पीठ पर दाने निकलने का कारण और इलाज

अगर आपकी भी पीठ पर दाने निकलने की समस्या हो रही है तो यहां जानें पीठ पर दाने होने के कारण और इलाज भी। 

 
Kunal Mishra
Written by: Kunal MishraPublished at: May 24, 2021
पीठ पर दाने निकलने का कारण और इलाज

गर्मियों के दिनों में अक्सर त्वचा संबंधी परेशानियां होती हैं। जैसे दाने, सनबर्न, त्वचा का रंग फीका पड़ना आदि। ऐसे ही त्वचा संबंधी एक और समस्या युवाओं को परेशान कर रही है। गर्मियों में लोग पीठ पर होने वाले दानों से काफी परेशान रहते हैं। क्या आपकी पीठ पर भी दाने होते हैं, जो आपकी नींद में बाधा बनते हैं। क्या आपने कभी सोचा है कि पीठ पर दाने क्यों होते हैं? अगर नहीं, तो इस लेख के माध्यम से हम आपको इस समस्या का कारण और संभव इलाज के बारे में बताएंगे। यह समस्या वैसे तो कई कारणों से होती है। अगर आप काफी समय से दवाओं का सेवन कर रहे हैं तो पीठ पर हो रहे दानों के तौर पर भी इसका साइड इफेक्ट देखा जा सकता है। इसी विषय पर विस्तार से जानने के लिए आज हमने मुंबई की जनरल फीजिशियन  डॉक्टर पायल भोले (Dr. Payal Bhole, General Physician) से बातचीत की। चलिए जानते हैं पीठ पर पड़ने वाले दानों के बारे में। 

acting

पीठ पर दाने होने के कारण (Causes of Back Acne)

  • डॉ. पायल भोले के मुताबिक कई बार ऑयली स्किन वाले लोगों के भी पीठ पर दाने निकलने जैसी समस्या हो सकती है। चूंकि पीठ के दानों और मुंह पर निकलने वाले दानों में कोई अंतर नहीं होता है। इसलिए तैलीय त्वचा वाले लोगों में यह समस्या हो सकती है। 
  • कई बार हार्मोन में बदलाव आने से भी आपको इस समस्या का सामना करना पड़ सकता है। 
  • कई प्रकार की दवाइयां लेने या फिर अधिक समय तक दवाओं का सेवन करने से भी इसके साइड इफेक्ट के रूप में पीठ पर दाने देखे जा सकते हैं। 
  • पीठ पर ज्यादा पसीने का जमाव होने पर भी पीठ पर दाने हो सकते हैं। अगर आप लंबे समय तक पीठ के बल लेटे हैं, तो उस हिस्से में पसीना जमा हो सकता है। जिससे दाने हो सकते हैं। 
  • कुछ मामलों में यह समस्या जैनेटिक भी हो सकती है। 

पीठ पर दाने निकलने का इलाज

1. कीटोकोनाजोल शैंपू (Ketoconazole Shampoo)

डॉ. पायल भोले बताती हैं कि ऐसे लोग जिनमें ज्यादा दाने नहीं होते हैं। वे लोग कुछ ब्यूटी प्रोडक्टस लगाकर भी इस समस्या से राहत पा सकते हैं। इसके लिए बाजार में कीटोकोनाजोल शैंपू उपलब्ध है। यह शैंपू खासतौर पर फंगल इंफेक्शन से राहत दिलाने में मददगार साबित होता है। स्कैल्प के लिए फायदेमंद होने के साथ ही यह पीठ पर निकले दानों के हल्के लक्षणों में मददगार होता है। इसे डर्मेटोलॉजिस्ट की सलाह के बाद ही लगाएं। 

dawa

2. ओरल एंटी बायोटिक (Oral Anti Biotics)

डॉ. पायल भोले के मुताबिक यदि बैक एक्ने यानि पीठ पर दाने की समस्या बढ़ जाती है तो कई बार चिकित्सक मरीज को ओरल एंटी बायोटिक लेने की सलाह भी देते हैं। इससे शरीर में बैक्टीरिया की मात्रा घटती है। यह आपके पीठ के दानों को आसानी से घटा सकते हैं और त्वचा को पहले की तरह ही चमकदार बने रहने में मददगार साबित हो सकते हैं। 

3. बैंजोइल पैरोक्साइड (Benzoyl Peroxide)

डॉ. पायल ने बताया कि वैसे तो यह समस्या किसी भी उम्र के लोगों में हो सकती है, लेकिन 15 से 35 वर्ष के लोगों में इसके मामले ज्यादा देखे जाते हैं। बैंजोइल पैरोक्साइड की मदद से दानों को कम किया जा सकता है। मुहासों और दानों से छुटकारा पाने के लिए यह एक कारगर तरीका माना गया है। यह आपके रोम छिद्रों में को खोलने में काफी मदद करता है। इसके लिए आप बैंजोइल पैरोक्साइड से बने साबुन या फिर बॉडी वॉश या अन्य ब्यूटी प्रोडक्टस का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। 

4. हार्मोन थेरेपी (Hormone Therapy)

डॉ. पायल के अनुसार कई बार पीठ पर हो रहे दानों की वजह हार्मोन में बदलाव भी हो सकता है। इसलिए अन्य इलाज आजमाने के बाद भी मरीज में सकारात्मक परिणाम नहीं देखे जाते हैं तो चिकित्सक आपको हार्मोन थेरेपी की भी सलाह दे सकते हैं। हालांकि यह सलाह कुछ ही मामलों में दी जाती है। इसलिए बिना चिकित्सक की सलाह के इस थेरेपी का सहारा न लें। 

इसे भी पढ़ें - आपके पेट और मस्तिष्क का आपस में क्या है कनेक्शन? समझें कैसे एक-दूसरे को प्रभावित करते हैं ये

5. फ्राइड फूड्स और मिल्क प्रोडक्टस न लें (Avoid Fried Foods and Milk Products)

पीठ पर दाने होने में काफी हद तक डाइट भी माइने रखती है। अधिक मात्रा में तैलीय पदार्थों का सेवन करने से भी आपको पीठ में दाने होने की समस्या हो सकती है। इसलिए फ्राइड फूड यानि तैलीय पदार्थों से दूरी बनाकर रखें। साथ ही चॉकलेट और कुछ मिल्क प्रोडक्टस से दूर रहें और एक बेहतर डाइट फॉलो करें, जिससे आपका इम्यून सिस्टम मजबूत रहे साथ ही मुहासों जैसी समस्या न हों। 

यह लेख चिकित्सक द्वारा प्रमाणित है। इसमें दिए गए तमाम उपचारों को अपने डर्मेटोलॉजिस्ट की सलाह के बाद ही अपनाएं। अगर आप त्वचा संबंधी किसी गंभीर समस्या से जूझ रहे हैं तो लेख में दी गई डाइट भी चिकित्सक की सलाहनुसार ही लें। 

Read more Articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer