बायीं तरफ करवट कर सोने के ये 7 फायदे जानते हैं आप?

दिन भर काम करने के बाद रात को भरपूर नींद लेना सबसे सुखद है। इससे अगली सुबह भी बेहद खुशनुमा और ताजगी भरी होती है।

Garima Garg
Written by: Garima GargPublished at: Nov 09, 2020
बायीं तरफ करवट कर सोने के ये 7 फायदे जानते हैं आप?

अगर नींद भरपूर ना ली जाए तो अगली सुबह तनाव में रहती है। साथ ही हमारा शरीर तरोताजा महसूस नहीं करता है। मन के साथ-साथ तन भी एकदम उदास और सुस्त भरा रहता है। इसलिए अच्छी सेहत के लिए अच्छी नींद लेना बेहद जरूरी है। लेकिन इससे भी ज्यादा जरूरी है सोते समय आप की स्थिति कैसी हो। आपको पता होना चाहिए कि सोते समय आपकी दशा और दिशा क्या रहती है। साथ ही आपको इस बात का ज्ञान होना चाहिए कि आप किस करवट से सोते हैं। जी हां, इन सब चीजों से आपकी सेहत पर असर पड़ता है। वैसे तो नींद में सहूलियत ज्यादा महत्व रखती है। लेकिन बायीं करवट से सोने पर और शरीर को अनेकों फायदे मिलते हैं। आज इस लेख के माध्यम से आपको बताएंगे कि  बायीं करवट सोने से आपको क्या-क्या फायदे हो सकते हैं। पढ़ते हैं आगे...

left side sleeping

 दिल पर अधिक प्रभाव ना पड़ना

अगर हमारी तरफ करवट लेकर सोते हैं तो यह हमारे दिल की सेहत के लिए बहुत अच्छा है। ऐसा करने से दिल पर ज्यादा प्रभाव नहीं पड़ता है। साथ ही दिल अच्छी तरीके से अपना काम कर पाता है।

कब्ज की शिकायत होती है दूर

अगर आपको कब्ज की शिकायत है तो  बायीं करवट पर सोने से यह शिकायत भी दूर हो जाती है। बता दें कि  बायीं करवट में सोने से गुरुत्वाकर्षण के कारण हमारे पेट के अंदर जो भोजन होता है वह छोटी आंत से बड़ी आंत में पहुंच जाता है और हमारा पेट भर से साफ हो जाता है।

एसिडिटी और सीने में जलन से राहत

कुछ लोगों को एसिडिटी की वजह से सीने में जलन से परेशानी हो जाती है। दवाइयों के सेवन से भी इस समस्या का इलाज नहीं हो पाता है। ऐसे में आपको बता दें कि अगर आप  बायीं तरफ से सोएंगे तो आपको फायदा मिलेगा। ध्यान दें  बायीं करवट में सोने से पेट का एसिड ऊपर की जगह नीचे की ओर चलने लगता है जिसकी वजह से एसिडिटी और सीने में जलन का खतरा कम हो जाता है। एक्सपर्ट्स कहते हैं कि कई बार गलत तरीके से सोने से भी एसिडिटी की समस्या दूर हो जाती है।

इसे भी पढ़ें- मसल्स लॉस क्या है? एक्सपर्ट से जानें ये किन तरीकों से डाल सकता है आपकी सेहत पर प्रभाव

 पाचन तंत्र हो बेहतर

बता दें कि अगर हम  बायीं तरफ करवट करके सोते हैं तो आपका भोजन भी अच्छी तरीके से पचता है। इसका कारण है पाचन तंत्र पर अतिरिक्त दबाव ना पढ़ना। जी हां, अगर  बायीं करवट से सोया जाए तो शरीर में जमने वाला टॉक्सिन बेहद आसानी से शरीर के बाहर आ जाता है।

थकान महसूस ना होना

जिन लोगों को बायीं करवट सोने की आदत है। उन्हें ज्यादा थकान महसूस नहीं होती है सुबह उठने पर पेट से संबंधित समस्याएं भी हल हो जाती हैं।

 

इसे भी पढ़ें- रीढ़ के आकार को बिगाड़ सकता है स्पाइनल संक्रमण, एक्सपर्ट से जानें लक्षण और उपचार

 प्रेग्नेंट स्त्रियों के लिए क्यों है जरूरी

बता दें कि प्रेग्नेंट स्त्रियों के लिए  बायीं ओर करवट लेना सबसे अच्छा माना जाता है। इसके पीछे का कारण है गर्भस्थ शिशु का स्वास्थ्य। जी हां, अगर  बायीं और करवट करके सोएं तो उसके गर्भस्थ शिशु पर बुरा प्रभाव नहीं पड़ता है। साथ ही हाथ और पैरों की सूजन भी दूर हो जाते हैं।

ऑक्सीजन का प्रभाव सही प्रकार से होता है

ध्यान दें जो लोग  बायीं तरफ करवट करके सोते हैं उनके शरीर के विभिन्न अंगों और दिमाग तक रक्त के साथ-साथ ऑक्सीजन का प्रभाव बहुत अच्छी तरीके से होता है। यही कारण होता है कि शरीर के सभी अंग अच्छी तरह से काम करना शुरू कर देते हैं।

Read More Articles on miscellaneous in Hindi

Disclaimer