बाहर से लौटें तो बिना कपड़े बदले न लेटें बिस्तर पर, हो सकती हैं कई बीमारियां

आपके कपड़ें मेट्रो सीट, कार्यालय की कुर्सियां, बार, टॉयलेट,  और पार्क की बेंच से गुजर कर आते हैं, जो अपने साथ रोजाना हजारों बैक्टीरिया ला सकते हैं। 

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Jan 30, 2020Updated at: Jan 30, 2020
बाहर से लौटें तो बिना कपड़े बदले न लेटें बिस्तर पर, हो सकती हैं कई बीमारियां

अगर आपकी मां या प्रेमिका आपको अपने बिस्तर पर नहीं बैठने देती है, तो इसकी वजह से आप उनसे नाराज मत होइए। ऐसा इसलिए क्योंकि ये आपके और उनके भले के लिए ही है। दरअसल जब भी आप बाहर से आते हैं, तो हो सकता है कि आपके कपड़ों के साथ बहुत से बाहरी बैक्टीरिया या वायरस भी आ गए हों। ऐसे में कई बार बाहर से आकार हाथ-पैर धो कर भी, बिना कपड़े बदले बिस्तर बैठना तक आपको बीमार कर सकता है। इन छोटे-छोटे बैक्टीरिया की खास बात यही होती है कि ये खुली आंखों से नहीं दिखते। वहीं अगर आपने इन कपड़ों को नहीं धोया है तो ये बैक्टीरिया इन पर लंबे समय तक रह सकते हैं। 

inside_CLOTHESINFECTION

न्यूयॉर्क विश्वविद्यालय में माइक्रोबायोलॉजी और इम्यूनोलॉजी के निदेशक फिलिप टिएर्नो के अनुसार, बैक्टीरिया आपके कपड़ों पर हफ्तों या महीनों तक रह सकते हैं। टिएर्नो कहते हैं, यहां तक कि ब्रांडेड कपड़े या नए कपड़ों में भी दूषित कीटाणु हो सकते हैं। इसलिए जिस शर्ट को आप 12 घंटे तक घूम रहे हैं, उसे बिस्तर पर बैठने से पहले उतार दें। यह नियम आपके मेहमानों के लिए भी लागू होना चाहिए। जब भी मेहमान आएं उन्हें कुर्सी या सोफे पर बिठाएं पर उन्हें अपने बेड रूम या बिस्तर न बैठाएं।

इसे भी पढ़ें : जिम के कपड़ों से आने वाली बदबू और बैक्‍टीरिया से कैसे बचें

गोंद की तरह चिपके रहते हैं बैक्टीरिया

न्यूयॉर्क विश्वविद्यालय में माइक्रोबायोलॉजी और इम्यूनोलॉजी के निदेशक फिलिप टिएर्नो, ने नए कपड़े तीन लोकप्रिय श्रृंखला के कपड़ों के स्टोर से लेकर उच्च-निम्न-अंत तक सब कुछ खरीदा और उनपर शोध किया। उन्होंने कीटाणुओं के लिए 14 वस्तुओं का परीक्षण किया और उनके खतरों को जाना। टिएर्नो ने परेशान करने वाले परिणाम पाए। जैसे कि

  • -कपड़ों पर वनस्पतियों पर पलने वाले जीवाणु थे।
  • - शर्ट और ब्लाउज पर हमें श्वसन स्रावों, त्वचा को नुकसान पहुंचाने वाले बैक्टीरिया मिले।
  • - जैकेट और पैंट में मल, त्वचा के लिए नुकसानदेह और श्वसन से जुड़ी परेशानियां पैदा करने वाले बैक्टीरिया मिले।
  • - सिल्क ब्लाउज में वजाइनल इंफेक्शन फैलाने वाले जीव, फंगस और अधिक घातक रोगाणु पाए।
inside_DIRTYCLOTHES

फैल सकती हैं गंभीर बीमारियां

अपने बिस्तर पर इन कपड़ो कपड़े पहनने से संक्रमण, मुंह में चकत्ते और मुंहासे हो सकते है। वहीं जिन लोगों की पीठ पर पिंपल्स और दाने होते हैं, उनमे से एक कारण गंदे कपड़े हो सकते हैं। जिन कारणों से हम अक्सर अपनी पीठ और छाती पर मुंहासे देखते हैं, वह चिकना कपड़ों के कारण होता है, जो सड़क और कार्यालय की धूल, पसीने और मृत त्वचा को इकट्ठा करते हैं।  सामान्य तौर पर, मानव शरीर लगभग आधा मिलियन त्वचा कोशिकाओं से एक लीटर पसीना रोज बहाता है। वहीं आपका बिस्तर उस गंदगी के लिए एक बेहतरीन परिवहन केंद्र हो सकता है। इसके अलावा कुछ गंभीर भी हो सकती हैं, जैसे-

  • -फंगल इंफेक्शन
  • - दस्त
  • -नोरोवायरस
  • -पेट के वायरस
  • -हानिकारक बैक्टीरिया 
  • -खतरनाक स्किन इंफेक्शन

इसे भी पढ़ें : सेहत दुरुस्त करेंगे कपड़े

वहीं ये बैक्टीरिया आपके कंबल और तकिया को संक्रमिक कर सकती है। हार्वर्ड में स्लीप मेडिसिन डिवीजन सलाह देता है आपको अपने बिस्तर में काम नहीं करना चाहिए और इसके बजाय रसोई या रहने वाले कमरे में दोस्तों के साथ समय बिताना चाहिए। क्योंकि आपका बिस्तर आपके मस्तिष्क के साथ आराम को जोड़ता है, जो स्वस्थ नींद के लिए बेहद जरूरी है। वहीं आपको अपने बिस्तर पर पालतू जानवरों को भी रखने से बचना चाहिए।

इन बातों का रखें ख्याल

    • घर आए लोगों को बिस्तर पर न बैठाएं।
    • बाहर से आकार पहले बदलें और फिर साफ कपड़ों में बिस्तर पर आएं।
    • नए कपड़ों को पहनने से पहले धोएं या बस धूप में सुखाएं।
    • हर दिन कपड़े बदलें या जिस कपड़े में आप 12 घंटे रहे हों उसे दोबारा बिना धोएं न पहनें।
    • कपड़ो को रोज धो न पाएं तो कम से कम धूप लगाकार ही उसे पहनें।

Read more articles on Miscellaneous  in Hindi

Disclaimer