पॉल्यूशन ने खराब कर दिए हैं आपके बाल तो इन 5 स्टेप्स में करें एंटी-पॉल्यूशन हेयर ट्रीटमेंट, बाल बनेंगे हेल्दी

अगर आप भी प्रदूषण के कारण डैमेज हो चुके, झड़ रहे बालों या डैंड्रफ से परेशान हैं, तो जानें 5 स्टेप्स में कैसे आप बालों को पॉल्यूशन फ्री बना सकते हैं।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavUpdated at: Oct 22, 2020 14:33 IST
पॉल्यूशन ने खराब कर दिए हैं आपके बाल तो इन 5 स्टेप्स में करें एंटी-पॉल्यूशन हेयर ट्रीटमेंट, बाल बनेंगे हेल्दी

पॉल्यूशन यानी प्रदूषण आपके फेफड़ों और हार्ट को तो नुकसान पहुंचाता ही है, साथ ही ये बालों और त्वचा को भी बुरी तरह प्रभावित करता है। बाहर की धूल-मिट्टी और प्रदूषण कण आपके बालों में फंस जाते हैं और हेयर फॉलिकल्स को ब्लॉक कर देते हैं, जिससे न तो आपके बालों को सही पोषण मिल पाता है और न ही नए बाल उग पाते हैं। यही कारण है कि प्रदूषण के कारण बाल धीरे-धीरे डैमेज होने लगते हैं और अगर तुरंत कोई उपाय न किया जाए, तो जल्द ही झड़ने-टूटने लगते हैं। प्रदूषण के कारण बालों की नैचुरल चमक और कोमलता भी खो जाती है, जिससे बाल रूखे, बेजान से नजर आने लगते हैं। कई बार बाइक चलाते समय हेलमेट पहनने के कारण भी बालों में खूब पसीना आ जाता है, जिससे स्कैल्प में बैक्टीरियल इंफेक्शन हो जाता है। इसके कारण डैंड्रफ, बालों में खुजली और सोरायसिस जैसी समस्याओं का भी खतरा रहता है। अगर आप भी बालों की इन सभी या किसी एक समस्या से परेशान हैं, तो आपको जरूरत है एंटी-पॉल्यूशन हेयर ट्रीटमेंट की। आमतौर पर पार्लर और स्पा में इस तरह के ट्रीटमेंट के लिए हजारों रुपए वसूल किए जाते हैं, लेकिन आप 5 आसान स्टेप्स में घर पर ही एंटी-पॉल्यूशन ट्रीटमेंट कर सकते हैं। आइए आपको बताते हैं कैसे।

anti pollution hair treatment in hindi

स्टेप 1- शैंपू से बाल धोएं (Shampoo Your Hair Twice or Thrice in a Week)

बालों में जमा धूल-मिट्टी और प्रदूषण कणों को बाहर निकालने के लिए और अतिरिक्त ऑयल को साफ करने के लिए सबसे बेहतर और सबसे आसान तरीका है शैंपू। अपने बालों पर हर्बल या माइल्ड शैंपू लगाएं, जिसमें केमिकल्स न हों या कम हों। बालों को शैंपू से अच्छी तरह साफ करें और फिर सादे पानी से धो लें। आप सप्ताह में 2 बार शैंपू का इस्तेमाल कर सकते हैं। अगर आप ट्रैवेल करते हैं और धूल-मिट्टी के संपर्क में ज्यादा आते हैं तो सप्ताह में 3 बार भी शैंपू का प्रयोग कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: बालों को घना बनाने के लिए प्रयोग करें ये खास होममेड हेयर सीरम, तेजी से उगना शुरू हो जाएंगे नए बाल

स्टेप-2 कंडीशनर का प्रयोग (Always Use Conditioner After Shampoo)

आप जब भी बालों में शैंपू लगाएं, तो उसके बाद कंडीशनर जरूर लगाएं। कुछ लोग यह गलती करते हैं कि बालों पर सिर्फ शैंपू का प्रयोग करते हैं, कंडीशनर का नहीं। दरअसल शैंपू आपके स्कैल्प की नमी को खत्म कर देता है, जिससे स्कैल्प रूखा हो जाता है। इस रूखेपन के कारण भी बालों का झड़ना, डैंड्रफ जैसी समस्याएं हो सकती हैं। इसी रूखेपन को दूर करने के लिए आपको कंडीशनर का प्रयोग करना जरूरी है। बालों को कंडीशन करने से उनमें चमक आती है और स्कैल्प का रूखापन दूर हो जाता है।

स्टेप-3 सप्ताह में 1 बार स्कैल्प को स्क्रब करें (Exfoliate or Scrub Hair Once in a Week)

अगर आपके बाल अक्सर डैमेज हो जाते हैं, तो आपको सप्ताह में 1 बार या कम से कम 15 दिन में 1 बार अपने स्कैल्प को स्क्रब जरूर करना चाहिए। स्कैल्प को स्क्रब करने से स्कैल्प की डेड स्किन सेल्स निकल जाती हैं और हेयर फॉलिकल्स की गहराई में समाए हुए प्रदूषण कण भी निकल जाते हैं। बालों को स्क्रब करने या एक्सफोलिएट करने की प्रक्रिया को स्कैल्प डिटॉक्स कहते हैं। आप घर में ही मौजूद नैचुरल चीजें से स्कैल्प डिटॉक्स कर सकते हैं, जिसकी अधिक जानकारी के लिए लिंक पर क्लिक करें।

damage and frizzy hair solution

स्टेप-4 बालों की ऑयलिंग भी है जरूरी (Oil Your Hair After Every Wash)

स्कैल्प को स्क्रब करने के बाद, हर बार शैंपू का प्रयोग करने के बाद भी आपके बालों को ऑयल करना बहुत जरूरी है। लेकिन ध्यान रखें कि ये ऑयल बाजार में मिलने वाला हेयर ऑयल नहीं होना चाहिए, जिसमें केमिकल्स होते हैं, बल्कि प्योर ऑयल होने चाहिए। आप अपने बालों में नारियल (कोकोनट), ऑलिव (जैतून), अरंडी (कैस्टर), बादाम (अलमंड) के तेल लगा सकते हैं। इन सभी हेयर ऑयल्स में खास पोषक तत्व होते हैं, जो आपके बालों को पोषण देते हैं और उनकी ग्रोथ को बढ़ाते हैं।

इसे भी पढ़ें: बालों का झड़ना रोककर घने और मजबूत बनाएगा ये होममेड pH बैलेंसिंग शैंपू, कंडीशनर की भी नहीं पड़ेगी जरूरत

स्टेप-5 लाइफस्टाइल में थोड़े बदलाव करें (Lifestyle Changes for Healthy Hair)

अगर आप किसी पॉल्यूशन से भरे शहर में रहते हैं या आपका घर, दुकान किसी रोड के आसपास है, तो आपको अक्सर ही पॉल्यूशन झेलना पड़ता होगा। ऐसे में लोग त्वचा का ख्याल तो फिर भी रखते हैं, लेकिन बालों को नजरअंदाज कर देते हैं। इसलिए आपको रेगुलर प्रदूषण से बचाव के लिए भी कुछ आदतों को अपनाना होगा। जैसे आप दिन के समय टोपी पहन सकते हैं। इसके अलावा बालों की सेहत पर आपके खानपान और तनाव का भी असर पड़ता है। इसलिए हेल्दी और बैलेंस डाइट लें और तनाव कम लें, जिससे आपके बाल घने, मजबूत, मुलायम, रेशमी और चमकदार बने रहें।

Read More Articles on Hair Care in Hindi

Disclaimer