सर्दियों की डाइट में जरूर शामिल करें रागी, डायटीशियन से जानें रागी खाने से मिलने वाले 6 फायदे

सर्दियों में रागी खाने से सेहत को कई फायदे होते हैं। इसमें कई ऐसे पोषक तत्व होते हैं, तो हमारे शरीर के लिए अच्छे माने जाते हैं।

Kishori Mishra
Reviewed by: स्वाती बाथवालPublished at: Nov 06, 2020Updated at: Nov 06, 2020Written by: Kishori Mishra
सर्दियों की डाइट में जरूर शामिल करें रागी, डायटीशियन से जानें रागी खाने से मिलने वाले 6 फायदे
रागी का उत्पादन भारत के कई हिस्सों में होता है। रागी को नचनी, मरुआ, मड़वा जैसे नामों से भी जाना जाता है। इसमें कैल्शियम, मैग्नीशियम, आयरन, अमीनो एसिड्स जैसे कई पोषक तत्व मौजूद होते हैं, जो सेहत के लिए फायदेमंद हैं। मोटापे से लेकर स्किन की समस्याओं को दूर करने में रागी आपकी मदद कर सकता है। सर्दियों की बात करें, तो सर्दियों में रागी के सेवन से हड्डियां मजबूत होती हैं। इसके साथ ही इसके कई अन्य फायदे होते हैं। आइए जानते हैं न्यूशट्रीनिस्ट स्वाति बाथवाल से रागी खाने के फायदे- 

मूड करे हैप्पी

न्यूशट्रिनिस्ट स्वाति बाथवाल बताती हैं कि रागी में अमीनो एसिड्स और ट्रिपटोथॉन नामक तत्व होते हैं। ट्रिपटोथॉन (Tryptonthon) जो सर्दियों में होने वाले मूड स्विंग्स को ठीक करने में हमारी मदद कर सकता है।

भूख पर रहता है कंट्रोल

सर्दियों में भूख ज्यादा लगती है।  ऐसे में अगर आप रागी का सेवन करते हैं, तो आपको भूख कम लगती है। स्वाति बाथवाल बताती हैं कि रागी में फाइबर की अधिकता होती है, जो भूख को कंट्रोल करने में हमारी मदद करता है। भूख कंट्रोल होने से वजन भी कंट्रोल में रहता है। 

स्किन एजिंग प्रॉब्लम्स

रागी का सेवन करने से स्किन से जुड़ी समस्याएं भी दूर रहती हैं। इसमें मौजूद अमीनो एसिड्स स्किन के टिश्यूज को टाइट रखती हैं, जिससे स्किन पर झुर्रियां नहीं आती हैं। इसके अलावा रागी विटामिन डी का अच्छा स्त्रोत माना जाता है।  

हड्डियों के दर्द से राहत 

स्वाति ने बताया कि सर्दियों में विटामिन डी की कमी के कारण हड्डियों में काफी दर्द होता है। ऐसे में अगर हम रागी का सेवन करते हैं, तो हड्डियों के दर्द से राहत मिल सकती है। रागी में कैल्शियम काफी ज्यादा होता है, जो हड्डियों को मजबूत रखने में हमारी मदद कर सकता है।  

इंस्टेंट एनर्जी 

रागी के सेवन से सर्दियों में होने वाली थकान और सुस्ती दूर रहती है। स्वाति बताती हैं कि रागी से तैयार ड्रिंक का सेवन करने से इंस्टेंट एनर्जी मिलती है। एक्सरसाइज करने से पहले आप रागी से तैयार ड्रिंक पी सकते हैं, जिससे एक्सरसाइज करने पर जल्दी थकान महसूस नहीं होती है।  

बच्चों के लिए उत्तम आहार 

स्वाति बाथवाल बताती हैं कि शिशुओं के लिए रागी से तैयार माल्ट काफी फायदेमंद होता है। इसमें मौजूद तत्व शिशुओं को संपूर्ण पोषक तत्व प्रदान करते हैं। गर्भवती महिलाओं के लिए भी यह फायदेमंद होता है।   

कैसे कर सकते हैं रागी का सेवन 

स्वाति ने कहा कि हम रागी का सेवन कई तरीके से कर सकते हैं। रागी से ड्रिंक्स, पापड़, रोटियां और अन्य कई तरीके के डिशेज तैयार किए जाते हैं। ये सभी डिश हमारे लिए फायदेमंद हो सकते हैं। अगर आप रागी की रोटियां खा रहे हैं और आपको यह हैवी लग रहा है, तो आप रागी के आटे के साथ जौ का आटा मिक्स करके रोटी तैयार कर सकते हैं। यह आपके लिए काफी अच्छा साबित हो सकता है। वेट लॉस में रागी की रोटियां आपके लिए फायदेमंद हो सकती हैं। 

घर पर तैयार करें आंध्रा की स्पेशल डिश रागी बॉल 

रागी बॉल साउथ की मशहूर डिश है। इसे रागी मुद्दे के नाम से भी जाना जाता है। यह बॉल के आकार का होता है, इसलिए यह रागी बॉल के नाम से काफी मशहूर है। चलिए जानते हैं घर पर किस तरह तैयार करें रागी बॉल- 

आवश्यक सामाग्री 

  • 2 से 3 कप पानी
  • 3 बड़े चम्मच रागी का आटा
  • स्वादानुसार नमक
  • 100 ग्राम घी 

कैसे तैयार करें रागी बॉल 

    • रागी बॉल तैयार करने के लिए सबसे पहले एक पैन में पानी को गर्म करें। 
    • इस पानी में स्वादानुसार नमक डालें। 
    • अब इसमें 1 चम्मच घी मिलाएं।
    • पानी को अच्छे से मिक्स करके गर्म करें। 
    • पानी गर्म होने के बाद 1 कटोरी लें, इसमें 2 छोटे चम्मच रागी का आटा डालें, इसमें थोड़ा सा पानी मिलाकर इसका घोल तैयार कर लें।
    • अब इस घोल को उबलते हुए पानी में डालकर मिक्स करें।
    • जब पानी में आटा अच्छे से घुल जाए, तो इसमें बाकि बचा हुआ आटा डालें और इसे अच्छे से मिक्स करें।
    • आटा मिक्स होने के बाद गैस को बंद करके इसमें फिर से घी मिलाकर इसे अच्छे से मिक्स करके गूंथ लें।
    • अब 1 बड़ी सी थाली लें। इस थाली में अच्छी तरह से घी लगाएं। 
    • इसके बाद गुथे हुए आटे का आधा भाग इसमें डालें और बॉल की तरह बनाएं। 
    • बचे हुए आटे का भी आप इसी तरह बॉल तैयार करें। 
    • आपका रागी बॉल तैयार है। आप इस बॉल को अपनी पसंदीदा सब्जी के साथ खा सकते हैं। 

रागी खाने के नुकसान (Side Effects of ragi)

रागी में फाइबर की मात्रा काफी ज्यादा होती है। इसके अधिक सेवन से कब्ज की शिकायत हो सकती है। इसके अलावा रागी के अत्यधिक सेवन से शरीर में ऑक्सेलिक एसिड की वृद्धि हो सकती है, जिसके कारण गुर्दे की पथरी और यूरिनरी कैलकुली होने की संभावना रहती है। 
 
Read More Articles On Healthy Diet In Hindi
 
 
 
 
Disclaimer