ज्यादा एक्सरसाइज से घटती है दिमाग की क्षमता, सोचने-समझने की शक्ति हो जाती है कमजोर

अगर आप भी एक्सरसाइज करते हैं और बॉडी बिल्डिंग का शौक रखते हैं, तो ये आर्टिकल जरूर पढ़ें। वैज्ञानिकों ने बताया है कि अगर आप बहुत ज्यादा एक्सरसाइज करते हैं, तो इससे आपके सोचने-समझने की क्षमता प्रभावित होती है।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Oct 07, 2019
ज्यादा एक्सरसाइज से घटती है दिमाग की क्षमता, सोचने-समझने की शक्ति हो जाती है कमजोर

एक्सरसाइज करना शरीर के लिए अच्छा हो सकता है, मगर जरूरत से ज्यादा एक्सरसाइज करने से आपके दिमाग पर इसका गलत प्रभाव पड़ता है। एक नए अध्ययन के मुताबिक अगर आप ज्यादा एक्सरसाइज करते हैं, तो इससे आपके सोचने-समझने की शक्ति कमजोर हो जाती है। इसे वैज्ञानिकों ने 'ओवरट्रेनिंग सिंड्रोम' का नाम दिया है। ज्यादा एक्सरसाइज का असर आपके शरीर पर भी पड़ता है, मगर सबसे ज्यादा ये मस्तिष्क को प्रभावित करता है। शोधकर्ताओं के अनुसार ये एक तरह की थकान है, जो मस्तिष्क की कुछ तंत्रिकाओं को प्रभावित करती है।

ज्यादा एक्सरसाइज से घटती है दिमागी क्षमता

वैज्ञानिकों के अनुसार ज्यादा एक्सरसाइज से व्यक्ति अपना 'कॉग्निटिव कंट्रोल' खो देता है। कॉग्निटिव कंट्रोल मस्तिष्क की वो क्षमता है, जिसके कारण व्यक्ति चीजों को सोचता-समझता है और निर्णय लेता है। यही कारण है कि जो लोग बहुत ज्यादा एक्सरसाइज करते हैं, उनकी दिमागी क्षमता कम होने का खतरा रहता है। हालांकि इस बात का पता पहले से नहीं लगाया जा सकता है कि कितनी ट्रेनिंग के बाद आपके मस्तिष्क पर इसका असर पड़ेगा।

इसे भी पढ़ें:- अक्षय कुमार ने दिए बॉडी-बिल्डिंग से जुड़े बेहद जरूरी टिप्स, इन 4 गलतियों के लिए किया सावधान

37 एथलीट्स पर की गई रिसर्च

इस रिसर्च के लिए वैज्ञानिकों ने 37 पुरुष एथलीट्स का चुनाव किया, जिनकी उम्र 35 साल से कम थी। इनमें से कुछ लोगों को अपना रेगुलर वर्कआउट करने दिया गया, जबकि कुछ लोगों की ट्रेनिंग को 3 सप्ताह के लिए 40% तक बढ़ा दिया गया। इन सभी एथलीट्स की कॉग्नीटिव योग्यता का पता लगाने के लिए इनका एमआरआई स्कैन (MRI Scan) किया गया। जिसके बाद वैज्ञानिकों ने ये निष्कर्ष निकाला कि ज्यादा एक्सरसाइज का दिमाग की सोचने-समझने की क्षमता पर असर पड़ता है और निर्णय लेने की क्षमता कम हो जाती है। ये रिसर्च करेंट बायलॉजी नाम के जर्नल में छापी गई है।

मस्तिष्क के महत्वपूर्ण हिस्से पर पड़ता है असर

एथलीट्स के एमआरआई स्कैन को देखकर वैज्ञानिकों ने बताया कि जो लोग ज्यादा फिजिकल एक्सरसाइज करते हैं, उनमें मस्तिष्क के पिछले हिस्से पर इसका प्रभाव पड़ता है। मस्तिष्क का ये हिस्सा निर्णय लेने, चीजों के बीच सही-गलत चुनने, व्यवहार को कंट्रोल में रखने और मोटिवेशन के लिए जिम्मेदार होता है। इससे अलावा मस्तिष्क का यही हिस्सा व्यक्ति को किसी काम के लिए प्रेरित (मोटिवेट) करता है। इसलिए ऐसा देखा गया है कि बहुत सारे एथलीट्स अपनी बाद की जिंदगी में काफी चिड़चिड़े और गैर जिम्मेदार हो जाते हैं।

इसे भी पढ़ें:- फायदेमंद हैं कार्डियो एक्सरसाइज मगर ज्यादा करने से होते हैं ये 5 नुकसान

ओवरट्रेनिंग के अन्य नुकसान

अगर आप रोजाना अपने शरीर की क्षमता से ज्यादा एक्सरसाइज करते हैं, तो आपको कई और परेशानियां हो सकती हैं। जैसे-

  • पीठ में दर्द और मांसपेशियां खिंचने-फटने का डर
  • लंबे समय तक एक्सरसाइज से त्वचा में ढीलापन
  • पीठ पर दाने और त्वचा के रोग
  • जोड़ों में दर्द या फ्रैक्चर की समस्या
  • हर समय थके रहना और आलस
Read more articles on Exercise Fitness in Hindi




Disclaimer