नाक में उंगली करने की आदत बन सकती है इन 5 गंभीर समस्‍याओं का कारण

आपने बहुत से लोगों को नाक में उंगली करते देखा होगा। यह एक गंदी आदत है, जो आपके लिए काफी नुकसान भी पहुंचा सकती है। बार-बार नाक में उंगली करना नाक में खून आने के अलावा कई और तरह की समस्‍याएं पैदा करता है।    

Sheetal Bisht
Written by: Sheetal BishtPublished at: Sep 01, 2019Updated at: Sep 01, 2019
नाक में उंगली करने की आदत बन सकती है इन 5 गंभीर समस्‍याओं का कारण

आपने बहुत से लोगों को नाक में उंगली करते देखा होगा। यह एक गंदी आदत है, जो आपके लिए काफी नुकसान भी पहुंचा सकती है। जी हां नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इन्फॉर्मेशन, U.S.A में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, दुनिया की 91 प्रतिशत आबादी को अपनी नाक में उंगली करने की बुरी आदत है। जिसके कई कारण होते हैं जैसे- सूखी नाक, बहुत नम नाक और नाक में धूल के कण ये सभी चीजें नाक में असुविधा पैदा कर सकती हैं। लेकिन ऐसे अध्ययन हैं जो साबित करते हैं कि नाक में उंगली डालना तनाव और चिंता से जुड़ा हुआ है। नाक में उंगली डालने की आदत को जल्दी बंद कर देना ही सही है क्‍योंकि आपकी यह आदत कई गंभीर समस्या पैदा कर सकती है।

बैक्‍टीरियल इंफेक्‍शन

नाक में उंगली डालने की आदत आपकी नाक में इंफेक्‍शन पैदा कर सकती है। आपके नाखूनों की वजह से नाक के ऊतकों में हल्‍की खरोंच या चोट पहुंचती है, जो एक बैक्‍टीरियल इंफेक्‍शन की समस्‍या पैदा करता है। जो लोग अपनी नाक में उंगली करते हैं, उनमें स्टैफ़ीलोकोक्क्स ऑरियस जैसे बैक्टीरिया के प्रवेश करने का अच्‍छा मौका मिलता है और जिससे आपको बैक्टिीरियल इंफेक्‍शन से गुजरना पड़ता है। 

नाक से खून 

नाक में बार-बार उंगली करने की आदत से रक्‍त वाहिकाओं को नुकसान पहुंचने का खतरा रहता है, जिससे कभी-कभी वह फट सकती हैं और यह आपके नाक से खून आने का कारण बन सकता है। जो लोग बार-बार नाक में उंगली करते हैं, उनकी नाक भी धीरे-धीरे सेंसिटिव हो जाती है। 

इसे भी पढें: डिप्रेशन व तनाव का कारण बन सकता है आपका गलत खानपान

नाक गुहा को नुकसान 

नाक गुहा चेहरे और नाक के और पीछे एक बड़ा, हवा से भरा स्थान होता है। नाक गुहा को दो भागों में विभाजित होती है। नाक गुहा श्वसन प्रणाली का सबसे ऊपर का हिस्सा है और नाक से अंदर साँस लेने का मार्ग प्रदान करती है। आपके बार-बार नाक में उंगली डालने से नाक के ऊतकों में सूजन हो सकती है, जो नाक से सांस लेने वाले मार्ग को संकीर्ण कर सकती है और सांस लेने में मुश्किल पैदा कर सकती है।

घावों

जब आप बार-बार नाक में उंगली करते हैं, तो आप अपने आस-पास के उन सभी बै‍क्‍टीरिया को प्रवेश का बुलावा देते हैं, जो सामान्‍य तौर पर आपके नाक में प्रवेश नहीं कर पाते। इसके अलाव नाक में उंगली करते वक्‍त कई बार आपके नाक के बाल भी टूट या फिर उठ जाते हैं, जिससे रोम से बाल हटने से नाक के वेस्टिबुलिटिस में घाव और सूजन हो सकती है। वह घावों कई बार और अधिक दर्दनाक भी हो सकते हैं। 

इसे भी पढें: शरीर की बदबू भी खोलती है आपके स्वास्थ्य से जुड़े राज, इन 5 अंगों की बदबू को न करें नजरअंदाज

सेप्टम को नुकसान

अपनी नाक में बार-बार उंगली करने से आप अपनी नैसल सेप्टम को सबसे अधिक नुकसान पहुंचाते हैं। क्‍योंकि आपका ऐसा करने से सेप्टम टूट सकती है या आपकी यह आदत इसमें छेद कर सकती है।

Read More Article On Other Diseases In Hindi

Disclaimer