चेहरे पर मुंहारे, झुर्रियां, रूखेपन जैसी सब समस्याओं का कारण होता है गलत pH लेवल, जानें कैसे सही रखें pH लेवल

आपकी त्वचा का pH लेवल अगर सही नहीं हो, तो कई त्वचा समस्याएं शुरू हो जाती हैं। साबुन, फेसवॉश आदि का आपकी त्वचा के pH लेवल पर असर पड़ता है।

Monika Agarwal
त्‍वचा की देखभालWritten by: Monika AgarwalPublished at: Feb 15, 2021Updated at: Feb 15, 2021
चेहरे पर मुंहारे, झुर्रियां, रूखेपन जैसी सब समस्याओं का कारण होता है गलत pH लेवल, जानें कैसे सही रखें pH लेवल

हमारे चेहरे की त्वचा बहुत सेंसिटिव होती है। आप जो भी स्किन केयर प्रोडक्ट चेहरे पर लगाते हैं, उसके असर से आपको जो भी फायदे या नुकसान दिखते हैं, उसमें pH वैल्यू की बड़ी भूमिका होती है। pH को 'पावर ऑफ हाइड्रोजन' कहा जाता है। किसी चीज का स्वभाव कितना एसिडिक (अम्लीय) या बेसिक (क्षारीय) है, यही pH लेवल बताता है। त्वचा से जुड़ी ज्यादातर समस्याओं के पीछे गलत pH लेवल जिम्मेदार होता है। स्किन से जुड़ी सारी ही परेशानियां हमें पीएच लेवल के असंतुलन से झेलनी पड़ती है (pH balanced skin care)। इसलिए इसे सही समय पर ठीक करना बेहद जरूरी है।

कुछ महिलाएं अपनी ऑयली स्किन (oily skin) से परेशान होती हैं। जिसके चलते हमेशा ही उनको पिम्पल्स निकलने का डर लगा रहता है। वहीं जब स्किन ड्राई होती है, तब स्किन पर रैशेज (Skin rashes) होने की चिंता सताती है। इन सब परेशानियों की सिर्फ एक ही वजह है वह है स्किन का पीएच लेवल असंतुलन।

skin problems and pH level

क्यों जरूरी है पीएच लेवल की जानकारी?

जब आप ज्यादा पीएच वाले प्रोडक्ट का उपयोग करती हैं, तो यह आपकी त्वचा की पारगम्यता (permeability)  को काफी प्रभावित करता है। इस कारण आपकी स्किन अधिक संवेदनशील हो जाती है और स्किन समस्याएं जैसे कि स्किन एलर्जी, स्किन इरिटेशन आदि होने लगती हैं। बढ़ा हुआ स्किन पीएच लेवल निम्न स्किन समस्याओं का कारण बनता है।

  • एक्जिमा (eczema)
  • यीस्ट संक्रमण (Candida albicans)
  • रूखापन (Dryness)
  • झुर्रियां (Wrinkles)
  • एथलीट्स फुट (Athlete’s foot)
  • मुँहासे या एक्ने (जब पीएच लेवल 6 और 6.5 के बीच हो)
  • अधिक पीएच लेवल आपकी त्वचा की उम्र बढ़ने की प्रक्रिया को भी तेज करता है

इसी वजह से स्किन का पीएच लेवल (pH balance) बराबर रखना बेहद जरूरी होता है। जिससे स्किन ग्लोइंग और हेल्दी दिखती है। आप में से काफी लोग पीएच के बारे में नहीं जानते। पीएच से स्किन में हाईड्रोजन की मात्रा बराबर होनी चाहिए। स्किन में पीएच का सही स्तर 5.5 होना चाहिए (pH balance)। आगे जानिए कि आप कैसे सरल उपाय के जरिये अपनी स्किन का पीएच लेवल सही बनाए रख सकती हैं।

इसे भी पढ़ें: ऐसे चुनें सेंसिटिव अंगों के लिए सही पीएच लेवल वाले प्रोडक्ट्स, त्वचा रहेगी सुरक्षित

क्या है स्किन के लिए सही पीएच लेवल (Right pH Level for Skin)

आमतौर पर आपके चेहरे और गुप्तांगों की त्वचा को ही सबसे ज्यादा सेंसिटिव माना जाता है। इसलिए सही pH लेवल मेनटेन न करने का असर भी इन्हीं अंगों पर सबसे ज्यादा दिखाई देता है। चेहरे और शरीर की त्वचा का सामान्य पीएच लेवल 4.5 से 5.75 तक माना जाता है। उम्र के साथ त्वचा का पीएच लेवल भी घटता बढ़ता रहता है।

स्किन में पीएच का संतुलन क्यों जरूरी (pH Balance Level)

हमारी स्किन के पीएच लेवल को किसी भी चीज से प्रभावित किया जा सकता है। आप जिस भी स्किनकेयर प्रोडक्ट को अपने चेहरे या स्किन पर आजमा रही हैं, या आप कितनी बार अपना फेस वाश कर रही हैं, यहां तक आप अपने आहार में क्या चीजें शामिल कर रही हैं, इन सबका असर पीएच पर पड़ता है। इसलिए वो बदलने लगता है। स्किन में पीएच लेवल की स्थिति काफी महत्व रखती है। अगर पीएच लेवल सही रहेगा तो बैक्टीरिया हमारी स्किन से कोसों दूर रहेंगे व स्किन खुलकर मुस्कुराएगी। स्किन को प्रभावित करने वाले अन्य कुछ निम्न कारण हैं।

pH level indicator

आहार भी रखता है मायने (Food We Take)

बहुत सी महिलाएं हैं, जिन्हें बाहर का खाना बेहद पसंद होता है। जिसका असर उनकी स्किन पर पड़ता है। इससे मुंहासे होने की समस्या होने लगती हैं। बाहर के खाने से स्किन में बैक्टीरिया पनपने लगते हैं। जिससे पीएच खुद अपना संतुलन खोने लगता है और स्किन लाल रंग की दिखने लगती है। आहार आपके त्वचा के pH लेवल में बड़ी भूमिका निभाते हैं। अगर आप एक अच्छा आहार अपने खाने में शामिल करेंगी तो स्किन में पीएच लेवल सही रहेगा। आप रोजाना स्किनकेयर रूटीन को फॉलो करें। इससे आपको अपनी स्किन की जरुरत के बारे में पता भी चलेगा और आप बेहतर तरीके से उसका ख्याल भी रख पाएंगी।

बढ़ती उम्र का प्रभाव (Age Matters)

जैसे-जैसे आपकी उम्र बढ़ती है आपकी त्वचा अधिक एल्कलाइन होने लगती है। तभी स्किन पर झुर्रियां, पिगमेंटेशन व फाइन लाइन जैसी समस्याएं बढ़ने लगती हैं।

अत्यधिक सन एक्सपोजर

सूरज की हानिकारक यूवी किरणें त्वचा पर प्रभाव डालती हैं, जिस वजह से स्किन की एसिड मेंटल कमजोर हो जाती है। फिर पिगमेंटेशन, डलनेस और मुंहासे होने लगते हैं।

साबुन का प्रयोग

यदि आप बार साबुन प्रयोग करते हैं तो यह सबसे ज्यादा त्वचा को नुकसान पहुंचाने वाला कारक है। दरअसल अधिकांश साबुन बार का पीएच लेवल 9 के आसपास होता है। जोकि आपकी त्वचा के पीएच लेवल से बहुत ज्यादा है। इस कारण स्किन संवेदनशील हो जाती है।

how to maintain skin pH level

सही pH मेनटेन करने के लिए क्या करें?

स्किन करें हाइड्रेट (Skin Hydration)

अपने दिन की शुरुआत नींबू पानी या हल्दी वाले पानी के साथ करें। इसके बाद आप ताजे फलों के साथ नट्स खाएं। वहीं पौष्टिक आहार के लिए चार्ट बनाएं, जिसकी मदद से आप स्किन के साथ शरीर को हेल्दी बनाए रख सकेंगी। स्किन का पीएच लेवल संतुलित रखने के लिए शरीर का हाइड्रेट होना जरूरी होता है। इससे आपको ग्लोइंग स्किन के साथ झुर्रियों से भी निजात मिलेगी।

योग करेगा मदद (Exercise & Yoga)

हर मर्ज की दवा योग है, ऐसा कहना बिलकुल भी गलत नहीं होगा। स्किन में चमक बनाए रखने के लिए अपनी दिनचर्या में कुछ मिनटों का योग शामिल करें। वहीं ख़ास चेहरे के योग से स्किन में कसाव के साथ मांसपेशियों में मजबूती मिलती है। ब्लड सर्क्युलेशन को बढ़ाने के लिए और तनाव से दूर रखने में योग से बेहतर तरीका कुछ और हो ही नहीं सकता। योग से जब स्किन हेल्दी रहेगी तो पीएच लेवल भी अपने आप संतुलित रहेगा।

इसे भी पढ़ें: बालों का झड़ना रोककर घने और मजबूत बनाएगा ये होममेड pH बैलेंसिंग शैंपू, कंडीशनर की भी नहीं पड़ेगी जरूरत

स्किन को समझना भी जरूरी (Know Your Skin)

अगर आप अपनी स्किन के लिए बेहतर से बेहतर स्किन केयर प्रोडक्ट का इस्तेमाल करती हैं, और ऐसा सोचती हैं कि आप अपनी स्किन का अच्छा ख्याल रख रही हैं, तो यहां आप गलत भी हो सकती हैं। हमारी स्किन कभी कभी बदलाव भी मांगती है। स्किन का रखरखाव और ख्याल रखने के चक्कर में कभी कभी पीएच लेवल कम होने लगता है जिससे आपकी परेशानी बढ़ने लगती है। आप किसी एक्सपर्ट की मदद ले सकती हैं। वो आपको बेहतर सुझाव देंगे। स्किन को 5.5 पीएच लेवल में संतुलित रखना काफी जरूरी है।

अगर आप स्किन के पीएच लेवल को सामन्य रखना चाहती हैं तो आप कैमिकल युक्त साबुन और क्लींजर से जितनी जल्दी हो सके उतनी जल्दी दूरी बनाकर रखें। आप ऐसे स्किन केयर प्रोडक्ट को चुनें जिसमें कैमिकल ना हो। आप उन्हें खरीदने से पहले उसकी अच्छी तरह से जांच कर लें। इसके आलावा स्किन का पीएच स्तर सही बनाने के लिए चेहरे को धोने के लिए बहुत ठंडा या गर्म पानी चुनने से बचें।

Read More Articles on Skin Care in Hindi

Disclaimer