Good Digestion: पाचन तंत्र को दुरुस्‍त रखने के ये हैं 7 बेस्‍ट तरीके, कभी नहीं होगी पेट संबंधी समस्‍या

क्या आप खाते समय ध्यान रखते हैं कि कौन सी चीज फायदेमंद है या नहीं? इससे आपके पाचन तंत्र को नुकसान पहुंच सकता है। 

Monika Agarwal
विविधWritten by: Monika AgarwalPublished at: Aug 24, 2020Updated at: Feb 24, 2021
Good Digestion: पाचन तंत्र को दुरुस्‍त रखने के ये हैं 7 बेस्‍ट तरीके, कभी नहीं होगी पेट संबंधी समस्‍या

आप का पाचन तंत्र आप के शरीर का एक बहुत ही महत्त्वपूर्ण हिस्सा है। यह आप के द्वारे खाए गए खाने को पचाने का कार्य करता है। यह है खाद्य पदार्थों को आवश्यक  पोषक तत्वों में बदलता है। जो आप के शरीर के लिए जरूरी होते है। यह पोषक तत्व शरीर को ऊर्जा देते हैं। जिसकी वजह से हमारे शरीर की कोशिकाएं ठीक प्रकार से कार्य करतीं हैं। आपके द्वारा खाए जाने वाला भोजन और जीवनशैली आपके पाचन स्वास्थ्य पर सीधा प्रभाव डालते हैं। यदि आप अपने पाचन तंत्र की सेहत का ध्यान नहीं रखते हैं तो आप के लिए समस्याएं उत्पन्न हो सकतीं हैं। आपके पाचन स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के लिए ये जरूरी टिप्स को अपनाकर आप अपने पाचन को सही रख सकते हैं। 

Insideexerciseandfitness

हाई फाइबर वाली डाइट खाएं (Eat a high-fiber diet)

यदि आप फाइबर युक्त भोजन खाते हैं तो कब्ज जैसी बीमारी नहीं होती और पाचन तंत्र भी स्वस्थ रहता है। इससे आप अपने वजन को भी नियंत्रित कर सकते हैं। आप की सेहत भी अच्छी रहेगी। यही नहीं एक उच्च-फाइबर आहार आपको विभिन्न पाचन स्थितियों जैसे डायवर्टीकुलोसिस को रोकने या उनका इलाज करने में भी मदद कर सकता है। अतः ज्यादा से ज्यादा वह पदार्थ खाएं जिनमें हाई फाइबर होता है।

एक्सरसाइज करें (Exercise regularly)

नियमित रूप से एक्सरसाइज करना व एक्टिव रहना भी आप की सेहत के लिए बहुत अच्छा है। यदि आप स्वयं को फिट रखोगे तो आप का वजन भी ज्यादा नहीं बढ़ेगा जो आप के पाचन तंत्र के लिए बहुत लाभदायक है। नियमित व्यायाम आपके पाचन तंत्र को सुचारु रूप से कार्य करने में सहायक है। इस कारण कब्ज आदि की समस्या भी दूर होती है।

अघुलनशील और घुलनशील दोनों तरह के फाइबर खाएं (Get both insoluble and soluble fiber)

दोनों प्रकार के फाइबर का उपभोग करना महत्वपूर्ण है, क्योंकि वे आपके पाचन तंत्र को विभिन्न तरीकों से मदद करते हैं। यह आप के पाचन तंत्र को उसके फंक्शन्स करने में मदद करता है। अघुलनशील फाइबर, जिसे रफेज़ भी कहा जाता है, शरीर द्वारा पचाया नहीं जा सकता, इसलिए यह मल को जोड़ने में मदद करता है। जबकि घुलनशील फाइबर पानी में खींचता है और मल को रोकने में मदद करता है। दोनों तरह के फाइबर से भरपूर खाद्य हैं, सब्जियां, नट्स, दलिया, जई ,चोकर, नट, बीज, और फलियां आदि।

इसे भी पढ़ें : सुबह खाली पेट इन 5 चीजों का सेवन करने से शरीर पर पड़ता है सीधा असर! बॉडी होती है डिटॉक्स और होते हैं ये फायदे

ज्यादा फैट वाली चीजें न खाएं (Limit foods that are high in fat)

यदि आप बाहर का खाना या जंक फूड खाते हैं तो उन में फैट बहुत अधिक होता है। जो आप के शरीर के लिए बहुत हानिकारक  है। इससे आप को कब्ज भी हो सकता है और यह आप की पाचन प्रक्रिया को भी धीमा करता है। परंतु आप के शरीर के लिए कुछ हेल्दी फैट्स आवश्यक भी होते हैं। अतः उनसे परहेज न करे। उच्च फाइबर खाद्य पदार्थों के साथ जरूरी वसायुक्त खाद्य पदार्थों को शामिल करें।

Insidedrinkingwater

समय पर ही भोजन करें (Eat on schedule)

आप क्या खाते हैं इसके अलावा यह बात भी बहुत महत्त्वपूर्ण है कि आप किस समय पर खाते हैं। यदि आप रोजाना एक शेड्यूल के हिसाब से खाना खाएंगे तो, यह आप के पाचन तंत्र को एक दम फिट रखेंगे। लेकिन यदि आप अनियमित तरीके से भोजन करते हैं तो यह आप के पाचन तंत्र पर उल्टा प्रभाव भी डाल सकता है। इसलिए प्रत्येक दिन एक ही समय के आसपास नाश्ता, दोपहर का भोजन, रात का खाना खाएं।

इसे भी पढ़ें : क्या आपके पेट से भी आती है गुड़गुड़ की आवाज़? यहां जानिए इसकी वजह और बचाव के तरीके

हाइड्रेटेड रहें (Stay Hydrated)

 दिन में बहुत सारा पानी पीना आप के पाचन तन्त्र को दुरुस्त रखने के लिए बहुत फायदेमंद  है। इसलिए कोशिश करें कि आप पूरे दिन में कई बार पानी पिएं। जिससे आप के शरीर में डिहाइड्रेशन की समस्या न उत्पन्न हो। यदि आप स्वयं को हाइड्रेटेड रखते हैं तो कई प्रकार की बीमारियों से बचे रहते हैं। पर्याप्त मात्रा में पानी पीना आपके पाचन स्वास्थ्य के लिए अच्छा है। फाइबर बड़ी आंत में पानी खींचता है ताकि मल नरम, रहे और अधिक आसानी से गुजरे।

धूम्रपान, कैफ़ीन या शराब से दूर रहें (Skip the bad habits)

बहुत अधिक धूम्रपान या शराब के साथ साथ कैफ़ीन का सेवन करना आप के पाचन के लिए बिल्कुल भी अच्छा नहीं है। इससे आप को लीवर डेमेज, पेट में अल्सर होना या हृदय में जलन होने जैसी समस्या हो सकती हैं। जो आपके पाचन तंत्र के लिए बहुत नुकसान दायक है। इसलिए शराब, सिगरेट, और बहुत अधिक कॉफी या अन्य कैफीन युक्त पेय आपके पाचन तंत्र की कार्यशैली पर बुरा प्रभाव डाल सकते हैं।

बहुत अधिक तनाव या चिंता आपके पाचन तंत्र को बहुत अधिक प्रभावित करता है जिसकी वजह से गैस, जी मिचलाना, सिर दर्द आदि समस्याओं का कारण बन सकता है। तनाव कम करने वाली गतिविधियों अपनायें। जिनका आप नियमित रूप से  अभ्यास कर अपने स्ट्रेस लेवल को घटा सकते हैं। प्रकार आप का पाचन तंत्र भी स्वस्थ रहेगा।

Read more articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer