खाने के बाद करें वज्रासन, शरीर को मिलेंगे कई फायदे और बेहतर होगा पाचन

खाने के बाद वज्रासन करने से शरीर को कई लाभ हो सकते हैं। इससे पाचन में सुधार आता है। साथ ही मोटापा कम कर सकता है। आइए जानते हैं इसके फायदों के बारे में

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraPublished at: Jun 10, 2022Updated at: Jun 10, 2022
खाने के बाद करें वज्रासन, शरीर को मिलेंगे कई फायदे और बेहतर होगा पाचन

योगासन करने से शरीर, मन और आत्मा को शांति मिलती है। योग शरीर को स्वस्थ रखने का सबसे सरल और सर्वोत्तम तरीका है। इसलिए कई हेल्थ एक्सपर्ट नियमित रूप से योगाभ्यास करने की सलाह देते हैं। योग आपको शारीरिक और मानसिक रूप से फिट रखता है। साथ ही हार्मोनस समस्याओं को भी कम कर सकता है। हम में से कई लोग अक्सर सुबह या शाम के समय योग का अभ्यास करते हैं, लेकिन कुछ ऐसे योग हैं जिसका अभ्यास खाना खाने के बाद करना चाहिए। इन्हीं योग में से एक है वज्रासन। वज्रासन का अभ्यास करने से शरीर दुरुस्त होता है। अधिकतर एक्सपर्ट खाने के बाद वज्रासन करने की सलाह देते हैं। इससे पाचन शक्ति दुरुस्त होती है। साथ ही यह शरीर के बढ़ते वजन को कंट्रोल करता है। इसके अलावा वज्रासन के कई फायदे होते हैं। आइए जानते हैं खाना खाने के बाद नियमित रूप से वज्रासन करने से शरीर को क्या-क्या फायदे (Vajrasana Benefits after Meal) हो सकते हैं। 

खाने के बाद वज्रासन के फायदे 

पाचन को करे दुरुस्त

खाने के बाद वज्रासन करने से पाचन तंत्र दुरुस्त होता है। दरअसल, इस आसान को करने से पैरों और जांघों के बीच ब्लड सर्कुलेशन बाधित होता है, जो हमारे पेट क्षेत्र में इसे आगे की ओर बढ़ाता है। ऐसे में यह आसन मल त्याग को सुधारने में असरदार हो सकता है। इस आसन को करने से कब्ज से राहत मिल सकती है।

खाने के बाद वज्रासन करने से पेट फूलने (गैस) और एसिडिटी जैसी परेशानी से निजात पा सकते हैं। यह शरीर में पोषक तत्वों का अवशोषित करने में बेहतर होता है। अक्सर खाने के बाद किसी भी एक्सरसाइज और योग को न करने की सलाह दी जाती है, लेकिन वज्रासन एक ऐसा योग है, जिसे खाने के बाद करने की सलाह दी जाती है। क्योंकि यह अपच की परेशानी को दूर करने में मददगार होता है। 

इसे भी पढ़ें - वज्रासन के अभ्यास से इन 5 बीमारियों में मिलता है बड़ा लाभ, जानें करने का तरीका और सावधानियां

पीठ के निचले हिस्से के दर्द को करता है दूर

वज्रासन करने से पीठ के निचले हिस्से की मांसपेशियां मजबूत होती हैं। यह पीठ में कभी-कभार होने वाले दर्द और परेशानी को कम कर सकता है। साथ ही यह आसन साइटिका के कारण होने वाले दर्द को दूर करने में असरदार है। 

ब्लड शुगर को करता है कंट्रोल

खाने के बाद वज्रासन करने से डायबिटीज कंट्रोल हो सकता है। यह उन आसनों में से एक है, जो डायबिटीज रोगियों के लिए प्रभावी होता है। दरअसल, यह पैंक्रियाज और लिवर के लिए काफी फायदेमंद होता है। इस आसन के नियमित अभ्यास से इंसुलिन का उत्पादन करने की क्षमता में सुधार आता है। वज्रासन करने से फास्टिंग ब्लड शुगर के स्तर में सुधार देखा जा सकता है। 

दिमाग को करता है शांत

वज्रासन का नियमित अभ्यास करने से दिमाग शांत हो सकता है। इससे आपके मन को शांति मिलती है। यह आसन भावनात्मक रूप से आपके लिए काफी लाभकारी हो सकता है। खाने के बाद इस आसन को करने से पेट का तनाव कम होता है। साथ ही यह एकाग्रता में सुधार लाता है। साथ ही इसस डिप्रेशन और स्ट्रेस की समस्याएं दूर होती हैं। 

ब्लड प्रेशर में करें सुधार

वज्रासन शरीर में होने वाले तनाव, ब्लड प्रेशर के स्तर को कम करने में असरदार होता है। यह दिल से जुड़ी बीमारियों को दूर कर सकता है। इससे आपके शरीर को काफी लाभ हो सकता है। 

नींद की परेशानी करे दूर

वज्रासन का नियमित रूप से अभ्यास करने से यह तनाव और चिंता को कम कर सकता है। इससे आपकी नींद अच्छी होती है। रात में खाने के बाद वज्रासन करें, इससे अच्छी और गहरी नींद आएगी। 

इसे भी पढ़ें - Yoga For Beauty: चेहरे की सुंदरता को बढ़ाते हैं ये 2 योगासन, तन और मन को रखते हैं तंदरूस्‍त

मोटापा करे कम 

वज्रासन का अभ्यास करने से पाचन को बढ़ावा मिलता है। यह पेट की चर्बी को कम करने में आपकी मदद करता है। खाने के बाद इस योग के अभ्यास से आपके शरीर का बीएमआई (बॉडी मास इंडेक्स) में सुधार आता है। यह बढ़ते मोटापे को कम करने में कारगर होता है। 

खाने के बाद वज्रासन का अभ्यास करें। यह आपके लिए काफी लाभकारी होता है। हालांकि, ध्यान रखें कि अगर आपको किसी तरह की परेशानी है, तो एक्सपर्ट की सलाह पर ही किसी भी योग का अभ्यास करें।

Disclaimer