अध्ययन में पाया गया कि आराम से बैठना (टीवी देखने के दौरान) हृदय रोग और मृत्यु के अधिक जोखिम से जुड़ा था।

"/>

लगातार एक ही जगह पर बैठकर टीवी देखने से बढ़ता है हार्ट अटैक का खतरा: शोध

अध्ययन में पाया गया कि आराम से बैठना (टीवी देखने के दौरान) हृदय रोग और मृत्यु के अधिक जोखिम से जुड़ा था।

Atul Modi
Written by: Atul ModiPublished at: Jul 06, 2019Updated at: Jul 06, 2019
लगातार एक ही जगह पर बैठकर टीवी देखने से बढ़ता है हार्ट अटैक का खतरा: शोध

एक अध्ययन में दावा किया गया है कि काम के दौरान लंबे समय तक बैठना दिल के लिए उतना बुरा नहीं हो सकता है जितना कि टीवी देखते समय बैठना। अमेरिका के कोलंबिया विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं के नेतृत्व में किए गए इस अध्ययन में पाया गया कि आराम से बैठना (टीवी देखने के दौरान) हृदय रोग और मृत्यु के अधिक जोखिम से जुड़ा था।

 

व्यायाम हृदय रोग की संभावना को कम करता है

जर्नल ऑफ द अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन में प्रकाशित शोध में यह भी पाया गया कि कुछ सरल और कठोर व्यायाम से लगातार बैठकर टेलीविजन देखने के हानिकारक प्रभावों को कम या समाप्त किया जा सकता है। लेखक केथ एम डियाज कहते हैं कि, "हमारे निष्कर्षों से पता चलता है कि जब आप किसी काम से घर के बाहर अपना समय बिताते हैं तो यह दिल की सेहत के लिए अधिक महत्वपूर्ण हो सकता है।"

महत्वपूर्ण निष्कर्ष क्या थे?

अध्ययन के लिए, शोधकर्ताओं ने लगभग 8.5 वर्षों तक 3,592 लोगों का अध्‍ययन किया। प्रतिभागियों ने बताया कि टीवी देखने और काम के दौरान उन्होंने आम तौर पर कितना समय बिताया। उन्होंने यह भी बताया कि अपने खाली समय में उन्होंने कितना समय व्यायाम में बिताया। 

निम्नलिखित बातों पर ध्यान दिया गया:

  • जिन प्रतिभागियों ने सबसे ज्‍यादा समय टीवी देखने (दिन में चार या अधिक घंटे) में व्‍यतीत किया था, उनमें टीवी कम देखने (दो घंटे से कम) वालों की तुलना में हृदय संबंधी घटनाओं और मृत्यु का 50 प्रतिशत अधिक जोखिम पाया गया। 
  • इसके विपरीत, जो लोग काम करने के लिए लगातार बैठे रहते थे, उनके स्वास्थ्य जोखिम भी कम बैठने वालों से ज्‍यादा थे। 

इससे बचाव क्‍या है

जो लोग लगातार टीवी देखते हैं उन्‍हें मध्यम से जोरदार शारीरिक गतिविधियों में हिस्‍सा लेना चाहिए, जैसे कि तेज चलना या एरोबिक व्यायाम करना आदि ये सभी दिल के दौरे, स्ट्रोक या मृत्यु के जोखिम को कम कर सकते हैं। अध्ययन के अनुसार, दिल का दौरा, स्ट्रोक या मृत्यु का कोई भी खतरा उन लोगों में नहीं देखा गया जो दिन में चार या अधिक घंटे टीवी देखते थे और सप्ताह में 150 मिनट या अधिक व्यायाम भी करते थे। 

Read More Health News In Hindi

Disclaimer