बिना दूध की चाय आपकी सेहत को दुरुस्त रखने में करती है मदद, जानें दूध की चाय से होने वाले 5 नुकसान

दूध में पत्ती लगाकर बनाई जाने वाली चाय के बारे में आपने सुना होगा लेकिन क्या आप जानते हैं ये आपकी सेहत को बिगाड़ भी सकती है। 

 

Jitendra Gupta
Written by: Jitendra GuptaPublished at: Dec 27, 2019
बिना दूध की चाय आपकी सेहत को दुरुस्त रखने में करती है मदद, जानें दूध की चाय से होने वाले 5 नुकसान

चाय पीने से आप ह्रदय रोगों से सुरक्षित रह सकते हैं लेकिन चाय में दूध मिला देने से उसके सभी फायदे खत्म हो जाते हैं। इतना ही नहीं अत्याधिक शुगर भी आपके शरीर के लिए नुकसानदेह है। चाय पीने को आपके दिल के लिए फायदेमंद और कैंसर की रोकथाम में प्रभावी बताया गया है। दरअसल चाय में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो आपको आराम देने में मदद करते हैं। लेकिन शोधकर्ताओं का कहना है कि चाय में दूध मिलाने से चाय में मौजूद तत्वों की जैविक गतिविधियां बदल जाती है और इसके सकरात्मक प्रभाव नष्ट हो जाते हैं। शोध में लोगों को ब्लैक टी पीने की सलाह दी गई है ताकि आपको चाय के सभी लाभ मिल सकें।

tea

शोध में एक बात और सामने आई है कि चाय में पाया जाने वाला फ्लेवनॉयड, जिसे कैटेचिन कहते हैं हमारे ह्रदय के लिए अच्छा माना जाता है। लेकिन अध्ययन में दर्शाया गया कि दूध में पाए जाने वाले एक प्रकार के प्रोटीन (कैसीन) के समूह चाय के साथ मिलकर कैटेचिन की सघनता में कमी लाते हैं। इसलिए दूध की चाय पीना आपके लिए हानिकारक हो सकता है। इस लेख में हम आपको ऐसे ही कुछ हानिकारक प्रभावों के बारे में बताने जा रहे हैं, जो दूध की चाय पीने से होते हैं।

अनिद्रा

कॉफी की तरह, चाय भी कैफीन से भरपूर होती है। दिन में दो कप से अधिक चाय पीने से नींद की बीमारी हो सकती है। नींद की बीमारी को दूध और चीनी की चाय के सबसे आम दुष्प्रभावों में से एक माना जाता है। दूध की चाय आपके मानसिक स्वास्थ्य को भी बाधित कर सकती है। यह चिंता, तनाव, बेचैनी को बढ़ाने का काम करती है।

इसे भी पढ़ेंः रात को सोते वक्त चाय पीने से नींद जाएगी नहीं बल्कि आएगी, ये 5 चाय हैं झट से नींद लाने में फायदेमंद

चहरे पर दाने (पिंपल्स)

दूध वाली चाय पीने का एक और प्रमुख दुष्प्रभाव है पिंपल्स। जब कम मात्रा में ची पी जाती है तो ये आपके शरीर को डिटॉक्सीफाई करने में मदद कर सकती है। हालांकि, चाय का अधिक सेवन अत्यधिक गर्मी उत्पन्न कर सकता है और शरीर के रसायनों में असंतुलन पैदा कर सकता है। इससे चेहरे पर पिंपल्स की समस्या हो जाती है।

tea

कब्ज

चाय में मौजूद थियोफिलाइन नामक रसायन आपके शरीर को डिटॉक्सीफाई करने में मदद कर सकता है। लेकिन बहुत अधिक थियोफिलाइन आपको डिहाइड्राइश का शिकार बना सकता है, जिसके कारण अत्यधिक कब्ज भी पैदा हो सकती है।

इसे भी पढ़ेंः चाय पीने के हैं शौकीन तो पीएं ये 5 प्रकार की चाय तेजी से घट जाएगी शरीर पर जमा चर्बी, जानें और गजब के फायदे

पेट का फूलना

बहुत ज्यादा दूध वाली चाय से पेट फूल सकता है। चाय में कैफीन आपके पेट को फूलाने में मदद कर सकता है। चाय में दूध मिलाने से स्थिति खतरनाक भी हो सकती हैं क्योंकि दूध और कैफीन गैस निर्माण को बढ़ाने का काम करते हैं।

पोषक तत्वों की कमी

चाय के अधिक सेवन का एक अन्य दुष्प्रभाव पोषक तत्वों की कमी भी है। कई अध्ययनों में कहा गया है कि चाय और दूध एक साथ पीना शरीर में आवश्यक पोषक तत्वों के अवशोषण में बाधा डाल सकता है। बहुत अधिक चाय आयरन और जिंक की कमी का कारण बन सकती है।

Read More Articles On Miscellaneous In Hindi

Disclaimer