Expert

खराब कोलेस्ट्रॉल (एलडीएल) कम करने में मदद करेंगे ये 5 आयुर्वेदिक उपाय, बढ़ेगा गुड कोलेस्ट्रॉल

Ayurvedic Remedies To Reduce Cholesterol: बैड या एलडीएल कोलेस्ट्रॉल कम करने कुछ आयुर्वेदिक उपाय आपकी बहुत मदद कर सकते हैं, जानें 5 उपाय।

 

Vineet Kumar
Written by: Vineet KumarUpdated at: Jan 04, 2023 12:46 IST
खराब कोलेस्ट्रॉल (एलडीएल) कम करने में मदद करेंगे ये 5 आयुर्वेदिक उपाय, बढ़ेगा गुड कोलेस्ट्रॉल

3rd Edition of HealthCare Heroes Awards 2023

Ayurvedic Remedies To Reduce Cholesterol: हमारे रक्त में खराब यानी एलडीएल कोलेस्ट्रॉल का अधिक स्तर कई गंभीर रोगों के प्रमुख जोखिम कारकों में से एक है। यह ब्लड प्रेशर के स्तर को बढ़ाता है, साथ ही हृदय रोग जैसे हार्ट अटैक, स्ट्रोक और फेलियर आदि का भी कारण बनता है। यह क्रोनिक किडनी रोगों का भी कारण बन सकता है। इसलिए गंभीर रोगों से बचने और स्वस्थ रहने के लिए खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करना बहुत जरूरी है। लेकिन शरीर में अच्छा कोलेस्ट्रॉल कैसे बढ़ाएं और खराब कोलेस्ट्रॉल को कैसे कम करें, इसको लेकर लोग काफी परेशान रहते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं आयुर्वेद के सुझाए कुछ सरल स्टेप्स को फॉलो करके आप आसानी से कोलेस्ट्रॉल कम कर सकते हैं?

आयुर्वेदिक चिकित्सक डॉ. वरालक्ष्मी यनामंद्र (BAMS) ने अपनी एक इंस्टाग्राम पोस्ट में आप आयुर्वेद कि मदद से कोलेस्ट्रॉल कम कैसे कर सकते हैं, इसके बारे में विस्तार से बताया है। उनके अनुसार के अनुसार आयुर्वेद में कोलेस्ट्रॉल बढ़ने की समस्या को 'मेदोरोग' कहा जाता है, जो हमारे शरीर के भीतर मौजूद मेदो धातु या फैट टिश्यू के असमान्य फंक्शन संबंधित है। इसे सामान्य रखने में कुछ उपाय आपकी मदद कर सकते हैं। इस लेख में हम आपको खराब कोलेस्ट्रॉल कम करने के 5 आयुर्वेदिक उपाय (cholesterol kam karne ke ayurvedic upay) बता रहे हैं।

Ayurvedic Remedies To Reduce Cholesterol In Hindi

कोलेस्ट्रॉल कम करने के आयुर्वेदिक उपाय- Ayurvedic Remedies To Reduce Cholesterol In Hindi

1. दीपन और पाचन (Deepana And Pachana)

  • इष्टतम कार्य के लिए अपनी अग्नि को ठीक करें और बढ़ाने का प्रयास करें। इसके लिए आप आसानी से पचने वाली कुछ जड़ी बूटियों का सेवन कर सकते हैं जैसे सोंठ, त्रिकटु।
  • फास्टिंग का अभ्यास करें, इससे बहुत लाभ मिलेगी।
  • हल्के फूड्स खाएं, साथ ही सुबह खाली पेट एक्सरसाइज करें। इससे भी खराब कोलेस्ट्रॉल का स्तर जल्दी कम कम करने में मदद मिलेगी।

2. भारी फूड्स और गलत फूड कॉम्बिनेशन न खाएं

  • उड़द दाल, डेयरी और चीनी, मीट, नट्स और नट्स बटर जैसे भारी फूड्स और इनसे बने पकवान या व्यंजन खाने से बचें।
  • दो ऐसे फूड्स के सेवन बचें, जिनकी प्रकृति या तासीर एक दूसरे के विपरीत है जैसे- दूध के साथ फल, गर्म पानी में शहद, दूध और मछली आदि।
 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Vara Yanamandra (@drvaralakshmi)

3. कफ दोष को संतुलित करें

  • गर्म, हल्का और आसानी से पचने वाले अनाज और दाल खाएं जैसे लाल चाव, जौ, चना और मूंग दाल।
  • मिट्टी के ऊपर उगने वाली सब्जियों का सेवन आदर्श माना जाता है।

4. फिजिकली एक्टिव रहें

कुछ सरल एक्सरसाइज जैसे रस्सी कूदना, स्विमिंग, ब्रिस्क वॉक और साइकिलिंग को अपने रूटीन का हिस्सा बनाएं। ड्राई ब्रशिंग या लेखन पाउडर जैसे त्रिफला के साथ पाउडर मसाज करना बहुत फायदेमंद माना जाता है।

इसे भी पढें: आयुर्वेद के अनुसार दूध कैसे पीना चाहिए? आयुर्वेदाचार्य से जानें दूध पीने के 6 नियम

5. गर्म पानी का सेवन करें

  • आम (Ama) यानी टॉक्सिन्स शरीर में  मेटाबॉलिक रोग का एक मुख्य कारण है, जो चैनलों में रुकावट का कारण बनता है। इसका सफाया करने में गर्म पानी बहुत लाभकारी है और अग्नि को बढ़ावा देता है।

इन सरल आयुर्वेदिक उपायों को अपने दैनिक जीवन में रोजाना फॉलो करके आप आसानी से खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करने सकते हैं और अच्छा कोलेस्ट्रॉल बढ़ा सकते हैं।

All Image Source: Freepik

Disclaimer