Children's Health: शरीर के साथ आपके बच्चे का मस्तिष्क भी है स्वस्थ? जानें मानसिक स्वास्थ्य के 5 अच्छे संकेत

आप अपने बच्चे के मानसिक स्वास्थ्य की सक्रिय रूप से देखभाल करते हैं, तो इसके लिए आपको खुद का पीठ थपथपाना चाहिए। क्योंकि आप एक जागरूक मां-बाप हैं।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Jun 06, 2020Updated at: Jun 06, 2020
Children's Health: शरीर के साथ आपके बच्चे का मस्तिष्क भी है स्वस्थ? जानें मानसिक स्वास्थ्य के 5 अच्छे संकेत

मानसिक स्वास्थ्य का ख्याल रखना हम सभी के लिए बेहद जरूरी है। ऐसा इसलिए क्योंकि शारीरिक तौर पर स्वस्थ्य रहने में भी हमारे मस्तिष्क की भूमिका होती है। वहीं बड़ों के साथ बच्चों के भी मानसिक स्वास्थ्य पर ध्यान देना (Children and Mental Health) बहुत जरूरी है। जबकि हम अक्सर मानसिक स्वास्थ्य के बारे में बात करते हैं और मानसिक स्वास्थ्य स्थितियों से जूझने के मूक संकेतों के बारे में विस्तार से जानते हैं। पर आज हम बच्चों में मानसिक स्वास्थ्य (Mental illness in children) से जुड़ी किसी भी बीमारि के बारे में बात नहीं करेंगे, बल्कि उन संकेतों को समझेंगे जिससे हमें पता हो कि हमारा बच्चा मानसिक रूप से स्वस्थ और खुश है। वहीं इसके उलट इन्हीं संकेतों में कमी आने पर हमें तुरंत समझना चाहिए कि वो बीमार है या किसी परेशानी में हैं या उनका मानसिक स्वास्थ्य अच्छा नहीं है।

insidechildrenshealth

अपनी भावनाओं को शेयर करना

अच्छे मानसिक स्वास्थ्य वाले बच्चे बहुत वोकल होते हैं। वो हर चीज को बड़ी ही बारीकी से अपने माता-पिता को बताते हैं। वो अपनी भावनाओं को खुल कर रखना जानते हैं। क्लास की छोटी-बड़ी बातों से लेकर भाई-बहन की लड़ाई तक में वो अपनी खुशी और गुस्सा दोनों जाहिर करते हैं। वो मुंह बंद करके नहीं रहते। इसके उलट जब बच्चा मानसिक रूप से परेशान होता है तो वो कुछ भी शेयर करने और कहना पसंद नहीं करता। वो चुपचुप रहता है और बातों का छुपाता है।

अच्छे से खाना खाना

जब आपका बच्चा खाने में रूचि दिखाता है और अच्छे से खाता-पिता है, तो इसका मतलब ये है कि वो मन से खुश भी है। साथ ही आपको भी उन्हें ताजे फलों और सब्जियों से भरपूर एक संतुलित आहार और पोषक तत्वों को उन्हें प्रदान करना चाहिए। ये आपके बच्चे को स्वस्थ रखने में मदद करेगा। बच्चे को जंक फूड और प्रोसेस्ड खाद्य पदार्थों को खाने न दें, क्योंकि ये उनमें छोटे से उम्र से ही मूड स्विंग्स की परेशानी पैदा करेगी। वहीं बच्चे को हेल्दी पोषण देने से उनके दिमाग को भी पोषण मिलेगा।

insidegoodeatinghabits

इसे भी पढ़ें : बड़े ही नहीं बल्कि बच्चों के लिए भी फायदेमंद है होम्योपैथी इलाज, इम्यून सिस्टम को भी करता है मजबूत

खुशी से चीजों में भाग लेना

बच्चा जब मानसिक और शारीरिक से स्वस्थ होता है तो वो चीजों में भाग लेता है। वो खुद से बहुत सारी चीजों को करता है और उसमें एक अलग तरह की उर्जा होती है। इस तरह, वो लगातार अपनी ऊर्जा को कुछ न कुछ करने में लगाते हैं। वो नए-नए पेंटिंग्स बनाते हैं, नई चीजों को बनाने के बारे में सोचते हैं और कुल मिला कर पूरी तरह से क्रिएटिव चीजों में लगे रहते हैं।

खूब सारे दोस्त बानते हैं और अपने ग्रुप में सक्रियता दिखाना

कोई भी व्यक्ति जो मानसिक रूप से स्वस्थ होता है वो दोस्तों और परिवार काफी हद तक सक्रिय नजर आता है। यही चीज बच्चों में होती है। आपने कई बार किसी बच्चे के झुंड़ को देखा होगा गौर से तो समझा होगा कि कुछ बच्चे ग्रुप में बहुत सक्रिय होते हैं। तो अगर आपका बच्चा मानसिक रूप से स्वस्थ है, तो वो हर तरह की गतिविधियों में अपनी सक्रियता जरूर दिखाएगा।

insidecaringchild

इसे भी पढ़ें : गर्मियों में आपके बच्चे की त्वचा भी हो रही है खराब? जानें क्या है इसका कारण और बचाव

बदमाशी में भी दिमाग का इस्तेमाल करना

आपका बच्चा अगर खुश और पूरी तरह से स्वस्थ है, तो आपका और भाई-बहनों की केयर करने की कोशिश करेगा। वो हर किसी जुड़ाव महसूस करेगा। वो बदमाश भी क्यों न हो पर उसकी हरकतों में दिमागदारी नजर आएगी। ऐसे बच्चे कभी ही शायद शांत बैठे। वो शांति में भी कुछ न कुछ नया करने की कोशिश करते हैं। इस तरह ये सभी गुण बताते हैं कि कैसे मासिक रूप से स्वस्थ बच्चा हर तरह से खुश और गतिविधियों को करने में सक्रिय होता है। वहीं इन में से किसी में भी लगातार कमी आते दिखे, तो आपको अपने बच्चे का एक्ट्रा ख्याल रखने की कोशिश करनी चाहिए।

Read more articles on Children's Health in Hindi

Disclaimer