Expert

शहद का चीनी के बूरे की तरह जम जाना सामान्य है? जानें क्रिस्टलाइज शहद की शुद्धता की जांच कैसे करें

honey crystallised causes in Hindi: अक्सर हम देखते हैं कि शहद बूरे की तरह जम जाता है, जिसको लेकर लोगों में मन में तरह-तरह के सवाल आते हैं।

Vineet Kumar
Written by: Vineet KumarUpdated at: Mar 14, 2022 17:32 IST
शहद का चीनी के बूरे की तरह जम जाना सामान्य है? जानें क्रिस्टलाइज शहद की शुद्धता की जांच कैसे करें

शहद का सेवन तो हम सभी करते हैं। यह न सिर्फ बेहद स्वादिष्ट होता है, बल्कि यह आपको कई स्वास्थ्य लाभ भी प्रदान करता है। आयुर्वेद की मानें तो शहद को इसके औषधीय गुणों के लिए जाना जाता है। इसे वर्षों से कई स्वास्थ्य समस्याओं से राहत पाने के लिए इस्तेमाल किया जाता रहा है। शहद सर्दी, जुकाम, खांसी, गले के इंफेक्शन आदि से निजात पाने का एक प्रभावी घरेलू उपाय माना जाता है।

लेकिन अक्सर आपने देखा होगा कि आप जिस शहद का इस्तेमाल करते हैं वह कुछ समय बाद चीनी के बूरे (भुरभुरे दाने) की तरह जम जाता है या क्रिस्टल जैसा हो जाता है। क्या ऐसा होना सामान्य है?  क्या आपने कभी यह जानने की कोशिश की शहद के क्रिस्टलाइज होने के क्या कारण हैं (honey gets crystallised causes in Hindi)? कई बार लोग शहद के क्रिस्टलाइज होने को शहद की शुद्धता से जोड़ते हैं और यह समझते हैं कि शहद खराब हो गया है। यह जानने के लिए हमने डायटीशियन गरिमा गोयल (एमएस, आरडी, सीडीई) से बात की। इस लेख में हम आपको इसके बारे में विस्तार से बता रहे हैं।

शहद के क्रिस्टलाइज होने के क्या कारण हैं? (Why honey gets crystallised causes in Hindi)

डायटीशियन गरिमा गोयल बताती हैं कि शहद वास्तव में सुक्रोज (Sucrose) और फ्रक्टोज (Fructose) जैसी प्राकृतिक शुगर का एक मिश्रण है, और शुगर में क्रिस्टलीकरण की प्रवृत्ति होती है। यही कारण है कि आप अक्सर देखते हैं की शहद काफी दिनों तक रखा रहे या ठंड के मौसम में बूरे की तरह जम जाता है। उनकी मानें तो शहद में इतना पानी नहीं होता है कि उसमें स्थायी रूप से प्राकृतिक शुगर घुल सके, इसलिए शहद आसानी से क्रिस्टलाइज हो जाता है (honey gets crystallised causes)।

इसे भी पढें: सूजी या बेसन, वजन घटाने के लिए क्या है ज्यादा फायदेमंद? जानें क्या कहते हैं एक्सपर्ट

honey gets crystallised causes

क्या क्रिस्टलाइज शहद खराब होता है? (Is Crystallised Honey Is Bad For health In Hindi)

डायटीशियन गरिमा गोयल की मानें तो ऐसा नहीं है। उनके अनुसार शहद का बूरे की तरह जमना या क्रिस्टलीकृत होना वास्तव में शहद की शुद्धता का प्रतीक है। लेकिन, इसका मतलब यह नहीं है कि जो शहद क्रिस्टलीकृत नहीं होता वह खराब है। शहद की कुछ किस्मों में क्रिस्टलीकरण की संभावना होती है जबकि कुछ किस्मों के साथ ऐसा नहीं है। शहद के क्रिस्टलीकृत होने में तापमान की भी अहम भूमिका होती है। अक्सर देखा जाता है कि ठंड के मौसम में शहद के क्रिस्टलीकृत होने की संभावना बढ़ जाती है।

शहद शुद्ध है या नहीं इसकी जांच कैसे करें (How To Check Honey Purity In Hindi)

डायटीशियन गरिमा की मानें तो शहद की शुद्धता की जांच करना बहुत आसान है। आप कुछ सिंपल स्टेप्स को फॉलो करके आसानी से पता लगा सकते हैं कि शहद शुद्ध है या नहीं, या शहद में किसी तरह की मिलावट तो नहीं की गई। जैसे:

  • एक साफ गिलास में पानी लें और उसमें शहद की एक बूंद डालें। अगर शहद शुद्ध है तो पानी में बिना घुले गिलास के तले पर जमा हो जाएगा। लेकिन अगर शहद में मिलावट है तो वह पानी में तुरंत घुल जाएगा।
  • इसके अलावा यह पता लगाने के लिए कि शहद में किसी तरह की कोई मिलावट है या नहीं, एक और बहुत आसान तरीका है। एक माचिस की तीली को शहद में डुबोएं और फिर उसे जलाकर पतला करने का प्रयास करें। अगर शहद असली है तो वह जलता नहीं है, और न ही उसकी मात्रा कम होती है।

इसे भी पढें: नींबू और घी का एक साथ सेवन करने से मिलते हैं ये 5 फायदे, आयुर्वेदाचार्य से जानें सेवन का तरीका

 All Image Source: Pixabay.com

(With Inputs Dietitian Garima Goyal, MS, RD, CDE- Dietitian Garima Diet Clinic Ludhiana, Punjab)

Disclaimer