सर्दियों में सूख रही है आंखों की नमी? बचने के लिए अपनाएं ये उपाय

Eye care tips in Winter: सर्दियों में हवा में नमी की कमी होने कारण आंखों को कई तरह की समस्याएं हो सकती हैं।

Ashu Kumar Das
Written by: Ashu Kumar DasUpdated at: Oct 10, 2022 13:13 IST
सर्दियों में सूख रही है आंखों की नमी? बचने के लिए अपनाएं ये उपाय

Eye care tips for winter: सर्दियों का मौसम बहुत ही नाजुक माना जाता है। हवा में पानी की कमी होने के कारण चेहरे, बाल और खासकर आंखों को खास देखभाल की जरूरत होती है। सर्दियों के मौसम में आंखों की सही देखभाल न की जाए तो खुजली, जलन और ड्राइनेस की समस्या हो सकती है। ये समस्याएं ज्यादातर चढ़ती सर्दियों में देखने को मिलती है। दिल्ली, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, पंजाब समेत पूरे उत्तर भारत में सर्दी के मौसम की शुरुआत हो चुकी है। इसलिए आज हम आपको बताने जा रहे हैं सर्दियों में आंखों की देखभाल कैसे की जाए (sardion main kaise karen aankhon ki dekhbhal)। 

Eye-care-Tips

सर्दियों में आंखों की देखभाल की टिप्स - Eye care tips in Winter

पानी ज्यादा पिएं

सर्दियों का मौसम आते ही ज्यादातर लोग पानी कम पानी शुरू कर देते हैं। पानी कम पीने की वजह से शरीर और आंखों को कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। गर्मियों की तरह सर्दियों में भी शरीर का पर्याप्त पानी की जरूरत होती है। सर्दियों में पर्याप्त मात्रा में पानी पीकर आंखों की समस्या से बचा जा सकता है।

टोपी और चश्मा लगाएं

घर से बाहर निकलते वक्त ठंडी हवाएं सीधे आंखों पर अटैक न करे इसके लिए टोपी या चश्मा लगाकर जाएं। आंखों पर चश्मा लगाने से सर्द हवाओं का असर कम हो जाता हैं। साथ ही आंखों की नमी भी बरकरार रहती है।

इसे भी पढ़ेंः वजन घटाने के दौरान न करें ये 5 गलतियां, उल्टा बढ़ने लगेगा मोटापा

 

हीटर से बनाएं दूरी

सर्दियों के मौसम में अक्सर लोग शरीर को गर्मी देने के लिए हीटर का इस्तेमाल करते हैं। हीटर का इस्तेमाल आंखों और स्किन के लिए काफी नुकसानदायक माना जाता है। हीटर से निकलने वाली किरणों से आंखों की नमी सूख जाती है, जिससे जलन और खुजली बढ़ सकती है। अगर आप सर्दी से बचने के लिए हीटर का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो उससे थोड़ी दूरी बनाकर बैठें।

Eye-Care-with-Rose-water

गुलाब जल डालें

सर्दियों के मौसम में आंखों की नमी को बनाएं रखने के लिए गुलाब जल डालें। गुलाब जल में मौजूद नेचुरल टेरपेन, एंथोसायनिन और फ्लेवोनोइड्स आंखों को मॉइश्चराइज करने का काम करते हैं। गुलाब जल में मौजूद एंटी सेप्टिक और एंटीबैक्टीरियल प्रॉपर्टीज आंखों को प्रदूषण और धूल के कणों से होने वाले नुकसान से बचाने में मदद करते हैं।

इसे भी पढ़ेंः बालों पर भिंडी का जेल लगाने से दूर होंगी कई समस्याएं, जानें इस्तेमाल का तरीका

 

ह्यूमिडिफायर का इस्तेमाल करें

आप गर्म स्थानों पर समय बिताते हैं, तो हवा में कुछ नमी वापस जोडऩे के लिए एक ह्यूमिडिफायर का उपयोग करें। ह्यूमिडिफायर का इस्तेमाल करने से आंखों की नमी को बनाए रखने में मदद मिलती है।

 
Disclaimer