Expert

नार‍ियल की चटनी खाने से सेहत को म‍िलते हैं ये 5 फायदे

Nariyal Chutney Khane Ke Fayde: दक्ष‍िण भारत में नार‍ियल की चटनी चाव से खाई जाती है। आप इसे घर पर बनाकर खाएं। जानें इसकी हेल्‍दी रेस‍िपी और फायदे। 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Sep 12, 2022Updated at: Sep 12, 2022
नार‍ियल की चटनी खाने से सेहत को म‍िलते हैं ये 5 फायदे

नार‍ियल की चटनी, दक्ष‍िण भारत के खाने का अहम ह‍िस्‍सा है। चाहे नाश्‍ता हो या खाना इसे सभी के साथ परोसा जाता है। नार‍ियल के ताजे फ्लेवर से इस चटनी का स्‍वाद और भी ज्‍यादा बढ़ जाता है। नार‍ियल में फाइबर और लॉर‍िक एस‍िड की अच्‍छी मात्रा होती है ज‍िससे शुगर लेवल कंट्रोल होता है और सेहत में कोलेस्‍ट्रॉल व बीपी का स्‍तर न‍ि‍यंत्र‍ण में रहता है। इस लेख में हम नार‍ियल चटनी के फायदे और उसे बनाने का तरीका जानेंगे। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने The Nutriwise Clinic, लखनऊ की  न्‍यूट्रि‍शन‍िस्‍ट नेहा सिन्‍हा से बात की।   

coconut chutney benefits

नार‍ियल चटनी के गुण

नार‍ियल चटनी में फैट की मात्रा करीब 2 ग्राम होती है। कैलोरीज की बात करें, तो इसमें करीब 40 से 50 कैलोरीज हो सकती हैं। एक कटोरी चटनी में करीब 2 ग्राम कॉर्ब्स, प्रोटीन, सोड‍ियम आद‍ि मौजूद होगा। चटनी को 2 से 3 द‍िनों तक फ्र‍िज में रख सकते हैं। अगर चटनी में दही म‍िलाया है, तो इसे 1 से 2 द‍िनों से ज्‍यादा इस्‍तेमाल न करें।

इसे भी पढ़ें- नारियल दूध से बढ़ाएं बालों की ग्रोथ, इन 3 तरीकों से करें इस्तेमाल

नार‍ियल चटनी के फायदे 

नार‍ियल चटनी का सेवन करने से शरीर को कई फायदे म‍िलते हैं। जानते हैं ऐसे 5 लाभ

1. वजन घटता है 

नार‍ियल चटनी का सेवन करने से वजन कम करने में मदद म‍िलती है। आप भी बाजार का अचार और चटनी खाने के शौकीन हैं, तो आपको पता ही होगा क‍ि इनका सेवन करने से वजन तेजी से बढ़ने लगता है। इन व‍िकल्‍पों की जगह नार‍ियल चटनी खाएंगे, तो वजन घटाने में आसानी होगी। चटनी में कैलोरीज की मात्रा कम होती है।

2. खून बढ़ता है 

शरीर में खून की कमी या एनीम‍िया की श‍िकार हैं, तो आपको नार‍ियल चटनी का सेवन करना चाह‍िए। नार‍ियल की चटनी खाने से आयरन की कमी दूर होती है और शरीर में खून बढ़ता है। प्रेगनेंसी के दौरान मह‍िलाएं नार‍ियल चटनी का सीम‍ित सेवन कर सकती हैं।

3. इम्‍यून‍िटी बढ़ेगी 

नार‍ियल चटनी का सेवन करने से शरीर की रोग प्रत‍िरोधक क्षमता बढ़ती है। नार‍ियल चटनी में व‍िटाम‍िन, खन‍िज, कॉर्ब्स की अच्‍छी मात्रा होती है। नार‍ियल चटनी का सेवन हार्ट के मरीजों के ल‍िए भी फायदेमंद होता है। इसका सेवन करने से कोलेस्‍ट्रॉल का स्‍तर कंट्रोल में रहता है। इसका सेवन करने से मेटाबॉल‍िज्‍म रेट भी सुधरता है।

4. पाचन सुधरेगा 

बेहतर डाइजेशन के ल‍िए नार‍ियल चटनी का सेवन फायदेमंद होता है। नार‍ियल चटनी में फाइबर की अच्‍छी मात्रा पाई जाती है। इसका सेवन करने से गैस, पेट दर्द, कब्‍ज आद‍ि की श‍िकायत दूर होगी।  

5. बीपी कंट्रोल होगा 

ब्‍लड प्रेशर कंट्रोल करने के ल‍िए नार‍ियल की चटनी का सेवन फायदेमंद होता है। नार‍ियल की चटनी में एंटीबैक्‍टीर‍ियल गुण भी पाए जाते हैं। इसका सेवन करने से इंफेक्‍शन से भी बचाव होता है।       

नार‍ियल चटनी बनाने का तरीका 

सामग्री: राई, करी पत्ता, लाल म‍िर्च, नींबू का रस, हरी म‍िर्च, पानी, हरा धन‍िया, नमक और नार‍ियल।   

व‍िध‍ि:

  • नार‍ियल का छ‍िलका उतारकर उसे छोटे टुकड़ों में काट लें। 
  • नार‍ियल, हरा धन‍िया, नींबू का रस, नमक, हरी म‍िर्च और थोड़ा पानी डालकर पीस लें।  
  • चटनी को बाउल में न‍िकालकर रख लें।  
  • तड़का तैयार करने के ल‍िए कढ़ाई में तेल गरम करें और उसमें राई को हल्‍का भून लें।
  • अब राई में करी पत्ता और लाल म‍िर्च डालकर गैस बंद कर दें।
  • इस तड़के को म‍िश्रण में डाल दें। नार‍ियल चटनी तैयार है।       

नार‍ियल की चटनी का सेवन बच्‍चे भी कर सकते हैं लेक‍िन उसमें म‍िर्च की मात्रा कम डालें। लेख पसंद आया हो, तो शेयर करना न भूलें।    

Disclaimer