मेंटल स्ट्रेस के कारण एक्ट्रेस नरगिस फाखरी ने बनाई फिल्मों से दूरी, जानें वर्क स्ट्रेस कम करने के उपाय

Actress Nargis Fakhri Mental Health: एक्ट्रेस नरगिस फाखरी ने अपने मेंटल हेल्थ के बारे में बड़ा खुलासा किया है।

Ashu Kumar Das
Written by: Ashu Kumar DasPublished at: Sep 13, 2022Updated at: Sep 13, 2022
मेंटल स्ट्रेस के कारण एक्ट्रेस नरगिस फाखरी ने बनाई फिल्मों से दूरी, जानें वर्क स्ट्रेस कम करने के उपाय

फिल्म रॉकस्टार में बॉलीवुड एक्टर रणबीर कपूर के साथ स्क्रीन शेयर करने वाली अमेरिकन एक्ट्रेस नरगिस फाखरी (Nargis Fakhri) ने  फिल्मों से दूरी बना ली है। नरगिस फाखरी का कहना है कि बॉलीवुड फिल्मों में काम करने के दौरान वो मानसिक रूप से काफी बीमार हो गई थी। मानसिक बीमारी के कारण उन्होंने काम से पूरी तरह से दूरी बना ली। एक न्यूज चैनल को दिए गए इंटरव्यू में नरगिस फाखरी ने कहा कि बॉलीवुड में खुद को आगे रखने की एक रेस चल रही है, जो कभी नहीं रूकती है। एक्ट्रेस ने कहा कि बॉलीवुड की रेस में हिस्सा लेने के दौरान आप किस तरह के मानसिक तनाव (Actress Nargis Fakhri Mental Health) से गुजरते हैं, इसके बारे में बताया भी नहीं जा सकता है। नरगिस फाखरी ने कहा कि वर्क स्ट्रेस के कारण ही उन्होंने फिल्मों से दूरी बना लीं। 

नरगिस फाखरी जैसे कई स्टार्स पहले भी वर्क स्ट्रेस को लेकर बात कर चुके हैं। बॉलीवुड से लेकर हॉलीवुड तक के सितारे आज मेंटल हेल्थ पर बात करते हैं, लेकिन ये मुद्दा आम लोग की सोच से काफी परे है। इसमें कोई दो राय नहीं है कि मेंटल हेल्थ का मुद्दा आज भी भारत में सबसे ज्यादा नजरअंदाज किया जाता है। खासकर आज के दौर में जहां वर्क प्लेस पर लोगों के पास हर दिन एक नया टारगेट, ईमेल, मैसेज, कॉल्स इतना समय ले लेते हैं कि उनके पास खुद को शांत करने का एक मौका नहीं है। रोजाना की भागदौड़ में तनाव महसूस करना बहुत ही आम है, लेकिन इसे वक्त रहते कम न किया जाए, तो ये कई तरह की शारीरिक और मानसिक परेशानी का कारण बन सकती है।

इसे भी पढ़ेंः गले की खराश और कफ से छुटकारा दिलाएगी अनार के छिलके की चाय, जानें अन्य फायदे

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Nargis Fakhri (@nargisfakhri)

क्यों जरूरी है मेंटल हेल्थ ? - Why is mental health important?

Webmd की एक रिपोर्ट के मुताबिक मानसिक स्वास्थ्य शारीरिक हेल्थ को 100 प्रतिशत बढ़ता है। अगर आप मानसिक तौर पर पूरी तरह से स्वस्थ्य महसूस नहीं कर रहे हैं, तो ये कई बीमारियों का कारण बन सकता है। रिपोर्ट में कहा गया है कि मानसिक स्वास्थ्य के कारण डिप्रेशन, हार्ट अटैक, स्ट्रोक, डायबिटीज जैसी गंभीर बीमारियों का खतरा कई गुणा बढ़ जाता है।

वर्क मेंटल स्ट्रेस के लक्षण क्या हैं? - What are the symptoms of work mental stress?

  • भूख का कम या ज्यादा होना
  • थकान
  • सिर दर्द
  • नींद की कमी
  • पाचन संबंधी समस्याएं
  • हार्ट बीट्स का तेज होना
  • ज्यादा पसीना आना
  • आत्मविश्वास में कमी होना
  • शरीर का बार-बार बीमारियों की चपेट में आना

वर्क स्ट्रेस कम करने के उपाय 

खुद को समय दें

काम और स्ट्रेसफुल लाइफस्टाइल के बीच खुद का ध्यान बहुत जरूरी है। टाइट वर्क शेड्यूल के बीच 10 से 15 मिनट अकेले बैठने की कोशिश करें। अगर अकेले बैठना पसंद नहीं हैं तो दिमाग को रिलैक्स करने के लिए पॉडकास्ट, रेडियो और यूट्यूब पर वीडियो देखें। ऐसा करने से आपके दिमाग को रिलैक्स महसूस होग।

परिवार और दोस्त हैं जरूरी

जितना आपका काम जरूरी है, उससे कहीं ज्यादा परिवार और दोस्त जरूरी मानें जाते हैं। स्ट्रेसफुल लाइफ के बीच सप्ताह या महीने में एक बार परिवार और दोस्तों के साथ कहीं बाहर घूमने जाएं। डिनर और लंच में परिवार के साथ बिताए गए पल दिमाग को शांत करने में मदद करते हैं।

नेगेटिव सोचना बंद करें

कई बार सबकुछ ठीक करते हुए भी वर्क प्लेस पर चीजें सही नहीं हो पाती है। सब कुछ अपने हिसाब से न होने के कारण दिमाग में नेगेटिव ख्याल आने लगते हैं। नेगेटिव ख्याल आपको अंदर से कमजोर बनाते हैं। इसलिए हमेशा पॉजिटिव सोचने की कोशिश करें। 

 

 

Disclaimer