बच्चों का दिमाग करना है तेज, तो रोज उन्हें खिलाएं ये 7 नट्स

बच्चों के लिए ड्राई फ्रूट्स काफी जरूरी होता है। इससे उनका मानसिक विकास बेहतर हो सकता है। आइए जानते हैं इसके बारे में-

 

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraPublished at: Jun 16, 2022Updated at: Jun 16, 2022
बच्चों का दिमाग करना है तेज, तो रोज उन्हें खिलाएं ये 7 नट्स

ड्राई फ्रूट्स पोषण तत्वों का पावरहाउस माना जाता है, क्योंकि इसमें कई आवश्यक विटामिन, खनिज, हेल्दी फैट, एंटीऑक्सिडेंट और डाइट्री फाइबर भरपूर रूप से होते हैं। नियमित रूप से ड्राई फ्रूट्स के सेवन से इम्यून पावर बूस्ट होती है। साथ ही यह आपके शरीर को कई तरह की बीमारियों से सुरक्षित रखता है। बड़ों के साथ-साथ बच्चों के लिए भी ड्राई फ्रूट्स जरूरी होता है। ड्राई फ्रूट्स की मदद से बच्चों को दिमाग बूस्ट हो सकता है। बादाम, अखरोट, पिस्ता, काजू, पेकान, हेजल नट्स, ब्राजील नट्स, चेस्ट नट और मैकाडामिया नट्स कुछ ऐसे लोकप्रिय ड्राई फ्रूट्स जिसके सेवन से शरीर को हेल्दी रखा जा सकता है। आइए जानते हैं बच्चों के माइंड को बूस्ट करने के लिए कौन सा नट्स खिलाएं? 

बच्चों का दिमाग तेज करने के लिए कौन सा नट्स खिलाएं?

1. बादाम

बादाम फास्फोरस से भरपूर होता हैं, जो हड्डियों और दांतों को मजबूत बनाने में आपकी मदद कर सकता है। बादाम में मौजूद राइबोफ्लेविन और एल-कार्निटाइन, दो ऐसे प्रमुख पोषक तत्व होते हैं जो मस्तिष्क को स्वस्थ रखने में आपकी मदद कर सकते हैं। यह फाइबर में भरपूर आहार होता है, जिसके सेवन से आपका बच्चा दुरुस्त हो सकता है। 

इसे भी पढ़ें - खाली पेट कौन से ड्राई फ्रूट्स खाने चाहिए और कौन से नहीं? जानें एक्सपर्ट से

2. अखरोट

अखरोट ओमेगा -3 फैटी एसिड का एक अच्छा स्रोत है, जो आपके बच्चे के मस्तिष्क के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इसके अलावा अखरोट में कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम, फॉस्फोरस, पोटैशियम और जिंक जैसे खनिज पाए जाते हैं। यह बच्चों के समग्र स्वास्थ्य के लिए हेल्दी होता है।

3. पिस्ता

पिस्ता विटामिन ए, सी, ई, थायमिन, राइबोफ्लेविन, नियासिन, पैंटोथेनिक एसिड, पाइरिडोक्सिन और फोलेट जैसे जरूरी विटामिंस का अच्छा स्त्रोत होता है। प्रतिदिन इन विटामिंस के सेवन से शरीर को स्वस्थ रखा जा सकता है। यह आपके बच्चे के मानसिक स्वास्थ्य को बेहतर कर सकता है। Dry Fruits for Kids

4. काजू

काजू में ल्यूटिन और जेक्सैंथिन जैसे हाई स्तर के एंटीऑक्सीडेंट होते हैं, जो बच्चों की आंखों को सुरक्षित रखने में असरदार हो सकते हैं। इसमें मौजूद मैग्नीशियम बच्चों के मानसिक विकास के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। इसके अलावा यह हड्डियों को भी मजबूती प्रदान करता है।  

5. सूखे खुबानी 

सूखे खुबानी डाइट्री फाइबर, पोटेशियम, तांबा, नियासिन, आयरन और विटामिन ई का काफी अच्छा स्त्रोत माने जाते हैं। इसके सेवन से बच्चों का विकास बेहतर तरीके से हो सकता है। यह बच्चों के ब्रेन को बूस्ट कर सकते हैं। साथ ही इससे बच्चों की इम्यून पावर भी बूस्ट हो सकती है। 

इसे भी पढ़ें - किन ड्राई फ्रूट्स को भिगोकर खाना चाहिए और किन्हें नहीं, एक्सपर्ट से जानें जरूरी बातें

6. खजूर

खजूर ऊर्जा का प्रमुख स्त्रोत होते हैं। इसके सेवन से बच्चों के शरीर को भरपूर रूप से कैल्शियम, सोडियम, फास्फोरस, मैग्नीशियम, पोटैशियम और जिंक प्राप्त होता है। इसमें सबसे अधिक मात्रा में आयरन होता है। यह बच्चों में आयरन की कमी को रोकने में आपकी मदद करता है। इसके अलावा इसमें थायमिन, राइबोफ्लेविन, नियासिन, फोलेट, विटामिन ए, बी 6 और विटामिन के जैसे विटामिन भी होते हैं।

7. अंजीर

अंजीर कैल्शियम और फास्फोरस का एक अच्छा स्रोत है, जो हड्डियों के निर्माण को बढ़ावा देता है। इसके अलावा अंजीर में फाइबर समृद्ध रूप से होता है। इसके सेवन से पाचन क्रिया तेज होती है। रिसर्च से पता चला है कि अंजीर में लिवर को सुरक्षित रखने का गुण होता है। यह पीलिया को रोकने में असरदार है। यह शिशुओं और बच्चों के लिए काफी फायदेमंद होता है। इससे बच्चों का मानसिक विकास बेहतर तरीके से हो सकता है। 

बच्चों के बेहतर मानसिक विकास के लिए आप उन्हें इस तरह के ड्राई फ्रूट्स दे सकते हैं। हालांकि, अगर आपके बच्चों को ड्राई फ्रूट्स से एलर्जी है, तो एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें।

Disclaimer