बच्चों में पॉजिटिव व्यवहार को बढ़ावा देने के लिए पेरेंट्स अपनाएं ये 6 टिप्स

अगर आप चाहते हैं कि आपका बच्चा अच्छी बातें और अच्छा व्यवहार सीखे तो उसे सिखाएं सकारात्मक व्यवहार।

 
Monika Agarwal
परवरिश के तरीकेWritten by: Monika AgarwalPublished at: Jul 07, 2022Updated at: Jul 07, 2022
बच्चों में पॉजिटिव व्यवहार को बढ़ावा देने के लिए पेरेंट्स अपनाएं ये 6 टिप्स

आपका बच्चा रात दिन आपको देखता है और आपका अनुसरण करता है। इसलिए बच्चे को कोई सा भी व्यवहार सिखाने से पहले तो आपको अपने व्यवहार में बदलाव की जरूरत है। फिर अगर आप चाहते हैं कि बच्चा अच्छा व्यवहार सीखे तो बहुत जरूरी है कि उसे आप अपने अंदर पॉजिटिव व्यवहार लाकर दिखाएं। बच्चों को अच्छी आदतें सिखानी चाहिए और उन्हीं में से एक आदत है बच्चे का पॉजिटिव व्यवहार। बच्चे को दूसरों के साथ कैसे व्यवहार करना है, यह जरूर पता होना चाहिए। यह बात अगर आप बच्चे को सिखाते हैं तो वह बिगड़ने से बच सकते हैं। अच्छा व्यवहार और अच्छी आदतें सिखाने से बच्चा एक अच्छा इंसान बनता है और वह दूसरों के साथ भी अच्छे से बात करता है। ऐसा करने से समाज में भी उसे एक अच्छा ओहदा मिलता है। आपको यह तो पता है कि बच्चे को अच्छी आदतें सिखाना चाहिए, लेकिन बच्चों को कोई चीज सिखाना इतना आसान काम भी नहीं। अगर आप अपने बच्चे को पॉजिटिव व्यवहार करना सिखाना चाहते हैं, तो आपको निम्न बातों का ध्यान रखना चाहिए।

बच्चे की बात सुनें

अगर आप बच्चे में कोई सुधार या बदलाव नहीं देख रहे हैं तो एक बार उनकी बात सुनें। अगर आप उन्हें इग्नोर कर देते हैं तो बच्चे के दिमाग में कुछ बातें अंदर ही रह जाती हैं जिन्हें वह व्यक्त नहीं कर पाता है। इसलिए उनकी बातें सुनें और समझें और उसको अच्छी शिक्षा दें। इससे बच्चे की चिंता और स्ट्रेस कम करने में भी काफी मदद मिल सकती है।

इसे भी पढ़े: अगर बच्चे से हो गई कोई गलती तो डाटें नहीं, इन 6 तरीकों से समझाएं उन्हें

खुद एक रोल मॉडल बनें

आपके बच्चे समझाने से ज्यादा देखने से सीखते हैं। इसलिए आपको अपने बच्चे के सामने एक उदाहरण खुद का ही पेश करना चाहिए। अपने बच्चे को वह व्यवहार करके दिखाना चाहिए जो आप उन्हें करते हुए देखना चाहते हैं। जिस प्रकार का व्यवहार आप अपने घर में करते हैं और जिस प्रकार की एनर्जी आप घर में बनाए रखते हैं, आपके बच्चे को भी वही सीख मिलती है। इसलिए एक अच्छे रोल मॉडल बन कर दिखाएं।

parenting tips

अनावश्यक प्रतिबंध न लगाएं

अगर आप अपने बच्चे से अपनी कीमती चीजों को छुपाना चाहते हैं तो आपको उन्हें उनकी पहुंच से दूर रखना चाहिए। बच्चे पर किसी चीज का प्रतिबंध लगाने से पहले आपको उन पर भरोसा करना होगा और उन्हें बताना होगा कि उनका अभी ऐसी चीजों से दूर रहना क्यों जरूरी है।

अपनी बात पर डटे रहें

आप अपने बच्चे को अपनी जुबान का पक्का बनाना चाहते हैं तो आपको पहले खुद का उदाहरण देना पड़ेगा। आपको बच्चे के सामने अपने वादे पूरे करके दिखाने होंगें। अगर आपका बच्चा किसी चीज की जिद कर रहा है और आप उसे किसी और दिन का दिलासा देते हैं तो आपको यह वादा पूरा करना चाहिए और बच्चे का दिल नहीं तोड़ना चाहिए।

उन्हें ना कहना सीखें 

बच्चे का जिद्दी व्यवहार बदलना भी बहुत जरूरी होता है। इसके  लिए आपको उनकी बुरी आदतों के लिए ना बोलना आना चाहिए। अगर वह रोते या नखरे करते हैं तो भी आपको अपने फैसले पर ही रहना चाहिए। इसी कारण वह जान पाएंगे कि क्या चीज उनके लिए ज्यादा जरूरी है और किस चीज की उनको जिद नहीं करनी चाहिए।

इसे भी पढ़े: बच्‍चों के ब्रेन डेवलपमेंट के ल‍िए ये हैं 5 जरूरी स्‍टेप्‍स, पेरेंट्स आज ही करें शुरू

हर काम में नुक्स ना निकालें

अपने बच्चे को हर छोटी छोटी गलती के लिए ना टोकें। ऐसा करने से वह आपसे बचने लग जायेंगे। कुछ चीजें उनके ऊपर छोड़ दें और देखे की वह कैसा निर्णय ले पाते हैं। साथ ही अगर वह अच्छा निर्णय करते हैं तो उन्हें शाबाशी दें और अगर गलत निर्णय बनाते है तो उन्हें अच्छा करने की सलाह दें।

अपने बच्चे को यह सारी सीख सिखाना काफी जरूरी होता है। इनसे उन्हें आगे के लिए सलाह मिलती है और अच्छे और बुरे में अंतर पता चलता है। अगर बच्चा कोई गलती करता है तो वह आपको आ कर बता सके ऐसा विश्वास भी उनके दिल में बना लें।

Pics: Freepik

Disclaimer