मस्तिष्क एन्यूरिज्म (धमनी विस्फार) के क्या होते हैं लक्षण, जानें कब होता है खतरनाक

मस्तिष्क एन्यूरिज्म खतरनाक और जानलेवा स्थिति होती है जिसमें कई बार दिमाग की धमनी फट सकती है। जानें इसके लक्षण और खतरे।

Monika Agarwal
अन्य़ बीमारियांWritten by: Monika AgarwalPublished at: May 08, 2021Updated at: May 08, 2021
मस्तिष्क एन्यूरिज्म (धमनी विस्फार) के क्या होते हैं लक्षण, जानें कब होता है खतरनाक

मस्तिष्क एन्यूरिज्म (धमनीविस्फार) (Brain Aneurysm) के दौरान आपके दिमाग की कोई ब्लड वेसल एक गुब्बारे की तरह फूल जाती है और वह ऐसी लगती है जैसे किसी पेड़ पर कोई बेर लटक रही हो। यह लीक हो सकती है या फट भी सकती है जिससे आपके दिमाग में ब्लीडिंग होनी शुरू हो जाती है। मुख्य रूप से ऐसा ब्रेन और पतले टिश्यू के बीच वाले स्पेस में ही होता है। यह एक प्रकार का स्ट्रोक होता है और ऐसी स्थिति जानलेवा होती हैं। इसलिए तुरंत मेडिकल इलाज करवाना बहुत जरूरी होता है। इस प्रकार की स्थिति में न तो आपको कोई लक्षण दिखता है न आम तौर पर आपको कोई शारीरिक स्थिति महसूस होती है। ऐसा केवल किसी मेडिकल टेस्ट के दौरान ही पता चल पाता है।

brain aneurism

मस्तिष्क एन्यूरिज्म (धमनीविस्फार) के लक्षण

टूटे हुए धमनीविस्फार (Brain Aneurysm) के लक्षण की स्थिति में सबसे पहले आपको सिर दर्द महसूस होगा। इस सिर दर्द को आप आज तक का होने वाला सबसे भयंकर सिर दर्द भी कह सकते हैं। इसके मुख्य लक्षण निम्न हैं :

  • अचानक से बहुत तेज सिर दर्द होना
  • उल्टियां आना या जी घबराना
  • गर्दन का अकड़ना
  • दो दिखाई देना या धुंधला दिखना
  • लाइट से सेंसिटिव होना
  • दुविधा में रहना
  • होश में न रहना

लीकिंग धमनीविस्फार (धमनी फटने) के लक्षण

इस प्रकार के लीकिंग धमनीविस्फार (Brain Aneurysm) में भी आपको सबसे अधिक सिर दर्द वाला लक्षण ही महसूस होगा।

  • आंख के ऊपर या पीछे दर्द होना
  • आंखों की पुतलियों का चौड़ा होना
  • दिखने में बदलाव होना या धुंधला दिखना
  • मुंह की एक साइड का सुन्न पड़ जाना
  • व्यक्ति का बेहोश हो जाना

डॉक्टर के पास आपको कब जाना चाहिए?

अगर आपको बहुत तेज सिर दर्द होते हैं तो आपको तुरंत डॉक्टर के पास चले जाना चाहिए। अगर आप किसी ऐसे व्यक्ति के पास हैं जिन्हें बहुत अधिक सिर दर्द होने की तकलीफ है या वह बेहोश हो जाते हैं तो आपको तुरंत उन्हें अस्पताल लेकर जाना चाहिए। इस प्रकार की स्थिति आर्टरी वॉल्स के पतले हो जाने के कारण भी हो जाती हैं। यह आर्टरीज के पास अपना गुच्छा बना लेती हैं क्योंकि वह भाग काफी कमजोर होता है। हालांकि यह स्थिति आपके दिमाग के किसी भी भाग में हो सकती है लेकिन यह मुख्य रूप से दिमाग की आर्टरीज में होती है।

इसे भी पढ़ें: सिरदर्द, उल्टी और धुंधलापन हो सकता है ब्रेन ट्यूमर का शुरुआती लक्षण

मस्तिष्क एन्यूरिज्म (धमनीविस्फार) का कारण

इस स्थिति के कारण पूरी तरह से अज्ञात है लेकिन कुछ ऐसे रिस्क फैक्टर हैं जिनके कारण आपको यह बीमारी झेलनी पड़ सकती है। जैसे :

  • वृद्ध अवस्था होना
  • सिगरेट पीना
  • हाई ब्लड प्रेशर
  • कोकेन जैसे ड्रग्स का प्रयोग करना
  • बहुत ज्यादा मात्रा में शराब का पीना
brain fog

ब्रेन एन्यूरिज्म का खतरा बढ़ाने वाले फैक्टर

इन्हेरिटिव कनेक्टिव टिश्यू डिसऑर्डर : इस प्रकार के डिसऑर्डर आपकी ब्लड वेसल्स को कमजोर कर देते हैं।

पॉलीसिस्टिक किडनी बीमारी : यह किडनी में फ्लूइड के भरे सैक को बढ़ा देते हैं जिससे आपका बीपी बढ़ जाता है जो अपने आप में ही एक रिस्क फैक्टर है।

परिवार में किसी को पहले से ही यह बीमारी होना : आपके परिवार में किसी सदस्य को यह बीमारी है तो संभावना है कि यह आपको भी हो सकती है।

ब्रेन एन्यूरिज्म के खतरे?

री ब्लीडिंग : हो सकता है धमनीविस्फार (Brain Aneurysm) दोबारा से ब्लीडिंग करना चालू कर दे और इस कारण आपकी ब्रेन सेल्स और अधिक डैमेज हो सकती हैं।

वसोस्पास्म : इस स्थिति के बाद हो सकता है आपके दिमाग की ब्लड वेसल्स संकीर्ण हो जाएं। इससे आपका ब्लड फ्लो कम हो सकता है और आपकी ब्रेन सेल्स डेमेज हो सकती हैं।

हाइड्रोसिफेलस- जब एन्यूरिज्म फटने से मस्तिष्क और आसपास के टिशू के बीच की जगह में ब्लीडिंग होती है।

हाइपोनट्रेमिया- एक टूटे हुए मस्तिष्क धमनीविस्फार (Brain Aneurysm) से ब्लीडिंग का रक्त में सोडियम के बैलेंस को बाधित करना। ब्लड सोडियम में गिरावट की वजह से कोशिकाओं में सूजन हो जाती है।

अगर आपको बहुत तेज सिर दर्द होता है तो तुरंत डॉक्टर के पास जाइए। वह कुछ टेस्ट के माध्यम से पता लगा लेंगे कि आपको यह मस्तिष्क धमनीविस्फार (Brain Aneurysm) की स्थिति है या नहीं और यदि है तो उसका कौन सा प्रकार आपको हुआ है। इसके उपचारों में आपको कुछ प्रकार की दवाइयां दी जा सकती हैं और अगर यह अधिक गंभीर है तो डॉक्टर को सर्जरी का भी सहारा लेना पड़ सकता है। अगर आप इस प्रकार के रिस्क से बचना चाहते हैं तो सिगरेट बिल्कुल न पिएं और एक हेल्दी डाइट खाएं।

Read More Articles on Other Diseases in Hindi

Disclaimer