रीढ़ की हड्डी को बनाना है मजबूत और फ्लेक्सिबल? अपनाएं ये आसान से उपाय

Stronger Flexible Spine : रीढ़ की हड्डी को मजबूत और फ्लेक्सिबल रखने के लिए कुछ अहम बातों का ध्यान रखना जरूरी होता है। 

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraPublished at: Jul 18, 2022Updated at: Jul 18, 2022
रीढ़ की हड्डी को बनाना है मजबूत और फ्लेक्सिबल? अपनाएं ये आसान से उपाय

Stronger Flexible Spine: हमारे शरीर में रीढ़ की हड्डी एक महत्वपूर्ण हिस्सा होती है। यह पीठ की हड्डियों का एक समूह है। रीढ़ की हड्डी शरीर को खड़ा रखने, झुकने, मुड़ने, चलने आदि क्रियाओं के लिए महत्वपूर्ण होती है। ऐसे में रीढ़ की हड्डी का मजबूत होना बहुत ही जरूरी है। रीढ़ की हड्डी में किसी तरह की परेशानी होने पर पीठ दर्द, स्पाइनल स्टेनोसिस जैसी परेशानियां हो सकती हैं। अगर आप रीढ़ की हड्डी को मजबूत करना चाहते हैं, तो इसके लिए कुछ जरूरी बातों का ध्यान रख सकते हैं। आइए आपको बताते हैं रीढ़ की हड्डी को मजबूत बनाने के तरीके। 

रीढ़ की हड्डी को कैसे बनाएं मजबूत और फ्लेक्सिबल?

सोते समय रीढ़ की हड्डी को दें पूरा आराम 

सोते समय या फिर लेटते समय अपनी रीढ़ की हड्डी को पूरी तरह से आराम दें। दरअसल, रीढ़ की हड्डी आपके लिए पूरे दिन कार्य करती है। ऐसे में सोते समय भी अगर आप इसे आराम की मुद्रा में नहीं रखते हैं, तो इससे कई परेशानियां हो सकती हैं। इससे धीरे-धीरे रीढ़ की हड्डी कमजोर होसकती है। रीढ़को आराम देने के लिए आप अच्छे गद्दे और तकिए का इस्तेमाल करें।

इसे भी पढ़ें - रीढ़ की हड्डी के निचले हिस्से में दर्द से हैं परेशान, तो राहत पाने के लिए करें ये 4 एक्सरसाइज

नियमित रूप से करें कोर एक्सरसाइज 

रीढ़ की हड्डी को मजबूत और स्वस्थ बनाए रखने के लिए नियमित रूप से कोर एक्सरसाइज करें। इससे आपकी मांसपेशियां टोन होती हैं। साथ ही यह रीढ़ की हड्डी को फ्लेसिबल और मजबूत बनाए रखने में आपकी मदद कर सकता है। 

रीढ़ को स्वस्थ रखने के लिए अच्छे जूते पहनना भी है जरूरी

रीढ़ की हड्डी को स्वस्थ रखने में जूते का अहम योगदान रहता है। दरअसल, आपके द्वारा पहने जाने वाले जूते आपकी पीठ के निचले हिस्से को सहारा देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। ऐसे में अगर जूते का बेस अच्छा न हो, तो इसका असर आपकी कमर और पीठ पर पड़ता है। इसलिए ध्यान रखें कि हमेशा एड़ियों को आराम देने वाले जूते पहनें। तंग जूतों से दूरी बनाएं।

नियमित रूप से पीठ की कराएं मालिश

मसाज शरीर को आराम देने के लिए किया जाता है। इससे शरीर में ब्लड फ्लो बेहतर तरीके से हो सकता है। इससे आपके पीठ की मांसपेशियों को आराम मिलता है। इसलिए नियमित रूप से पीठ की मसाज करें। यह रीढ़ की हड्डियों को स्वस्थ और फ्लेक्सिबल रखने के लिए जरूरी होता है। 

लंबे समय तक एक पोजीशन में न बैठें

खड़े होने की तुलना में बैठने पर रीढ़ की डिस्क परलोड पड़ता है। इसलिए लंबे समय तक एक जगह या एक पोजीशन बैठने से पीठ में दर्द की स्थिति पैदा हो सकती है या बढ़ सकती है। इसके अलावा जब आप लंबे समय तक डेस्क पर बैठते हैं या कंप्यूटर पर काम करते हैं, तो डिस्क पर और भी अधिक जोर पड़ता है। ऐसे में रीढ़ की हड्डी में परेशानी हो सकती है। इसलिए कोशिश करें कि बीच-बीच में थोड़ी देर के लिए खड़े हो जाएं। इसके अलावा बैठने के लिए हमेशा आरामदायक कुर्सी का चुनाव करें।

रीढ़ की हड्डी शरीर का महत्वपूर्ण हिस्सा है। इसके माध्यम से ही आप अच्छे से खड़े हो पाते हैं और चल पाते हैं। इसलिए कोशिश करें कि रीढ़ की हड्डी को स्वस्थ और फ्लेसिबल बनाए रखें।

 

Disclaimer