प्रतिदिन करने से बच्चे की नॉर्मल डिलीवरी करवाने में मदद मिल सकती है।

वॉक करें (walking)

प्रेगनेंसी के दौरान वॉक को बेस्ट एक्सरसाइज माना जाता है। इस एक्सरसाइज को करने के लिए आपको किसी तरह की मशीन की जरूरत नहीं होती है। माना जाता है कि प्रेगनेंसी के दौरान पैदल चलने से बच्चे को गर्भाशय के नीचे वाले हिस्से में जाने में मदद मिलती है। वॉक एक कार्डियोवस्कुलर एक्सरसाइज है, जो शरीर को प्रेगनेंसी के दौरान होने वाली मॉर्निंग सिकनेस, कब्ज और उल्टी जैसी चीजों से भी राहत दिलाता है।

इसे भी पढ़ेंः क्या डिलीवरी के आखिरी दिनों में घी या मक्खन खाना सही है? जानें एक्सपर्ट की राय

बटरफ्लाई एक्सरसाइज (butterfly exercise)

यह एक तरह का योगासन है जो काफी सिंपल है, जिसे प्रेगनेंसी में कोई भी महिला आसानी से कर सकती है। बटरफ्लाई एक्सरसाइज करने से सिर्फ डिलीवरी से संबंधित प्रॉब्लम ही नहीं सुलझती बल्कि स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों से भी राहत मिल सकती है। प्रेगनेंसी के दौरान अगर आप ज्यादा तनाव महसूस कर रही हैं तो भी यह एक्सरसाइज आपकी मदद कर सकती है। इस एक्सरसाइज को करते वक्त ध्यान दें कि इसे सुबह या शाम को ही करें। दिन में लंच या डिनर के बाद बटरफ्लाई एक्सरसाइज करने से तबीयत बिगड़ सकती है।

कीगल एक्सरसाइज (kegel exercises)

प्रेगनेंसी के सातवें महीने से इस एक्सरसाइज को करने से मांसपेशियों को मजबूत करने में मदद मिलती है, जिससे डिलीवरी काफी आसान हो जाती है। जिन महिलाओं को प्रेगनेंसी के दौरान कमर या पीठ में दर्द होता है उनके लिए यह एक्सरसाइज काफी फायदेमंद मानी जाती है।

इसे भी पढ़ेंः प्रेग्नेंट महिलाओं को सोनम कपूर ने दी अनार का जूस पीने की सलाह, एक्सपर्ट से जानें इसके फायदे

डीप स्क्वाट्स (deep squats)

प्रेगनेंसी में यह एक्सरसाइज करने से पेल्विक फ्लोर की मांसपेशियों को काफी आराम मिलता है। नियमित तौर पर डीप स्क्वाट्स किए जाएं तो यह पेरिनेम को फैलाने में मदद करते है। जिन महिलाओं के पेरिनेम काफी हार्ड होते हैं उन्हें फिजियो थेरेपिस्ट यही एक्सरसाइज करने की सलाह देते है। हालांकि एक दिन में आपको कितने डीप स्क्वैटस करने चाहिए ताकि डिलीवरी में मदद मिले इसके लिए आपको डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

प्रेगनेंसी में कितनी देर एक्सरसाइज करनी चाहिए? (How long exercise during pregnancy?)

अमेरिकन कॉलेज ऑफ ऑब्सटेट्रिक्स एंड गायनेकोलॉजी की एक रिपोर्ट के मुताबिक एक प्रेग्नेंट महिला को नियमित पर रोज कम से कम 30 मिनट एक्सरसाइज करनी चाहिए। इससे शरीर एक्टिव रहता है और दिमाग भी डायवर्ट होता है। हालांकि आपको अपने शरीर के हिसाब से कौन सी एक्सरसाइज करनी है इसके लिए अपने डॉक्टर और फिजियो थेरेपिस्ट से बात करें।

(All Image Sources- Freepik.com)

Disclaimer

Tags