COVID-19 के शिकार हो सकते हैं मोटापे से ग्रस्त बच्चे, जानें बच्चों को मोटापे से बचाने के लिए CDC की गाइडलाइन

 बीएमआई को माप कर बचपन में मोटापे की पहचान की जा सकती है। 85 प्रतिशत से 95 प्रतिशत तक बीएमआई वाले बच्चे मोटापे से ग्रस्त माने जाते हैं।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Aug 05, 2020
COVID-19 के शिकार हो सकते हैं मोटापे से ग्रस्त बच्चे, जानें बच्चों को मोटापे से बचाने के लिए CDC की गाइडलाइन

मोटापा कई स्वास्थ्य समस्याओं का प्रमुख कारण है और विश्व स्तर पर लगभग दो अरब बच्चे और वयस्क इस तरह की समस्याओं से पीड़ित हैं। वहीं कोरोनावायरस को देखते हुए सीडीसी (Centers for Disease Control and Prevention) के अनुसार मोटापे से ग्रस्त बच्चे आसानी से COVID-19 के शिकार हो सकते हैं। दरअसल सीडीसी के नए आंकड़ो के अनुसार 13.7 मिलियन से ज्यादा बच्चे बचपन से ही मोटापा ग्रस्त रहते हैं। ऐसे में कोरोनावायरस के दौरान जब हम अपने घर पर हैं, तो जरूरी है कि हम अपने बच्चों के खानपान का खास ध्यान रखें। ऐसे में सीडीसी ने बच्चों को मोटापे से बचाने के लिए कुछ गाइडलाइन्स भी जारी की है। तो आइए पहले जानते हैं इस रिपोर्ट के बारे में और फिर बच्चों में मोटापा कैसे कम किया जाए।  

insidecovid19

क्या कहती है मोटापे से ग्रस्त बच्चे में कोरोना से जुड़ी ये रिपोर्ट?

सीडीसी (Centers for Disease Control and Prevention) के अनुसार कोरोनावायरस के इस दौर में मोटा से ग्रस्त बच्चों जिन्हें अन्य बीमारियों का भी खतरा है, वो आसानी से कोरोनावायरस के शिकार हो सकते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि मोटापा आपके प्रतिरक्षा प्रणाली को कमजोर करता है। जो लोग मोटे हैं, वे भी खतरनाक लक्षणों का अनुभव करने की संभावना रखते हैं। ऐसे में बाकी बीमारियों से ग्रस्त लोगों की तरह ही मोटापे से पीड़ित लोगों को भी COVID-19 से संक्रमित होने का खतरा है।

ऐसे में जरूरी है कि बच्चे के अभिभावकों को उनका अतिरिक्त ख्याल रखने की कोशिश करनी चाहिए। एक अच्छे अभिभावक के रूप में, हमारे बच्चों के खाने की आदतों को आकार देने और स्वस्थ भोजन और व्यायाम करने की आदतों पर भी खास ध्यान देना चाहिए। ऐसे में सबसे जरूरी है कि बच्चों के लिए पूरे दिन संतुलित भोजन की प्लानिंग हो और अतिरिक्त चीनी युक्त भोजन का सेवन करने से बचें। अगर आपके बच्चे बहुत ज्यादा मीठा खाना पसंद करते हैं, तो घर में मीठा लाना सीमित करें।

इसे भी पढ़ें : क्या अधिक बिस्कुट का सेवन आपके या बच्चों के स्वास्थ्य को प्रभावित करता हैं? नहीं जानते तो जान लीजिए इसका जवाब

बच्चों को मोटापे से बचाने के लिए CDC की गाइडलाइन (Ways to Prevent Childhood Obesity)

1. बच्चों में स्वस्थ आदतों का विकास करें

  • -सब्जियां, फल, और साबुत अनाज खाने को दें।
  • -पनीर और दही सहित कम वसा वाले या बिना वसा वाले दूध या डेयरी उत्पादों को शामिल करें।
  • -प्रोटीन के लिए लीन मीट, पोल्ट्री, फिश, दाल और बीन्स चुनें।
  • - बहुत सारा पानी पीने के लिए प्रोत्साहित करें।
  • - शुगर युक्त पेय पदार्थों को सीमित करें।
  • -चीनी और संतृप्त वसा की खपत को सीमित करें।
  • -खेल-कूद के लिए प्रोत्साहित करें।
  • -योग और एक्सरसाइज करवाएं।
insidecoronavirus

इसे भी पढ़ें : कोविड-19 के लक्षणों को लेकर स्पष्ट नहीं है आपका बच्चा, तो इस तरह करें बच्चे के स्वास्थ्य की निगरानी

2. कैलोरी से भरपूर खान पान को कम करें

हाई फैट और हाई चीनी या नमकीन स्नैक्स की उपलब्धता को कम करने से आपके बच्चों को स्वस्थ खाने की आदतों को विकसित करने में मदद मिल सकती है। केवल अपने बच्चों को इन खाद्य पदार्थों को खाने दें, जो 100 कैलोरी या उससे कम हों जैसे कि

  • -गाजर, ब्रोकोली और शिमला मिर्च खाने को दें।
  • -सेब या केला खाएं।
  • -ब्लूबेरी या अंगूर खाएं।

बच्चों को शारीरिक रूप से एक्टिव रहने और काम करने के लिए प्रोत्साहित करें। बच्चों को टीवी देखने, वीडियो गेम खेलने के समय को सीमित करें या प्रति दिन 2 घंटे तक कोई न कोई शारीरिक काम करवाएं। इसके अतिरिक्त, अमेरिकन एकेडमी ऑफ पीडियाट्रिक्स 2 साल या उससे कम उम्र के बच्चों के लिए टेलीविजन देखने की सलाह नहीं देता है। इसके बजाय, बच्चों को परिवार के सदस्यों के साथ या  अधिक गतिविधि में शामिल होने के लिए मजेदार गतिविधियों को खोजने के लिए प्रोत्साहित करें।

Read more articles on Childrens in Hindi

Disclaimer