Eye Care Tips: सर्दियों में बढ़ जाती है आंखों में ड्राईनेस की समस्या, जानें इसका कारण और बचाव के उपाय

Dry Eyes Causes in Winters : सर्दियों के मौसम में ठंडी हवाओं, पानी कम पानी और कई कारणों से आंखों में ड्राइनेस की समस्या हो सकती है।

Ashu Kumar Das
Written by: Ashu Kumar DasUpdated at: Jan 11, 2023 13:33 IST
Eye Care Tips: सर्दियों में बढ़ जाती है आंखों में ड्राईनेस की समस्या, जानें इसका कारण और बचाव के उपाय

Winter Eye Care Tips: आंखें शरीर का सबसे नाजुक हिस्सा होती हैं। आंखों को सही तरीके से ध्यान न रखा जाए तो इंसान अपने जीवन का आधार खो देगा अगर ऐसा कहा जाए तो गलत नहीं होगा। खासकर सर्दियों के मौसम में आंखों को खास देखभाल की जरूरत होती है। सर्द हवाएं, धूप की कमी और पर्याप्त मात्रा में पानी न पीने की वजह से आंखों में ड्राइनेस की समस्या होना बहुत ही आम मानी जाती है। आंखों में ड्राइनेस होने की वजह से खुजली और इंफेक्शन का खतरा (Eyes Infections in Winter) भी कई गुणा बढ़ जाता है। इतना ही नहीं सर्दियों के मौसम में चलने वाला हीटर भी आंखों में ड्राइनेस की वजह बन सकता है। एक्सपर्ट्स का मानना है कि सर्दियों के मौसम में आंखों की सही देखभाल न की जाए तो ये कई बीमारियों का कारण बन सकती है।

दिल्ली, नोएडा, गाजियाबाद समेत पूरे उत्तर भारत में इन दिनों कड़ाके की सर्दी पड़ रही है और लोगों को आंखों में खुजली, दर्द और जलन महसूस हो रही है। इसलिए आज इस लेख में हम आपको बताएंगे सर्दियों में आंखों की ड्राइनेस के कारण (Causes of Dry Eyes in winter) और बचाव के उपाय।

Winter_Eye_Dry_thumb

सर्दियों में आंखों की ड्राइनेस का कारण - Causes of Dryness of Eyes in Winter

सर्दियों के मौसम में हीटिंग, सर्द हवाएं, आंखों का ठंडी हवाओं के संपर्क में आने की वजह से ड्राइनेस की समस्या हो सकती है। कई बार आंखों को धूप की रोशनी न मिलने की वजह भी ड्राइनेस की समस्या का सामना करना पड़ सकता है। सर्दियों में इनडोर हीटिंग की वजह से भी ड्राइनेस की समस्या आम मानी जाती है।

इसे भी पढ़ेंः कानपुर में 7 दिनों में हार्ट अटैक से 98 मौत, जानें शीत लहर में हार्ट अटैक से बचने के लिए क्या करें?

आंखों की ड्राइनेस दूर करने के लिए क्या करें?

1. हीटर से थोड़ी सावधानी बरतें

सर्द हवाओं के प्रकोप से बचने के लिए ज्यादातर लोग अपने कमरे में हीटर और रूम ब्लोअर का इस्तेमाल करते हैं। हीटर और रूम ब्लोअर का इस्तेमाल करते वक्त ध्यान दें कि हवा का रुख शरीर के नीचे वाले हिस्से पर हो। ब्लोअर की हवा सीधे आंखों के संपर्क में न आए इसकी पूरी कोशिश करें। इसके साथ ही हीटर से थोड़ी दूर बनाकर बैठें, ताकि उसकी गर्माहट सीधे आंखों को प्रभावित न करें।

2. आंखों को रगड़ने से बचें

सर्दियों में आंखों में ड्राइनेस की समस्या होने पर कई बार लोगों को खुजली और जलन सी महसूस होती है। जलन और खुजली को ठीक करने के लिए लोग आंखें रगड़ने लगते हैं। आंखों को रगड़ने से इंफेक्शन का खतरा कई गुणा बढ़ जाता है।  अगर आपको आंखों में जलन महसूस हो रही है तो इसे ठंडे पानी से धोएं। 

Winter_Eye_Dry_thumb

3. शरीर को हाइड्रेट रखें

सर्दियों में लोग पानी कम पीते हैं। पानी कम पीने की वजह से शरीर को पर्याप्त मात्रा में हाइड्रेशन नहीं मिल पाता है, जिसकी वजह से आंखों में ड्राइनेस की समस्या हो सकती है। आंखों की ड्राइनेस को खत्म करने के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी पिएं।

4. चश्मा लगाकर घर से बाहर निकलें

गर्मियों के मौसम में लोग लू से बचने के लिए सनग्लास और चश्मों का इस्तेमाल करते हैं, लेकिन सर्दियों के मौसम में ऐसा नहीं करते हैं। ठंड में 10 में 9 लोग बिना चश्मे के ही घर से बाहर निकल जाते हैं। सर्दियों में चलने वाली ठंडी हवाएं आंखों को नुकसान पहुंचाती हैं। सर्द हवाओं के साथ धूल के कण और जहरीला धुआं आंखों में जाता है, जिसकी वजह से आंखों में ड्राइनेस की समस्या हो सकती है। ऐसे में घर से बाहर निकलते वक्त आंखों पर चश्मा जरूर लगाएं।

Pic Credit: Freepik.com

 
Disclaimer