कोरोना संदिग्ध या संक्रमित महिलाएं अपने बच्चों को स्तनपान करा और छू सकती हैं? जानें बच्चे को सेफ रखने के टिप्स

COVID-19: कोरोना से संक्रमित या संदिग्ध गर्भवती महिलाएं अपने बच्चे को कोरोना फैला सकती हैं या नहीं, जानें इस सवाल का जवाब। 

Jitendra Gupta
Written by: Jitendra GuptaPublished at: Mar 23, 2020
कोरोना संदिग्ध या संक्रमित महिलाएं अपने बच्चों को स्तनपान करा और छू सकती हैं? जानें बच्चे को सेफ रखने के टिप्स

देश-दुनिया में दहशत का माहौल बना चुके कोरोनावायरस से पुरुषों के साथ-साथ महिलाओं को अपनी सेहत के साथ-साथ अपने बच्चों का भी खास ख्याल रखना पड़ रहा है। कई शोध पहले भी बच्चों और महिलाओं को पुरुषों की तुलना में कम संक्रमित होने का खतरा जा रहे हैं लेकिन वास्तविकता इससे परे हैं। वे महिलाएं,विशेष रूप से गर्भवती महिलाएं जिनकी इम्यूनिटी कमजोर है उन्हें खास देखभाल की जरूरत है। कुछ गर्भवती महिलाएं इस कारण से डर के साए में जी रही हैं, कहीं वह अपने बच्चे को संक्रमित न कर दें। इतना ही नहीं वे महिलाएं, जो हाल ही में मां बनी हैं उनके मन में भी स्तनपान कराने को लेकर डर बैठा हुआ है कि बच्चे को दूध पिलाएं या नहीं। इस डर को दूर करते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्लूएचओ) ने कुछ जरूरी जानकारी मुहैया कराई, जो आपके लिए जानना बेहद जरूरी है। 

breastfeeding

गर्भवती महिलाओं पर कोरोना का प्रभाव

डब्लूएचओ के मुताबिक, वर्तमान में गर्भवती महिलाओं पर COVID 19 संक्रमण के प्रभावों को समझने के लिए शोध चल रहा है। डेटा सीमित हैं, लेकिन वर्तमान में कोई सबूत नहीं है कि वे सामान्य आबादी की तुलना में गंभीर बीमारी के उच्च जोखिम में हैं। हालांकि हम जानते हैं कि गर्भवती महिलाओं के शरीर और इम्यूनिटी सिस्टम में बदलाव के कारण वह   कुछ श्वसन संक्रमणों से बुरी तरह प्रभावित हो सकती हैं। इसलिए यह महत्वपूर्ण है कि वे COVID -19 से खुद को बचाने के लिए सावधानी बरतें, और अपने डॉक्टर को संभावित लक्षण (बुखार, खांसी या सांस लेने में कठिनाई सहित)के बारे में बताएं।

कोरोना से कैसे बचें गर्भवती महिलाएं

गर्भवती महिलाओं को अन्य लोगों की तरह ही COVID-19 संक्रमण से बचने के लिए भी सावधानी बरतनी चाहिए। आप इन तरीकों से खुद का  बचाव कर सकती हैं:

  • एल्कोहल बेस्ड हैंड रब या फिर साबुन और पानी के साथ अपने हाथों को बार-बार धोएं।
  • अपने और दूसरों के बीच दूरी बनाए रखें।
  • अपनी आंख, नाक और मुंह को छूने से बचें।
  • श्वसन स्वच्छता का अभ्यास करें। इसका मतलब है खांसी या छींक आने पर अपनी कोहनी या टिश्यू से अपने मुंह और नाक को ढंकें। फिर इस्तेमाल किए गए टिश्यू को तुरंत कूड़ेदान में फेंके। 
  • अगरआपको बुखार, खांसी या सांस लेने में कठिनाई है तो जल्दी से डॉक्टर से मिलें। डॉक्टर से मिलने से पहले कॉल करें, और अपने स्थानीय स्वास्थ्य प्राधिकरण के निर्देशों का पालन करें।
  • गर्भवती महिलाएं और वे महिलाएं जिन्होंने हाल ही में बच्चे को जन्म दिया है,  जिनमें COVID-19 से प्रभावित लोग शामिल हैं उन्हें अपना रूटीन चेकअप कराना चाहिए।

इसे भी पढ़ेंः लॉकडाउन का असर 'बेअसर', डब्लूएचओ ने माना इससे खतरा टलेगा नहीं और बढ़ेगा, जानें क्या है इसके पीछे का असल कारण

क्या गर्भवती महिलाएं करा सकती हें कोरोना का टेस्ट

आप जहां रहती हैं, उसके आधार पर जांच प्रोटोकॉल और पात्रता अलग-अलग हो सकती है। हालांकि, डब्ल्यूएचओ की सिफारिश के मुताबिक, कोरोना के लक्षणों वाली गर्भवती महिलाओं को परीक्षण के लिए प्राथमिकता दी जानी चाहिए। अगर उन्हें कोरोना है या फिर वह कोरोना पॉजिटिव पाई जाती हैं तो उन्हें विशेष देखभाल की आवश्यकता हो सकती है।

क्या मां से बच्चे में फैल सकता है कोरोना

डब्लूएचओ के मुताबिक, अभी इस बात का पता नहीं चल पाया है कि कोरोना वाली गर्भवती महिला गर्भावस्था या प्रसव के दौरान अपने भ्रूण या बच्चे को वायरस दे सकती हैं या नहीं। आज तक, वायरस एमनियोटिक द्रव या ब्रेस्टमिल्क के नमूनों में नहीं पाया गया है।

कोरोना की संदिग्ध महिलाओं को कराना चाहिए सीजेरियन ?

डब्ल्यूएचओ की सलाह है कि सीज़ेरियन सेक्शन केवल तभी किया जाना चाहिए जब चिकित्सकीय रूप से उचित हो नहीं तो इससे बचना चाहिए। जन्म किस तरीके से हो ये व्यक्तिगत फैसला होना चाहिए और प्रसूति संबंधी संकेतों के साथ महिला की प्राथमिकताओं के आधार पर होना चाहिए।

इसे भी पढ़ेंः COVID-19: फेफड़ों को नहीं, शरीर के इस अंग को सबसे पहले अपना निशाना बनाता है कोरोना, जानें कैसे रखें इसे ठीक

क्या कोरोना संक्रमित महिला बच्चों को दूध पिला सकती हैं

डब्लूएचओ के मुताबिक, हां। यदि वे ऐसा करना चाहें तो COVID -19 वाली महिलाएं स्तनपान करा सकती हैं। बस उन्हें ये सावधानियांरतनी चाहिए:

खाना खाने के दौरान श्वसन स्वच्छता का अभ्यास करें, जहां जरूरत हो वहां मास्क लगाएं। 

बच्चे को छूने से पहले और बाद में हाथ धोएं।

उन जगहों  को नियमित रूप से साफ और कीटाणुरहित रखें जहां उन्होंने छुआ है।

breastfeedingduringcorona

क्या कोरोना पीड़ित अपने बच्चे को छू सकती हैं

डब्लूएचओ के मुताबिक, हां। आप अपने बच्चे के साथ निकट संपर्क बना सकती है बशर्ते आपको इन बातों का ख्याल रखना होगाः 

साफ-सफाई का ध्यान रखते हुए स्तनपान कराएं। 

अपने नवजात शिशु की त्वचा को ही पकड़ें। 

अपने बच्चे के साथ रूम शेयर कर सकती हैं। 

अपने बच्चे को छूने से पहले और बाद में हाथों को धोएं। इसके साथ ही सभी सतहों को साफ रखना चाहिए।

Read More Articles On Coronavirus In Hindi

Disclaimer