Diabetes Causes: डायबिटीज का कारण है शरीर में होने वाले ये 5 बदलाव, जानें बचाव

डायबिटीज कैसे होती है, डायबिटीज के कारण क्‍या है, डायबिटीज से कैसे बचा जा सकता है। अकसर ऐसे सवाल आपके मन में आते होंगे। तो आइए जानते हैं इन सवालों के जवाब कि आखिर डायबिटीज कैसे होता है, इसके कारक क्‍या हैं।

Atul Modi
Written by: Atul ModiPublished at: Dec 29, 2011Updated at: Sep 13, 2019
Diabetes Causes: डायबिटीज का कारण है शरीर में होने वाले ये 5 बदलाव, जानें बचाव

डायबिटीज एक ऐसी बीमारी है जो तब होती है जब आपका ब्‍लड शुगर, जिसे रक्त शर्करा भी कहा जाता है, बड़ जाता है। ब्‍लड शुगर आपकी ऊर्जा का मुख्य स्रोत है और आपके द्वारा खाए गए भोजन से आता है। इंसुलिन, एक हार्मोन जो अग्न्याशय द्वारा बनाया जाता है, भोजन से ग्लूकोज को आपकी कोशिकाओं में ऊर्जा के लिए उपयोग करने में मदद करता है। कभी-कभी आपका शरीर इंसुलिन पर्याप्त मात्रा में नहीं बनाता है या अच्छी तरह से इंसुलिन का उपयोग नहीं करता है। तब ग्लूकोज आपके रक्त में रहता है और आपकी कोशिकाओं तक नहीं पहुंचता है। 

समय के साथ, जब आपके रक्त में ग्लूकोज बढ़ जाता है तो स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं। हालांकि डायबिटीज का कोई इलाज नहीं है, फिर भी आप अपने डायबिटीज का प्रबंधन और स्वस्थ रहने के लिए कुछ कदम उठा सकते हैं। लेकिन, इसके लिए आपको डायबिटीज होने के कारणों को जानना होगा, जिसे आप दूर कर अपने ब्‍लड शुगर लेवल का प्रबंधन कर सकते हैं।

डायबिटीज के कारण- Causes Of Diabetes 

यह तो आप जानते ही होंगे कि हमारे शरीर की पेंक्रियाज ग्रंथी के ठीक से काम ना करने या फिर पूरी तरह से बेकार होने से डायबिटीज हो जाती है। हालांकि डायबिटीज होने के और भी कई कारक है लेकिन पेंक्रियाज ग्रंथी इसका सबसे बड़ा कारण है।

1. रक्‍त में शुगर का अधिक होना

डायबिटीज के कारण इंसुलिन के कम निर्माण से रक्त में शुगर अधिक हो जाती है क्योंकि शारीरिक ऊर्जा कम होने से रक्त में शुगर जमा होती चली जाती है जिससे कि इसका निष्कासन मूत्र के जरिए होता है। इसी कारण डायबिटीज रोगी को बार-बार पेशाब आता है।

2. पेंक्रियाज ग्रंथी है जिम्‍मेदार

दरअसल पेंक्रियाज ग्रंथी से तरह-तरह के हार्मोंस निकलते हैं, इन्हीं में से हैं इंसुलिन और ग्लूकान। इंसुलिन हमारे शरीर के लिए बहुत उपयोगी है। इंसुलिन के जरिए ही हमारे रक्त में, हमारी कोशिकाओं को शुगर मिलती है यानी इंसुलिन शरीर के अन्य भागों में शुगर पहुंचाने का काम करता है।

3. अनुवांशिक कारण

डायबिटीज के होने के और भी कारण है। यह अनुवांशिक भी होती है। यदि आपके परिवार के किसी सदस्य मां-बाप, भाई-बहन में से किसी को है तो भविष्य में आपको भी डायबिटीज होने की आशंका बढ़ जाती है।

इसे भी पढ़ें: डायबिटीज पेशेंट के लिए खतरनाक हैं ये 5 ड्रिंक्‍स, ब्‍लड शुगर को कंट्रोल करना हो जाएगा मुश्किल

4. इंसुलिन हार्मोंन का कम निर्माण होना

इंसुलिन द्वारा पहुंचाई गई शुगर से ही कोशिकाओं या सेल्स को एनर्जी मिलती है। डायबिटीज का कारण है इंसुलिन हार्मोंन का कम निर्माण होना। जब इंसुलिन कम बनता है तो कोशिकाओं तक और रक्त में शुगर ठीक से नहीं पहुंच पाती जिससे सेल्स की एनर्जी कम होने लगती है और इसी कारण से शरीर को नुकसान पहुंचने लगता है। जैसे- बेहोशी आना, दिल की धड़कन तेज होना इत्यादि समस्याएं होने लगती हैं।

इसे भी पढ़ें: सुबह एक ग्‍लास दूध पीने से दिनभर रहेगा आपका ब्‍लड शुगर कंट्रोल: शोध

5. मोटापा भी है जिम्‍मेदार

आपका समय पर ना खाना, बहुत अधिक जंकफूड खाना या आपका मोटापा बढ़ना भी डायबिटीज का मुख्य कारक है। आपका वजन बहुत बढ़ा हुआ है, आपका बीपी बहुत हाई है और कॉलेस्ट्रॉल भी संतुलित नहीं है तो आपको डायबिटीज हो सकता है। बहुत अधिक मीठा खाने, नियमित रूप से बाहर का खाना खाने, कम पानी पीने, एक्सरसाइज ना करने, खाने के बाद तुरंत सो जाने या ज्यादा समय तक लगातार बैठा रहना इत्यादि कारण भी डायबिटीज को जन्म दे सकते हैं। 

वर्तमान में बच्चों में होने वाली डायबिटीज का मुख्य कारण उनका रहन-सहन और खानपान है। इसके साथ ही शारीरिक रूप से निष्क्रियता भी बच्चों को डायबिटीज की और अग्रसर कर सही है। यदि आप चाहते हैं कि आप और आपका परिवार डायबिटीज से बचें तो उसके लिए हेल्दी लाइफ स्टाइल अपनाना जरूरी है। जिसमें एक्सरसाइज और हेल्दी  फूड को खास प्राथामिकता दें।

Read More Articles on Diabetes in Hindi

Disclaimer