सावधान: ज्‍यादा पनीर खाने से हो सकती है ये जानलेवा बीमारी!

पनीर के सेवन से संबंधित एक रिसर्च में बताया गया है कि पनीर में सेचुरेटेड फैटी एसिड ज्यादा होता है और पनीर के बहुत ज्यादा सेवन से दिल के रोगों की आशंका बढ़ जाती है।

Atul Modi
Written by: Atul ModiPublished at: Jul 06, 2017
सावधान: ज्‍यादा पनीर खाने से हो सकती है ये जानलेवा बीमारी!

क्या पनीर आपका फेवरेट फूड है? अगर आप पनीर का सेवन अधिक मात्रा में करते हैं तो थोड़ा सतर्क हो जाइए। आपके लिए ये बुरी खबर हो सकती है, क्योंकि पनीर के सेवन से संबंधित एक रिसर्च में बताया गया है कि पनीर में सेचुरेटेड फैटी एसिड ज्यादा होता है और पनीर के बहुत ज्यादा सेवन से दिल के रोगों की आशंका बढ़ जाती है।

इसे भी पढ़ें: अच्‍छी नींद के लिए डिनर के बाद खाएं ये हेल्‍दी स्‍नैक्‍स

वैज्ञानिकों के मुताबिक दूध, मक्खन, मांस और चॉकलेट्स आदि का भी जरूरत से ज्यादा इस्तेमाल खतरनाक हो सकता है। ये भी सेचुरेटेड फैटी एसिड के प्रमुख स्रोत हैं। एक सीमा तक इनका इस्तेमाल सही है लेकिन इनका जरूरत से ज्यादा सेवन आपको दिल का रोगी बना सकता है। रिसर्च के अनुसार इन चीजों के बजाए अगर अनाज, कार्बोहाइड्रेट या प्रोटीन आदि का सेवन करना ज्यादा सही होता है।  
 
हॉर्वर्ड टीएचएन स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ में पीएचडी स्कॉलर जेंग जांग के मुताबिक, बैलेंस्ड डाइट की सिफारिशों में सेचुरेटेड फैट को अनसैचुरेटेड फैट या खड़े अनाज से बदले जाने की बात होनी चाहिए। यह हार्ट या नर्व से संबंधित रोगों को रोकने के तौर पर प्रभावी कदम होगा।

इसे भी पढ़ें: पनीर खाने के स्वास्थ्य लाभ के बारे में जानें

क्या होता है सैचुरेटेड फैट

कोई भी फैट, जो कमरे के तापमान पर भी जमा रहता है वह सैचुरेटेड फैट होता है और संतुलित मात्रा मे इसका इस्तेमाल किया जाए तो हार्ट के लिए अच्छा होता है।  स्वस्थ जीवन के लिए हम जितनी कैलोरी लेते हैं उसका 25-35 फीसदी या उससे कम हिस्सा ही फैट का होना चाहिए। सैचुरेटेड फैट कुल कैलोरी का 7 फीसदी से कम होना चाहिए।

 

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Diet and Nutrition In Hindi

Disclaimer